वाराणसी में तैनात दारोगा के घर लाखों की चोरी

नगर से सटे मखदूमपुर में शनिवार की रात चोरों ने वाराणसी के रामनगर स्थित 36 वीं बटालियन में तैनात दारोगा बंसत चौहान के घर से सटीक मुखबिरी के चलते 50 हजार नकद समेत लाखों के गहने चोरों ने उड़ा दिए।

JagranPublish:Sun, 07 Feb 2021 05:55 PM (IST) Updated:Sun, 07 Feb 2021 05:55 PM (IST)
वाराणसी में तैनात दारोगा के घर लाखों की चोरी
वाराणसी में तैनात दारोगा के घर लाखों की चोरी

- रात में ही मौके पर पहुंच गई थी पुलिस, फोरेंसिक व डाग स्क्वायड की टीम ने की पड़ताल

- 36वीं बटालियन पीएसी रामनगर में उपनिरीक्षक हैं गृहस्वामी

- घोसी कस्बा के मखदूमपुर स्थित मकान को चोरों ने खंगाला

जागरण संवाददाता, घोसी (मऊ) : नगर से सटे मखदूमपुर में शनिवार की रात चोरों ने वाराणसी के रामनगर स्थित 36 वीं बटालियन में तैनात दारोगा बंसत चौहान के घर से सटीक मुखबिरी के चलते 50 हजार नकद समेत लाखों के गहने चोरों ने उड़ा दिए। पीड़ित परिवार को रात में लगभग एक बजे घटना की जानकारी हुई जब एक सदस्य लघुशंका के लिए उठा। रात में ही पुलिस मौके पर पहुंची पर चोर चंपत हो चुके थे। बाद में फोरेसिक एवं डाग स्क्वायड की टीमें पहुंचकर जांच पड़ताल में जुट गईं।

मखदूमपुर निवासी बसंत चौहान की इन दिनों अयोध्या में ड्यूटी लगी हुई हैं। घर पर उनका पुत्र अभिमन्यु अपनी मां, पत्नी एवं बेटे के साथ रहता है। शनिवार की रात किसी समय चोर दीवार के सहारे छत पर पहुंचे। सीढ़ी वाले कमरे में दरवाजा न होने के चलते आसानी से नीचे पहुंच गए। चोरों ने घर में सो रहे लोगों के कमरे का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया। चोर किसी अन्य कमरे की बजाय सीधे उस कमरे में पहुंचे जिसमें जेवरात एवं नकदी रखे थे।

चोरों ने कमरे में रखा ब्रीफकेस उठा ले गए जो सुबह खाली सिवान में फेंका मिला। उसमें से गहने एवं नकदी आदि गायब थे जबकि चोरों ने उसमें रखे कागजातों को हाथ नहीं लगाया।

रात में एक बजे अभिमन्यु का पुत्र नैतिक लघुशंका के लिए उठा तो दरवाजा बाहर से बंद मिला। उसने शोर मचाया। शोर सुनकर अभिमन्यु भी जगे पर उनके कमरे का भी दरवाजा बाहर से बंद था। अभिमन्यु ने पुलिस वैन 112 को सूचित किया। मौके पर पहुंची पीआरवी टीम ने बाहर से बंद कमरों को खोला। रात में ही मौके पर कोतवाल कुमुदशेखर सिंह भी पहुंच गए। पुलिस ने चोरों के आने-जाने के निशान के सहारे काफी हाथ पांव मारा पर उनका सुराग नहीं मिला। बाद में डागस्क्वायड एवं फोरेसिक टीम भी पहुंची, हालांकि कोई ठोस जानकारी न मिल सकी है।