करणी सेना के जिलाध्यक्ष की गिरफ्तारी के लिए राजमार्ग जाम

करणी सेना के जिलाध्यक्ष की गिरफ्तारी के लिए राजमार्ग जाम

जागरण संवाददाता मऊ करणी सेना के जिलाध्यक्ष व समर्थकों द्वारा पिछले दिनों सपा पिछड़ा वर्ग प्र

JagranTue, 09 Feb 2021 07:19 PM (IST)

जागरण संवाददाता, मऊ : करणी सेना के जिलाध्यक्ष व समर्थकों द्वारा पिछले दिनों सपा पिछड़ा वर्ग प्रदेश सचिव के साथ हुई मारपीट का मामला अब तूल पकड़ने लगा है। मंगलवार को चौहान स्वाभिमान संघर्ष समिति के बैनर तले करणी सेना के जिलाध्यक्ष की गिरफ्तारी के लिए सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शनकारी कलेक्ट्रेट पहुंचे। यहां चारों तरफ पुलिस की पहरेदारी देख बुनकर कालोनी लौटे। यहां प्रदर्शन कर गुस्साएं प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर जाम लगा दिया। इससे राजमार्ग के दोनों तरफ वाहनों के पहिए थम गए। इस दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच तीखी झड़प हुई। लगभग दो घंटे बाद किसी तरह पुलिस धरना-प्रदर्शन समाप्त करा पाने में कामयाब हुई। इसके पूर्व जिला मुख्यालय के पहले ही कई जगह प्रदर्शन में शामिल होने आ रहे चौहान समाज के लोगों को पुलिस ने रोक दिया।

चौहान समाज द्वारा आयोजित धरने में शामिल होने के पूर्व ही सुबह जनवादी पार्टी के प्रदेश सचिव एवं जिले के कार्यकर्ताओं को उनके आवास पर ही पुलिस ने नजरबंद कर दिया। इसके साथ ही भीटी ओवरब्रिज के पास ही कई लोगों को पुलिस ने रोक दिया। यहां आक्रोशितों ने क्षेत्राधिकारी को पत्रक सौंपा। कलेक्ट्रेट में सैकड़ों की संख्या में चौहान समाज के लोग पहुंचे। यहां पहले से ही पुलिस की तैनाती थी। पुलिस ने परमिशन न होने का हवाला देकर लौटा दिया। इसके बाद आक्रोशित बुनकर कालोनी पहुंचे और धरना-प्रदर्शन करने लगे। इस दौरान उनके नेताओं ने संबोधित भी किया। बार-बार अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन नाथ त्रिपाठी परमिशन न होने का हवाला देते हुए धरना समाप्त करने की अपील करते रहे परंतु उन पर कोई असर नहीं हुआ। इसी दौरान गुस्साए लोगों ने राष्ट्रीय राजमार्ग को जाम कर दिया। इस पर पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करते हुए हटाया।

====

उम्मनपुर बार्डर पर रोके गए प्रदर्शनकारी

वलीदपुर : आजमगढ़ जनपद से मऊ कलेक्ट्रेट जा रहे दर्जनों प्रदर्शनकारियों को मुहम्मदाबाद गोहना कोतवाली के उम्मनपुर बार्डर पर पुलिस ने रोक दिया। इससे आक्रोशित लोगों ने जमकर विरोध प्रदर्शन करते हुए सीओ को ज्ञापन सौंपा। कलेक्ट्रेट परिसर में सपा नेता महेंद्र चौहान के साथ करणी सेना के पदाधिकारियों से हुई मारपीट के मामले को लेकर जनपद भर के चौहान समाज के लोगों का धरना-प्रदर्शन आयोजित था। इसे लेकर पुलिस प्रशासन की काफी सतर्कता रही। कोतवाली के धौरहरा घाट व उम्मनपुर बार्डर पर प्रदर्शकारियों को रोकने के लिए पुलिस बल तैनात किए गए थे। इसकी कमान खुद क्षेत्राधिकारी नंदलाल, कोतवाली प्रभारी नीरज कुमार पाठक संभाले हुए थे। अधिकारी बॉर्डर पर जमे हुए थे कि इसी बीच आजमगढ़ जनपद से चौहान समाज के दर्जनों लोगों का एक जनसमूह मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन में शामिल होने के लिए जा रहा था। इन लोगों को पुलिस प्रशासन ने बॉर्डर पर ही रोक दिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.