चार युवाओं की मौत से दहल उठा जिला

चार युवाओं की मौत से दहल उठा जिला

पूरे दिन पोस्टमार्टम हाउस पर जुटी रही भीड़ - जिसने भी सुना दौड़ पड़ा पोस्टमार्टम हाउस की ओर - सभी राजनीतिक दलों के दिग्गजों का लगा रहा जमावड़ा

JagranTue, 11 Dec 2018 06:24 PM (IST)

जागरण संवाददाता, मऊ : मंगलवार की सुबह जैसे ही पहसा में हुई कार दुर्घटना में चार युवकों के मौत की खबर जनपदवासियों मिली, हर कोई दहल उठा। चारों युवकों में से तीन के छात्र राजनीति एवं सामाजिक जीवन में सक्रिय होने के नाते मौत की सूचना मिलते ही हर कोई जिला अस्पताल स्थित पोस्टमार्टम हाउस की ओर दौड़ पड़ा। पोस्टमार्टम हाउस पर पूरे दिन लोगों की भीड़ जुटी रही। इसमें लगभग सभी राजनीतिक दलों के लोग शुमार थे। जिला अस्पताल का प्रांगण जिले भर से आए राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं एवं विभिन्न छात्र संगठनों से जुड़े छात्रनेताओं से भर गया।

पोस्टमार्टम हाउस पर अपने लाडलों का शव देख जहां परिजनों के विलाप से कठोर से कठोर हृदय भी कांप जा रहा था, वहीं पीड़ित परिजनों का ढांढस बंधाने की हिम्मत भी लोग मुश्किल से कर पा रहे थे। पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचने वालों में जहां नगर पालिकाध्यक्ष तैयब पालकी, समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष धर्मप्रकाश यादव, एमएलसी रामजतन राजभर, महासचिव कुद्दूस अंसारी, बसपा नेता संजय सागर, पूर्व जिला पंचायत सदस्य रमायन यादव, समाजवादी छात्र सभा के जिलाध्यक्ष दिलीप पांडेय, चंद्रा पब्लिक स्कूल के प्रबंधक विजय बहादुर पाल आदि मौजूद थे, वहीं भारतीय जनता पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष सुनील गुप्ता सहित पार्टी के अनेक कार्यकर्ता पीड़ित परिजनों को सांत्वना दे रहे थे। कांग्रेस, बसपा, भासपा सहित अनेक राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता व पदाधिकारी पोस्टमार्टम हाउस पर देर तक जमे रहे। इनसेट--

शोकसभा के बाद बंद कर दिया गया डीसीएसके

मऊ : डीसीएसके के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष प्रत्याशी रविकांत यादव ¨टकू एवं संदीप ¨सह बीरू अब डीसीएसके के छात्र नहीं थे, लेकिन छात्रसंघ राजनीति में दोनों की सक्रियता किसी न किसी रूप में बनी हुई थी। इसके चलते डीसीएसके पीजी कालेज के प्राचार्य व प्राध्यापकों से उनका लगाव और जुड़ाव पूर्ववत बना हुआ था। चारों की कार दुर्घटना में मौत की खबर मिलते ही डीसीएसके के प्राचार्य डा.एके मिश्रा ने प्रांगण में शोकसभा आयोजित किया। जिसमें कालेज परिवार के सभी प्राध्यापकों-कर्मचारियों तथा छात्रों ने गतात्मा की शांति के लिए प्रार्थना किया। इसके बाद कालेज में पठन-पाठन स्थगित कर दिया गया। प्राचार्य डा.एके मिश्रा ने बताया कि कालेज प्रशासन की ओर से एक प्रतिनिधिमंडल पूर्व छात्रों के परिजनों से मिलेगा एवं यथासंभव कालेज प्रशासन की ओर से आर्थिक सहायता का भी प्रयास किया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.