आरक्षण सूची चस्पा होते ही विकास भवन पर उमड़े लोग

आरक्षण सूची चस्पा होते ही विकास भवन पर उमड़े लोग

पंचायत चुनाव के मद्देनजर आरक्षण सूची चस्पा होते ही लोगों का हुजूम उमड़।

JagranWed, 03 Mar 2021 08:09 PM (IST)

जागरण संवाददाता, मऊ : पंचायत चुनाव के मद्देनजर आरक्षण सूची चस्पा होते ही लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। आधी रात को विकास भवन में आरक्षण की सूची चस्पा की गई। इसके बाद रात में ही मोबाइल फोन की लाइट के सहारे सूची देखने वालों का तांता लग गया। यही नहीं सुबह होते ही विकास भवन में लगी सूची को देखने वालों की मारामारी की स्थिति रही। इसके ब्लाक मुख्यालयों पर भी सूची चस्पा की गई है। यहां भी भावी प्रत्याशी अपने-अपने क्षेत्र की सूची देखने में मशगूल रहे। इस दौरान कुछ को निराशा हाथ लगी तो कुछ खुशी से झूम उठे। हालांकि विकास भवन में मंगलवार की दोपहर ही सूची वायरल हो गई थी। इसके बाद देर रात को प्रशासन ने सूची जारी की।

----------------

आरक्षण के मकड़जाल में उलझे प्रमुख पद के दावेदार

मधुबन : पंचायत चुनाव के लिए जारी हुई आरक्षण सूची ने फतहपुर मंडाव और दोहरीघाट क्षेत्र पंचायत के प्रमुख पद के कई दावेदारों के मंसूबे पर पानी फेर दिया है। आरक्षण के मकड़जाल में उलझकर वह अब मूल निवास के वार्ड को छोड़कर दूसरे वार्ड की तलाश करते हुए निवर्तमान प्रधानों के भरोसे अपनी नाव पार लगाने की जुगत में लगे हैं। फतहपुर मंडाव और दोहरीघाट क्षेत्र पंचायत सामान्य होने की पूर्व में वायरल हुई सूची को आधार बनाकर प्रमुख पद के दावेदार अपने ही वार्ड से सदस्य क्षेत्र पंचायत का चुनाव लड़ने की तैयारी में जोर-शोर से जुटे हुए थे। अधिकांश गांव वाले भी उनके प्रमुख बनने की आस लेकर समर्थन कर रहे थे, लेकिन मंगलवार को आरक्षण सूची के जारी हो गया। इसमें दोनों क्षेत्र पंचायत के प्रमुख का पद तो सामान्य था लेकिन प्रमुख पद के कुछ दावेदारों के मंसूबे पर पानी फेर दिया है। उनके खुद के वार्ड के गैर जाति के लिए आरक्षित होने के बाद उनकी डगर मुश्किल हो गई है। अब वह विकास खंड क्षेत्र के दूसरे ऐसे वार्ड की तलाश में जुटे हैं जो उनके लिए सुरक्षित हो।

------------------ ब्लाक में प्रधानी दावेदारों की चहल-पहल बढ़ी

मुहम्मदाबाद गोहना : पंचायत चुनाव की आरक्षण सूची प्रकाशन होने की सूचना पर बुधवार को ब्लाक मुख्यालय पर प्रधानी दावेदारों एवं अन्य लोगों की भीड़ लगी रही। सूची चस्पा होने के बाद लोग अपने-अपने क्षेत्र के आरक्षण पर नजर गड़ाए रहे। इसमें कुछ के चेहरे उदास थे तो कुछ खिलखिला रहे थे। कुल मिलाकर दिनभर बब्लाक मुख्यालय पर चहल पहल रही। ब्लाक में कुल 83 ग्राम पंचायत है। इसमें 27 सीट अनारक्षित, 15 सीटे पिछड़ा वर्ग, 12 सीट अनुसूचित जाति, 7 सीट अनुसूचित जाति महिला, एक सीट अनुसूचित जनजाति, एक सीट अनुसूचित जनजाति महिला, आठ सीटें पिछड़ा वर्ग महिला व 12 सीट महिला है।

आरक्षण न होने से मायूसी

मंगलवार को दिन में ही लगभग तीन बजे से सोशल मीडिया पर तैर रही आरक्षण सूची को देख भावी उम्मीदवारों की उम्मीदों के ध्वस्त होने लगे थे। रात में जब आधिकारिक सूची प्रकाशित हुई तो चुनावी गंगा में डुबकी लगाने की हसरत पाले जनता की गणेश परिक्रमा करने वालों की इच्छा के अनुरूप सीटों का आरक्षण न होने से उनके हाथ मायूसी लगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.