तीन जिलों के 4000 बुनकरों को मिलेगा बिजली सब्सिडी का लाभ

तीन जिलों के 4000 बुनकरों को मिलेगा बिजली सब्सिडी का लाभ

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने घरेलू बिजली का उपभोग करने वाले बुनकरों के लिए हथकरघा बुनकर उपयोगी विद्युत बिल छूट योजना लागू की है।

Publish Date:Sun, 24 Jan 2021 10:16 PM (IST) Author: Jagran

अनिल मिश्र,आजमगढ़: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने घरेलू बिजली का उपभोग करने वाले बुनकरों के लिए हथकरघा बुनकर उपयोगी विद्युत बिल छूट योजना लागू की है। योजना के लाभ के लिए सरकार ने हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग विभाग को पांच करोड़ रुपये जारी की है। नई योजना का लाभ सूबे के लगभग 12 हजार, 700 बुनकरों को मिलेगा, जिसमें आजमगढ़, मऊ व गाजीपुर के 4000 बुनकर लाभांवित होंगे। विभाग की तरफ से चिह्नित तीनों जिलों के चिह्नित बुनकरों की बैठक बुलाई गई है, जिसमें संबंधित लाभार्थी बुनकरों के खाता, आधार कार्ड व आइएफसी कोड की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाएगी।

प्रदेश सरकार की वित्तीय वर्ष 2020-21 की योजना के लाभ से आजमगढ़ के 3600, मऊ के 80 और गाजीपुर के 320 सहित कुल 4000 घरेलू बिजली का उपभोग करने वाले बुनकर आच्छादित होंगे। इसमें प्रति वर्ष तीन हजार, 960 रुपये प्रति बुनकर अनुदान दिया जाएगा। अनुदान की धनराशि सीधे चयनित लाभार्थियों के खातों में फरवरी तक भेज दी जाएगी। योजना के क्रियान्वयन के लिए बुनकरों के खातों की विभिन्न कमियों को दूर करने के लिए हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग विभाग के अधिकारी व कर्मचारी सत्यापन में लगे हैं।

मुबारकपुर विपणन केंद्र में 27 को बैठक

योजना के लाभ के लिए 27 जनवरी को दिन में दो बजे मुबारकपुर स्थित बुनकर विपणन केंद्र में बुनकर समितियों के सभापतियों के साथ बैठक होगी, जिसमें हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग विभाग के अधिकारी शामिल होंगे। इस दौरान संबंधित बुनकरों के बैंक खातों से संबंधित कमियों को दूर करने की कवायद की की जाएगी।

वर्जन

फोटो-15-सी.।

''योजना के लाभ के लिए प्रदेश सरकार ने विभाग को अनुदान की धनराशि जारी कर दी है। आजमगढ़, मऊ व गाजीपुर के घरेलू बिजली का उपभोग करने वाले बुनकरों के खातों में फरवरी तक निर्धारित धनराशि पहुंच जाएगी। बैंक खाता संबंधी कमियों को दूर करने की प्रक्रिया चल रही है, जिसे जल्द ही विभाग को भेज दिया जाएगा।

-अरविद सिंह, सहायक आयुक्त, हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग, मऊ।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.