रोशन विहार कालोनी की बदहाली, खरंजा न नाली

नगर निगम के वार्ड नंबर पांच में रोशन विहार कालोनी के वांशिदे अब नाली और खड़ंजा निर्माण की मांग को लेकर चक्कर लगाते-लगाते थक चुके हैं बावजूद इसके समाधान नहीं हुआ है। घरों का पानी गलियों में जमा हैं लोग कीचड़ से होकर निकलने को मजबूर हैं।

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 05:01 AM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 05:01 AM (IST)
रोशन विहार कालोनी की बदहाली, खरंजा न नाली
रोशन विहार कालोनी की बदहाली, खरंजा न नाली

संवाद सूत्र, महावन: नगर निगम के वार्ड नंबर पांच में रोशन विहार कालोनी के वांशिदे अब नाली और खड़ंजा निर्माण की मांग को लेकर चक्कर लगाते-लगाते थक चुके हैं, बावजूद इसके समाधान नहीं हुआ है। घरों का पानी गलियों में जमा हैं, लोग कीचड़ से होकर निकलने को मजबूर हैं।

रविवार को दैनिक जागरण की टीम रोशन विहार पहुंची। जहां देखा कि आम आदमी को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कालोनी के लोग खारे पानी की समस्या से भी जूझ रहे हैं। मजबूरन उन्हें मीठा पानी खरीदकर पीना पड़ रहा है। सीवर लाइन डाली तो गई लेकिन अब तक यह चालू नहीं हो सकी। सीवर लाइन के चेंबर ऊंचे बना दिए जाने से रास्ते भी अवरूद्ध हो गए हैं। क्षेत्रीय अधिकारी लगातार नगर निगम अधिकारियों को शिकायत दर्ज करा रहे हैं, लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है। इससे कालोनी के लोगों में आक्रोश पनप रहा है। रोशन विहार कालोनी की गलियों में खड़ंजा नहीं बनने से यहां कीचड़ जमा हो रही है, जिससे लोगों का निकालना मुश्किल हो जाता है। कई बार शिकायत भी की गई है, लेकिन किसी अधिकारी ने कोई सुनवाई नहीं की।

बबलू, स्थानीय निवासी।

कालोनी में सीवर लाइन का निर्माण कराया गया है, लेकिन उसे अब तक चालू नहीं किया है। वहीं, कुछ सीवर लाइन के चैंबर को ऊंचा उठा दिया गया है, जिससे आवागमन में लोगों को दिक्कत होने लगी है।

सत्यदेव सारस्वत, स्थानीय निवासी। कालोनी में नालियों का निर्माण नहीं कराया गया है, जिससे घरों का पानी गलियों में भरा रहता है। यहां कीचड़ का अंबार बना हुआ है, सफाई कराए जाने की आवश्यकता है।

उमेश कुमार, स्थानीय निवासी। कालोनी में कोई विकास कार्य नहीं कराया गया है। चुनाव के समय सभी विकास कार्यों का खाका तैयार कर लोगों से वोट मांगते हैं, लेकिन कालोनी के लोगों की समस्याओं को नजर अंदाज कर दिया जाता है।

लालाराम, स्थानीय निवासी।