504 पद 100 से अधिकआपत्तियां

जिले के 4883 युवाओं ने किया है आवेदन ब्लाक स्तर पर समितियों का हुआ गठन अंतिम सूची जारी होने में लगेगा समय

JagranSat, 18 Sep 2021 06:01 AM (IST)
504 पद 100 से अधिकआपत्तियां

जागरण संवाददाता, मथुरा: हर ग्राम पंचायत में मिनी सचिवालय संचालन के लिए पंचायत सहायक की तैनाती होनी है। इसके लिए पंचायत स्तर से सूची को अंतिम रूप दिया गया है। पंचायतों में दूसरे स्थान के आवेदनकर्ताओं ने आपत्ति दर्ज कराते हुए ग्राम प्रधान और सचिव पर भेदभाव का आरोप लगाया है। डीपीआरओ को दर्ज कराई गई शिकायतों के बाद डीएम ने ब्लाक स्तर पर समितियों का गठन कर दिया है, जो शिकायतों का निस्तारण करेंगे। इसके बाद जिला स्तर की समिति सत्यापन करेगी। ऐसे में पंचायत सहायक की अंतिम सूची जारी होने में समय लग सकता है।

जिले में 504 ग्राम पंचायत हैं। इन ग्राम पंचायतों में 504 पंचायत सहायक की तैनाती होनी है। पिछले दिनों जिले के 4883 युवाओं ने पंचायत सहायक पद के लिए आवेदन किया था। इनका चयन ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत सचिव को मेरिट के आधार पर करना है। अधिकांश पंचायतों ने अपने यहां के पंचायत सहायक का चयन भी कर लिया है। हालांकि अंतिम मुहर जिला स्तरीय समिति की लगनी है, लेकिन उससे पहले ही जिले की अलग-अलग पंचायतों में सौ से अधिक युवाओं ने आपत्तियां दर्ज कराई हैं। इनमें ग्राम प्रधान और पंचायत सचिव पर पक्षपात का आरोप लगाया गया है। डीपीआरओ को दर्ज कराई गई शिकायतों के बाद डीएम नवनीत सिंह चहल ने ब्लाक स्तर पर कमेटियों का गठन कर दिया है। अब ब्लाक स्तर पर ही आपत्तियों का निस्तारण किया जा रहा है। इसके बाद जिला स्तर पर गठित समिति भी एक-एक आपत्ति को गंभीरता से ले रही है। - वर्जन -

पंचायत सहायक की तैनाती पूरी पारदर्शिता के साथ होगी। इसके लिए पहले ब्लाक स्तर पर शिकायतों का निस्तारण किया जा रहा है। इसके बाद जिला स्तर पर गठित समिति भी एक-एक शिकायत का परीक्षण कर रही है। किसी भी आवेदनकर्ता के साथ नाइंसाफी नहीं होगी।

किरन चौधरी, डीपीआरओ

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.