अब ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचा कोरोना वायरस, मिल रहे संक्रमित मरीज

अब ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचा कोरोना वायरस, मिल रहे संक्रमित मरीज

पंचायत चुनाव के बाद एक साथ बढ़ रही मरीजों की संख्या 150 से अधिक गांव में अब तक कोरोना दे चुका है दस्तक

JagranWed, 12 May 2021 05:17 AM (IST)

जागरण संवाददाता, मथुरा: पंचायत चुनाव के बाद अब ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण बढ़ गया है। अभी तक वृंदावन में सबसे अधिक संक्रमित मरीज मिल रहे थे, लेकिन अब वृंदावन और शहर की तुलना में ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक संक्रमित मिल रहे हैं। जिले में करीब 150 से अधिक गांव ऐसे हैं, जहां कोरोना वायरस अपनी न केवल दस्तक दे चुका है, बल्कि यहां जांच कराने वाले अधिकांश लोग संक्रमित मिल रहे हैं।

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का रुख अब ग्रामीण क्षेत्रों की ओर हो गया है। इसको ध्यान में रखते हुए पंचायत अधिकारियों ने ग्रामीण क्षेत्रों में सैनिटाजेशन का कार्य शुरू करा दिया है। कई गांव में तो संक्रमण की वजह से कई लोगों की मौत हो चुकी है, लेकिन ग्रामीण है कि अभी भी जांच को लेकर गंभीर नहीं है। अधिकांश गांव में बुखार के मरीज हैं। एक-एक घर में कई-कई लोगों को बुखार आ चुका है, लेकिन कोरोना की जांच को लेकर लापरवाही बरते हुए हैं। जिसकी वजह से अब ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना वायरस सक्रिय हो गया है। इससे पहले पंचायत चुनाव को लेकर भी जगह-जगह लोगों की भीड़ जुट रही है। यहां सर्दी, बुखार को पूरी तरह से नजर अंदाज किया गया। जिसकी वजह से अब अधिकांश गांव में संक्रमित मरीजों की पुष्टि होना शुरू हो गई है। - यहां पर मिल चुके हैं संक्रमित मरीज-

राया के नगला जंगली, सुनहरा, सोनई, लोहवन, नगला हरि, नगला अर्जुन, कटेला, गुड़ेरा, कोयल, सारस, मनीनाबालू, खरबा, मीर, बिचपुरी, बिरहाना, सिहोरा आदि गांव में संक्रमित मरीज मिल चुके हैं।

फरह के रैपुराजाट, मिर्जापुर, जमालपुर, विसू धानातेजा, बेरी, बबूरी, चुरमुरा, नगला मुन्नी, पींगरी, मखदूत, मलिकपुर आदि गांव में संक्रमित मरीजों की पुष्टि हो चुकी है।

नौहझील के बेरा, सुरीर, नौहझील, बाजना, खायरा, सुदामागढ़ी आदि गांव में संक्रमित मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। मांट के जावरा, आखराखेड़ा, दरबे, चौकड़ा, भीम, मांट, भद्रवन, हरनौल आदि गांव में संक्रमितों की पुष्टि हो चुकी है। ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक रूप से स्वच्छता तथा सैनिटाइजेशन का कार्य कराया जा रहा है। 215 गांव में तो विशेष अभियान चलाया गया है। ग्रामीणों को कोविड क‌र्फ्यू और मास्क के साथ शारीरिक दूरी का पालन करने के लिए जागरूक किया जा रहा है।

डा. प्रीतम सिंह, डीपीआरओ जिस गांव में छह से अधिक संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। उन गांव को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जा रहा है। हमारी टीम लगातार मरीजों की देखरेख कर रही हैं। ग्रामीणों से भी कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करने की अपील की जा रही है।

डा. रचना गुप्ता, सीएमओ

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.