दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

27 उम्मीदवार मैदान से हटे, 317 ही चुनावी जंग में

27 उम्मीदवार मैदान से हटे, 317 ही चुनावी जंग में

जिला पंचायत सदस्य के 27 उम्मीदवारों ने बुधवार को नाम वापस ले लिया। इसी तरह क्षेत्र पंचायत सदस्य और ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए भी उम्मीदवारों ने नाम वापसी की।

JagranThu, 22 Apr 2021 05:55 AM (IST)

जागरण संवाददाता, मथुरा: जिला पंचायत सदस्य के 27 उम्मीदवारों ने बुधवार को नाम वापस ले लिया। इसी तरह क्षेत्र पंचायत सदस्य और ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए भी उम्मीदवारों ने नाम वापसी की। अब जिला पंचायत सदस्य के 317 उम्मीदवार ही मैदान में रह गए हैं।

बुधवार को सुबह से ही कलक्ट्रेट स्थित जिलाधिकारी न्यायालय के बाहर उम्मीदवार और उनके समर्थकों की भीड़ जुटने लगी थी। दोपहर तीन बजे तक 27 उम्मीदवारों ने अपना नाम वापस लिया। अब जिले के 33 वार्ड में 317 उम्मीदवार रह गए हैं। इनमें से 184 पुरुष तथा 133 महिला उम्मीदवार शामिल हैं। आरओ मनोज त्रिपाठी ने बताया कि 350 उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल किया था। जिनमें से तीन का नामांकन पत्र खारिज हो गया था। बताते चले कि अब 29 अप्रैल को मतदान होगा।

कोई चलाएगा आरी, कोई दौड़ाएगा कार -

जिला पंचायत सदस्य, ग्राम पंचायत और बीडीसी पद के उम्मीदवारों को आरी, उगता सूरज, कप और प्लेट, कलम और दवात, कुल्हाड़ी, केतली, कैंची, क्रेन, खजूर का पेड़, गमला, गिटार, घुड़सवार, चश्मा, छड़ी, छाता, झोपड़ी, टाइपराइटर, टेलीफोन, टेलीविजन, ट्रैक्टर चुनाव चिन्ह आवंटित किए गए हैं।

दो महिला प्रत्याशी निर्विरोध बीडीसी घोषित

राया: विकास खंड राया के क्षेत्र पंचायत सदस्य के वार्ड संख्या 36 से पूर्व जिला पंचायत सदस्य चंचल चौधरी पत्नी मुकेश चौधरी व वार्ड संख्या दस से सावित्री देवी पत्नी गब्बर सिंह को चुनाव अधिकारी द्वारा निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया है। चंचल चौधरी के निर्विरोध होने पर समर्थकों ने राया के नेहरू पार्क पर फूल माला पहनाकर स्वागत किया। चुनाव अधिकारी डा. रामतेज यादव ने बताया कि वार्ड संख्या 36 से चंचल और वार्ड संख्या 10 से सावित्री देवी के अलावा अन्य किसी व्यक्ति ने नामांकन दाखिल नहीं किया था।

यहां इतने हुए नाम वापस

जिले के सभी दस विकास खंड पर भी बुधवार दोपहर तीन बजे तक ग्राम प्रधान, बीडीसी और ग्राम पंचायत सदस्य पद के उम्मीदवारों ने नामांकन वापस लिया। जिसके तहत फरह में ग्राम प्रधान के 125, बीडीसी के 58 और ग्राम पंचायत सदस्य के नौ नामांकन पत्र वापस लिए गए। बलदेव में प्रधान के 101, सदस्य के 37 और बीडीसी के 39 नामांकन पत्र वापस लिए गए। चौमुहां में प्रधान पद 117, बीडीसी के 32 और ग्राम पंचायत सदस्य के 12 नामांकन पत्र वापस लिए गए। प्रधान पद के उम्मीदवारों को बांट दिए बीडीसी के चुनाव चिन्ह

फरह। विकास खंड फरह में बुधवार को खिड़की नंबर चार पर ग्राम प्रधान प्रत्याशियों को गलती से बीडीसी के चुनाव चिन्ह आवंटित कर दिए गए। जानकारी होने पर गलती में सुधार किया गया। जिस पर ग्रामीणों ने हंगामा करना शुरू कर दिया।

बुधवार को फरह ब्लाक में नाम वापसी व चुनाव चिन्ह आवंटन का काम चल रहा था। उसी समय गलती से खिड़की संख्या चार पर न्याय पंचायत झुड़ावईं के गांव मलिकपुर, कवायला और बरोदा के प्रधान प्रत्याशियों को बीडीसी के चुनाव चिन्ह बांट दिए गए। उसके काफी देर बाद गलती का अहसास होने पर एआरओ ने प्रत्याशियों को घर से बुलाकर दोबारा सही चुनाव चिन्ह दिए। इस तरह की लापरवाही पर कुछ ग्रामीणों ने हंगामा भी किया। आरओ बचन सिंह ने बताया कि एआरओ से गलती हुई थी, जिसमें सुधार कर लिया गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.