मेयर साहब! पानी मांग रहे आपके पड़ोसी

मेयर के मुहल्ले की कई गलियों में नहीं पहुंच रहा पानीगरीबों को भी खरीदना पड़ रहा है पीने के लिए पानी

JagranThu, 29 Jul 2021 06:48 AM (IST)
मेयर साहब! पानी मांग रहे आपके पड़ोसी

जागरण संवाददाता, मथुरा: ये हकीकत सरकारी सिस्टम की बदइंतजामी बयां करती है, जिस बस्ती में मेयर का कैंप कार्यालय (आवास) है, उसी बस्ती के लोग महीनों से पानी के लिए तरस रहे हैं। मुहल्ले की कई गलियों में महीनों से पानी की भरपूर आपूर्ति नहीं हो पा रही है। एक समाजसेवी यहां टैंकर से पानी उपलब्ध करा रहे हैं। घरेलू कार्य के लिए गरीब पानी के लिए लाइन में लगते हैं।

नगर निगम के वार्ड चार में पेयजल का संकट कई वर्षों से है। पड़ोस में ही मेयर डा. मुकेश आर्यबंधु का आवास है। कभी महिला वतन तो कभी रूपवती मेयर के घर जाकर पानी की सप्लाई न होने की शिकायत करती हैं, लेकिन इसकी कोई व्यवस्था अब तक नहीं हो पाई है। मुहल्ले की ऊंटगली, रामगली, शंकर गली, तखेला गली, चंपा गली, भैंरो गली और बाल्मीकि बस्ती के लोगों को मनोहरपुरा पानी की टंकी से सप्लाई नहीं मिल पा रही है। कोई दस रुपये में पानी की एक कट्टी भरकर पीने के लिए ला रहा है तो किसी को दो ढाई किलोमीटर दूर लाला नवल किशोर नलकूप से पानी भर कर लाना पड़ा रहा है। 15-18 हजार की आबादी वाले इस क्षेत्र में करीब एक हजार मकान है। 14 स्थानों पर पानी के प्वाइंट हैं, उन पर पानी आने के लिए क्षेत्रीय लोग टकटकी लगाकर देखते रहते हैं। तीन घंटे तक लगातार सप्लाई मिले, तब लोगों की पूर्ति होती है। चार दिन बाद रात को तीन बजे आधे घंटे की सप्लाई ही मिल पाई। जो जाग रहे थे, वे पानी के बर्तन भर लाए, कुछ लोग सोते ही रह गए। वे दिन भर पीने के लिए पानी को तरसते रहे। पीने के लिए यहां के लोग बस्ती में ही स्थित आरओ प्लांट से पानी खरीदकर ला रहे हैं। उधर,समाजसेवी प्रमोद गर्ग कसेरे ने प्रभावित इलाकों में टैंकर से पानी की आपूर्ति करा रहे हैं। -उनकी बस्ती में पानी की कोई समस्या नहीं है। सबमर्सिबल से पानी उपलब्ध कराया जा रहा है। कुछ लोग विरोधी हैं, जो हंगामा कर रहे हैं। पानी की आपूर्ति टैंकर से कराई जा रही है।

-डा. मुकेश आर्यबंधु मेयर। -पानी की सप्लाई का कार्य जल निगम का है। वह गंगाजल की पाइप लाइन जोड़ रहा है। इसलिए पानी की आपूर्ति बाधित हो रही है। आज सुबह से विद्युत आपूर्ति न होने के कारण सप्लाई नहीं हो सकी है।

- राधेश्याम, कार्यवाहक महाप्रबंधक, जलकल - भूमिगत पानी खारी होने के कारण मेयर और नगर आयुक्त से क्षेत्र में आरओ प्लांट लगवाने की मांग की गई है। मगर, अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई है।

माला माहौर, पार्षद

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.