बारिश में बिजली संकट गहराया तो निगरानी को निकले अधिकारी

बारिश के बाद ट्रिपिग की समस्या गहराई तो अधिकारियों की भी नींद उड़ गई। दे

JagranSat, 24 Jul 2021 04:07 AM (IST)
बारिश में बिजली संकट गहराया तो निगरानी को निकले अधिकारी

जासं, मैनपुरी: बारिश के बाद ट्रिपिग की समस्या गहराई तो अधिकारियों की भी नींद उड़ गई। देर रात तक जिले भर में उपकेंद्रों की पड़ताल करा ओवरलोडिग और फाल्ट की वजह तलाशी गई। बिजली चोरों और बकाएदारों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।

बारिश ने उमस भरी गर्मी से भले ही राहत दिलाई हो, लेकिन बिजली विभाग की परेशानियां बढ़ा दीं। कई जगहों पर बारिश की वजह से फाल्ट और ट्रिपिग की समस्या हुई, जिसकी वजह से देर तक बिजली सप्लाई ठप रही। अचानक हुए फाल्ट को दुरुस्त करने और खामियों को तलाशने के लिए विभागीय अधिकारियों द्वारा देर रात तक उपकेंद्रों पर मशीनों की पड़ताल की जाती रही। अधीक्षण अभियंता अतुल अग्रवाल ने उपकेंद्र किशनी और चौराईपुर में पहुंचकर उपखंड कार्यालय की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि किशनी क्षेत्र में कई बकाएदार हैं। इन सभी के कनेक्शन काटते हुए कार्रवाई कराई जाएगी।

अधिशासी अभियंता परीक्षण खंड ओमप्रकाश ने नगला जुला, उपखंड अधिकारी रजत शुक्ला ने उपकेंद्र करहल और सिमरऊ, अवर अभियंता जयदयाल ने उपकेंद्र असरोही, उपखंड अधिकारी नरेंद्र वर्मा ने अधिक लाइन लास वाले फीडर भोगांव और पड़ु़आ रोड पर कनेक्शनों की जांच कराई। अधिशासी अभियंता आशीष गुप्ता ने भोगांव कस्बा व ग्रामीण क्षेत्रों में फीडरों की पड़ताल कर वहां की स्थिति का जायजा लिया। उपखंड अधिकारी दिलीप भारती ने कोसमा, उपखंड अधिकारी सत्यनारायण सिंह ने किशनी और उपखंड अधिकारी एंद्र कुमार ने सिविल लाइन ग्रामीण उपकेंद्र का निरीक्षण किया।

अधीक्षण अभियंता का कहना है कि सभी अपने-अपने तैनाती वाले फीडरों पर बिजली चोरी पर अंकुश लगाएं। बगैर भुगतान के जो भी बिजली जला रहे हैं उनके कनेक्शन काटे जाएं और कार्रवाई कराई जाए। जिन ट्रांसफारमरों में समस्या आ रही है यदि उनकी मरम्मत नहीं हो पा रही तो उन्हें बदलकर दूसरे स्थापित कराए जाएं। बारिश में फाल्ट और ट्रिपिग की समस्या नहीं होनी चाहिए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.