सर्दी संग ट्रांसफारमरों की ओर मुडे़ चोर, तेल कर रहे चोरी

सर्दी आते ही चोर भी सक्रिय हो गए हैं लेकिन इस बार निशाना सूना घर नहीं बल्कि सूनसान इलाकों में रखे ट्रांसफारमर बन रहे हैं। 10 दिनों में जिले के तीन ट्रांसफारमरों से तेल चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया जा चुका है। तीनों मामलों में अज्ञात लोगों के खिलाफ थानों में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

JagranSun, 28 Nov 2021 05:30 AM (IST)
सर्दी संग ट्रांसफारमरों की ओर मुडे़ चोर, तेल कर रहे चोरी

जासं, मैनपुरी : सर्दी आते ही चोर भी सक्रिय हो गए हैं, लेकिन इस बार निशाना सूना घर नहीं बल्कि सूनसान इलाकों में रखे ट्रांसफारमर बन रहे हैं। 10 दिनों में जिले के तीन ट्रांसफारमरों से तेल चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया जा चुका है। तीनों मामलों में अज्ञात लोगों के खिलाफ थानों में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

भले ही बिजली विभाग हाइटेक हुआ हो, लेकिन खामियां चोरों के लिए माहौल बनाने लगी हैं। ट्रांसफारमरों से तेल चोरी की तीन घटनाएं सामने आई है। शहर में ट्रांजिट हास्टल के पास पुरानी पुलिस चौकी के नजदीक रखे ट्रांसफारमर और ट्रांजिट हास्टल के ठीक सामने हिदपुरम कालोनी के मोड़ पर रखे ट्रांसफारमर से अज्ञात चोरों द्वारा 17 और 18 नवंबर को तेल चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया गया था। जबकि इसी सप्ताह कस्बा करहल में एक ट्रांसफारमर से तेल चोरी जा चुका है। तीनों मामलों में लाइनमैन की सूचना पर अवर अभियंताओं द्वारा संबंधित थानों में अज्ञात चोरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। विभागीय जानकारी के अनुसार पिछले साल पांच ऐसे मामले सामने आए थे।

ऐसे देते हैं घटनाओं को अंजाम

विभाग की पेट्रोलिग टीम का कहना है कि इन ट्रांसफारमरों में नोजल नीचे तल की ओर स्थित था, जिसकी वजह से चोरों ने नोजल को खोल लिया। सर्दी होने के कारण ट्रांसफारमरों पर लोड बेहद कम है। इसके कारण न तो ट्रांसफारमर गर्म होते हैं और न ही उनमें पड़ा तेल। चोरों द्वारा नोजल में किसी पाइप की मदद से तेल को आसानी से निकालकर चोरी की घटना को अंजाम दिया गया था। लोड कम होने के कारण तेल न होने के बावजूद तीन से चार घंटों तक सप्लाई पर असर नहीं पड़ा। जब बिजली फाल्ट हुआ और सप्लाई बंद हुई, तब इसकी जानकारी हो सकी थी। अब बढ़ाई गई है निगरानी

अधीक्षण अभियंता अतुल अग्रवाल का कहना है कि सभी लाइन स्टाफ और पेट्रोलिग पार्टियों को निर्देश दिए गए हैं कि अपनी-अपनी ड्यूटी के समय में निरंतर गश्त करते रहें। ज्यादातर ट्रांसफारमरों में नोजल ऊपर की ओर ही हैं। कुछ ही ऐसे हैं जिनमें नोजल तल पर हैं। इनकी सुरक्षा और देखरेख के लिए जिम्मेदारी तय कर दी गई है। यदि कहीं भी सूचना मिलती है तो स्थानीय पुलिस की मदद भी ली जाएगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.