अलर्ट था महकमा, टल गई बड़ी वारदात

दन्नाहार थाना से सवा किमी दूर चोरों ने एचटी लाइन के तार काटे। पुलिस की भनक लगते ही तार छोड़कर चोर भाग गए। विद्युत अधिकारियों ने रात में ही सप्लाई चालू करा दी।

JagranThu, 20 May 2021 05:00 AM (IST)
अलर्ट था महकमा, टल गई बड़ी वारदात

जासं, मैनपुरी: अज्ञात चोरों ने एक बार फिर से बिजली विभाग को अपना निशाना बनाने की कोशिश की। दन्नाहार थाना से सवा किमी दूर एचटी लाइन के तारों में फाल्ट कर चोरी की जा रही थी। विभागीय की सजगता और पुलिस की तत्परता से बड़ी घटना टल गई। पुलिस की भनक लगते ही चोर काटे गए तार के बंडलों को छोड़कर फरार हो गए। आधी रात को ही विभागीय टीमों ने नए तार डालकर लाइन को चालू कर दिया।

मंगलवार की रात 11:22 बजे अवर अभियंता नारायण सिंह द्वारा अधिशासी अभियंता तृतीय जीसीएल भटनागर को फोन पर सूचना दी गई कि कुचेला उपकेंद्र की 33 केवी लाइन ब्रेक की जा रही है। सप्लाई तो जाती है, लेकिन उपकेंद्र तक पहुंचते ही ट्रिप हो जाती है। अवर अभियंता द्वारा रास्ते में कहीं बड़ी लाइन को चोरी किए जाने की संभावना जताई गई। तत्काल बिजली विभाग के अधिकारियों ने डायल 112 पर सूचना देने के साथ दन्नाहार पुलिस से संपर्क साधा। रात को ही ब्रेकडाउन तलाशने के लिए बिजली विभाग की तीन टीमों को अलग-अलग इलाकों के लिए रवाना कर दिया गया।

पट्रोलिग के दौरान दन्नाहार थाना से लगभग 1.2 किमी दूर गांव सीतापुर में सड़क किनारे बिजली के तार कटे हुए मिले। समय पर पहुंची पुलिस ने भी विभागीय टीमों की मदद से तलाशी अभियान चलाया। पुलिस की आहट पाकर चोर तार छोड़कर फरार हो गए। रात लगभग 2:30 बजे नए तार डालकर लाइन को चालू कर दिया गया। अधीक्षण अभियंता अतुल अग्रवाल का कहना है कि इस संबंध में वे अब पुलिस अधीक्षक से भी संपर्क करेंगे, ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं पर काबू पाया जा सके। चोरों के निशाने पर दन्नाहार थाना क्षेत्र

बिजली के तार चोरी करने वाले गिरोह के निशाने पर लंबे समय से दन्नाहार थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाला इलाका ही बना हुआ है। इसी साल सर्दियों के मौसम में चोरों ने बिजली विभाग के वेयर हाउस को निशाना बनाया था, जहां से लूट की बड़ी वारदात को अंजाम दिया था। दो दिन पहले कांकन में लगभग दो किमी लंबे एरिया से बिजली के तार चोरी कर लिए गए। इससे पहले भी चोरी के प्रयास किए जा चुके हैं। रात 12 से तीन बजे तक रहें अलर्ट

अधीक्षण अभियंता अतुल अग्रवाल ने सभी विभागीय टीमों को अलर्ट करते हुए कहा है कि अक्सर चोरी की घटनाएं रात 12 से तीन बजे के बीच ही हो रही हैं। ऐसे में टीमों को अलर्ट रहना होगा। जैसे ही लाइन ट्रिप होती है सभी आपस में संपर्क साधें। ट्रिपिग को हल्के में न लें। यदि चोरी का अंदेशा है तो बिना देर किए पुलिस से संपर्क साधें। पट्रोलिग टीमें रात को भी गश्त करती रहें।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.