फुहारों से मिली राहत, तापमान भी गिरा

मौसम का मिजाज खुशगवार होने लगा है। आसमान से गिरी फुहारों से तापमान भी नीचे आ गया है इससे नागरिकों को राहत मिली है। जिले में बारिश का क्रम चलने से किसानों के चेहरों पर भी रौनक लौट आई है अब धान रोपाई के साथ ही खरीफ फसलों की बोआई का काम भी तेज होगा।

JagranThu, 29 Jul 2021 03:30 AM (IST)
फुहारों से मिली राहत, तापमान भी गिरा

जासं, मैनपुरी : मौसम का मिजाज खुशगवार होने लगा है। आसमान से गिरी फुहारों से तापमान भी नीचे आ गया है, इससे नागरिकों को राहत मिली है। जिले में बारिश का क्रम चलने से किसानों के चेहरों पर भी रौनक लौट आई है, अब धान रोपाई के साथ ही खरीफ फसलों की बोआई का काम भी तेज होगा।

बुधवार को मौसम का मिजाज एक बार फिर पलट गया। सुबह से ही आसमान पर काले बादलों के डेरा डालने से शहर में रिमझिम फुहारें गिरने लगीं। यह क्रम काफी देर तक चलता रहा। दोपहर को बादल साफ होते ही धूप निकल आई, लेकिन कुछ देर बाद बादल छाने से मौसम बदल गया और रिमझिम शुरू हो गई। मौसम के ऐसे रंग से अधिकतम तापमान भी 29 डिग्री सेल्सियस पर आ गया, जबकि न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस पर दिखाई दिया। वैसे, मौसम विभाग ने जिले में भारी बारिश की चेतावनी दी है। खेती का काम पकड़ेगा गति

मौसम में आए बदलाव से किसान राहत में है। तापमान में आई गिरावट से अब धान रोपाई का काम गति पकड़ेगा। वहीं, खरीफ फसलों की बोआई भी गति पकड़ेगी। पेड़ की डाल गिरने से टिनशेड टूटा

शहर के मुहल्ला आजाद नगर निवासी विनोद कुमार मजदूरी कर परिवार का भरण-पोषण करते हैं। उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। वे टिनशेड डालकर परिवार सहित गुजारा कर रहे हैं। उनके घर के पास ही एक पेड़ खड़ा है। बुधवार सुबह पेड़ की मोटी डाली टूटकर उनके टिनशेड से बने घर के ऊपर गिर गई। इससे टिनशेड टूट गया। दीवारें भी क्षतिग्रस्त हो गई। घटना के समय परिवार के लोग बाहर थे, इसलिए कोई घायल नहीं हआ। मुहल्ले के लोगों ने पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता दिलाए जाने की मांग की है। करहल में हुई बारिश

संसू, करहल : कस्बा और ग्रामीण क्षेत्र में बुधवार सुबह से ही पानी बरसना शुरू हो गया था। कभी हल्की, कभी तेज बारिश से काफी राहत भी मिली। आसमान पर बादलों के छाए रहने से सुबह से ही सूर्य नारायण के भी दर्शन नहीं हुए हैं। उमस भरी गर्मी से लोगों को सुकून मिला है। बारिश की वजह से कस्बा की सड़कों पर काफी देर तक पानी भरा नजर आया। पानी बरसने से खेतों में रोपाई तेज हो गई है। किसान लवकुश यादव का कहना है कि इसी तरह अगर दो-चार दिन पानी बरस गया तो क्षेत्र का किसान खेतों में धान की रोपाई कर लेगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.