घरों में पढ़ी रमजान के आखिरी जुमे की नमाज

घरों में पढ़ी रमजान के आखिरी जुमे की नमाज

भोगांव में जामा मस्जिद में रमजान के आखिरी जुमे की नमाज अदा की गई। करहल कुरावली और घिरोर में घरों में नमाज पढ़ी गई।

JagranSat, 08 May 2021 06:01 AM (IST)

जागरण टीम, मैनपुरी: कोरोना बंदिशों की वजह से रमजान के आखिरी जुमे की नमाज घरों में ही पढ़ी गई। जामा मस्जिद में कम संख्या में आए नमाजियों ने नमाज अदा की। शहर के अलावा भोगांव, घिरोर, कुरावली और करहल में भी जुमा अलविदा की नमाज अदा की गई।

भोगांव में शुक्रवार शाम को आखिरी जुमे की नमाज अदा की गई। जामा मस्जिद में गिने चुने लोगों ने ही नमाज अदा की। इस दौरान जामा मस्जिद इमाम मौलाना खालिद रजा नूरी भावुक भी हो गए। जामा मस्जिद में कोरोना वायरस संक्रमण के चलते पहली बार इस कदर सन्नाटा देखकर जामा मस्जिद इमाम की आंखे नम हो गईं। इस दौरान शारीरिक दूरी का पूरी तरह से पालन किया गया। कस्बा के गुल•ार मास्टर, समाजसेवी अहमद अली, आरिफ अली, चेयरमैन प्रतिनिधि अकबर कुरैशी, सभासद आफताब कुरैशी, तौसीफ खान, अहसान मेंबर, शहरोज आदिल खान, सभासद शकील मिर्जा, इमरान जावेज खान, अयाज मंसूरी, अफसर नवा•ा खां, जमील कुरैशी, कुंवर आदिल खान, यूसुफ पठान, इमरान चौधरी, इरफान चौधरी, मुस्तफा चांद, सैफ रजा ने भी घरों में रह कर नमाज अता की और देश में अमन चैन की दुआ मांगी। करहल में घर पर ही पढ़ी नमाज

करहल: कस्बा की जामा मस्जिद सहित किसी भी मस्जिद में जुमा अलविदा की नमाज शुक्रवार को नहीं पढ़ी गई। रमजान के महीने में अल विदाई जुमा का बहुत ही महत्व माना जाता है। रमजान के महीने के अंतिम शुक्रवार को जुमा अलविदा कहा जाता है। जामा मस्जिद के मुतवल्ली मोहम्मद शरीफ अंसारी ने बताया कि कोरोना महामारी की वजह से सरकार की गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए रोजेदारों से घरों पर ही नमाज पढ़ने का एलान कर दिया था। गत वर्ष भी रमजान के महीने में कोरोना महामारी की वजह से मस्जिदों में सामूहिक अलविदा जुमा सहित किसी भी जुमे की नमाज मस्जिदों में नहीं पढ़ी गई थी।

कुरावली में शुक्रवार को सात मस्जिदों में पुलिस की कड़ी सुरक्षा के बीच प्रोटोकाल के तहत अलविदा जुमा की नमाज अदा कराई गई। अधिकांश मुसलमान ने घरों में ही नमाज अदा की।

शुक्रवार को अलविदा जुमा पर इंस्पेक्टर देवेंद्र नाथ मिश्रा, वरिष्ठ उपनिरीक्षक सुखबीर सिंह, उपनिरीक्षक अजय सिंह मलिक ने पुलिस कर्मियों के साथ नगर के गल्ला मंडी स्थित जामा मस्जिद, मुहल्ला पठानान मस्जिद, सराय मस्जिद, कुरैशियां मस्जिद, नालबंद मस्जिद, तकिया मस्जिद, कुंवरपुर मस्जिद का निरीक्षण करते हुए लोगों कोघरों में ही नमाज अदा करने के निर्देश दिए।

घिरोर में अलविदा की नमाज घरों में पढ़ी गई। कुछ लोग जानकारी के अभाव में जामा मस्जिद पर पहुंचे, जिन्हें वहां मौजूद इमाम ने कोरोना गाइडलाइन का वास्ता देकर वापस भेज दिया मस्जिदों में केवल पांच नमाजियों को ही इमाम द्वारा नमाज अदा कराई गई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.