सूबे में समर्थन जुटाने को निकाली राजनीतिक अधिकार यात्रा

आज शिकोहाबाद पहुंचेगी परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष बोले- अब वैश्य वंधु अपने हक के लिए नहीं फैलाएंगे झोली

JagranPublish:Mon, 06 Dec 2021 06:40 AM (IST) Updated:Mon, 06 Dec 2021 06:40 AM (IST)
सूबे में समर्थन जुटाने को निकाली राजनीतिक अधिकार यात्रा
सूबे में समर्थन जुटाने को निकाली राजनीतिक अधिकार यात्रा

जासं, मैनपुरी: विधानसभा चुनाव से पहले वैश्य बंधुओं ने हुंकार भरी। सूबे के सभी जिलों से होकर लखनऊ पहुंचने वाली राजनीतिक अधिकार यात्रा का आगाज रविवार को जिले से कर दिया गया। सैकड़ों वैश्य बंधुओं की मौजूदगी में यात्रा को रवाना किया गया।

अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद द्वारा वैश्यों के अधिकारों की बात करते हुए शहर के क्रिश्चियन मैदान से राजनीतिक अधिकार यात्रा को परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. सुमंत गुप्ता ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इससे पूर्व यहां आसपास के जिलों से आए वैश्य बंधुओं को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि वैश्य बंधुओं का आज तक सभी राजनीतिक दलों द्वारा सिर्फ उपयोग किया गया है। उनके अधिकार की बात आते ही सभी दल किनारा करते रहे हैं। यूपी में अच्छी संख्या होने के बावजूद हमें राजनीति में स्थान नहीं दिया गया। अब प्रदेश के वैश्य अपने हक को मांगने के लिए झोली नहीं फैलाएंगे।

राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष आलोक गुप्ता ने कहा कि यह यात्रा निश्चित ही बडे़ बदलाव की शुरुआत करेगी। यात्रा का मुख्य उद्देश्य प्रदेश भर के वैश्य बंधुओं को एकजुट कर उन्हें उनकी ताकत का अहसास कराना है। राजनीतिक दलों को यह समझना होगा कि वैश्य समाज किसी पर भी आश्रित नहीं है। इससे पूर्व अन्य पदाधिकारियों ने भी गोष्ठी को संबोधित किया। बाद में झंडी दिखाकर रथ को वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ शिकोहाबाद के लिए रवाना कर दिया। सोमवार को यात्रा शिकोहाबाद पहुंचेगी।

इस मौके पर राष्ट्रीय महामंत्री सुरेश चंद्र बंसल, प्रदेश महासचिव ट्रेडर्स केके गुप्ता, अरुण गुप्ता राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ट्रेडर्स, अनिल अग्रवाल, घनश्यामदास गुप्ता प्रदेश महासचिव, डा. राकेश गुप्ता, सरितकांत भाटिया, अशोक गुप्ता जिलाध्यक्ष, ज्ञानप्रकाश गुप्ता, आराधना गुप्ता, सुनीति भाटिया चेयरमैन, अमित गुप्ता, संजय जैन, सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित थे। सुरक्षा के रहे इंतजाम

राजनीतिक कार्यक्रम को देखते हुए सुरक्षा के भी पुख्ता प्रबंध कराए गए थे। स्टेशन रोड स्थित क्रिश्चियन मैदान के मुख्य द्वार से ही वाहनों के आने की अनुमति दी गई थी। यातायात व्यवस्था बाधित न हो, इसके लिए यात्रा को स्टेशन रोड, भांवत चौराहा से होते हुए रेलवे स्टेशन रोड, करहल चौराहा, आगरा रोड से सिधिया तिराहा तक पहुंचाया गया। शाम होने की वजह से यात्रा को आगरा रोड स्थित एसबीआरएल स्कूल में रात्रि विश्राम के लिए रोका गया।