बिजली कटौती से मचा हाहाकार, उड़ी नींद

जिले में ध्वस्त हुआ बिजली विभाग का सिस्टम रुक-रुककर आठ से 10 घंटों की हो रही कटौती हर कोई हुआ परेशान

JagranThu, 24 Jun 2021 06:44 AM (IST)
बिजली कटौती से मचा हाहाकार, उड़ी नींद

जासं, मैनपुरी: सप्ताह भर से बिजली कटौती की मार से हर कोई परेशान हो गया है। जिले में विभागीय सिस्टम ध्वस्त पड़ा हुआ है। सप्लाई लाइनों में होने वाले फाल्ट पर भी काबू में नहीं आ रहे हैं। उमस भरी गर्मी में बिजली गुल होने से लोगों को पसीना बहाना पड़ रहा है। चार दिनों से आठ से 10 घंटों की कटौती हो रही है।

जिले में विद्युत संकट गहरा गया है। 20 जून से बिगड़ी स्थिति अभी तक सुधरने का नाम नहीं ले रही है। मंगलवार की रात आठ बजे से गुल हुई बिजली रात 11:40 बजे सुचारू हो सकी, वह भी कुछ इलाकों में। शहर के मुहल्ला कटरा, आवास विकास कालोनी, आश्रम रोड, देवी रोड, करहल रोड, देवपुरा, अवध नगर, बैंक कालोनी और राधा रमन रोड पर कई जगहों पर रात 12 बजे के बाद बिजली आई। स्थिति यह है कि उमस भरी गर्मी में बिजली कटौती के कारण लोगों का बुरा हाल हो गया। सबसे ज्यादा परेशानी उन लोगों को हो रही है जो कोविड संक्रमण की वजह से होम आइसोलेशन में हैं। शहर में पावर हाउस और सिविल लाउन उपकेंद्र से पोषित फीडरों की स्थिति सबसे ज्यादा खराब है। इनकी वजह से बढ़ी समस्या

बिजली विभाग द्वारा सामान्य उपभोक्ताओं के घरों में तो बिजली चेकिग कराई जा रही है, लेकिन खुले पडे़ कनेक्शन बाक्सों को बंद कराने पर कोई ध्यान नहीं है। इन बाक्सों से कटिया डालकर बेल्डिग और शो-रूम संचालकों द्वारा बिजली चोरी की जा रही है। कई ब्यूटी पार्लर, सैलून, अन्य शो-रूम, बेल्डिग शाप आदि में तो कनेक्शन ही नहीं हैं। ये सभी बाक्स से कटिया डालकर बिजली जला रहे हैं। बेल्डिग दुकानों में तो हैवी मशीनों का इस्तेमाल होता है, जिसकी वजह से लोड बढ़ता है। हर बार फाल्ट का बहाना बनाकर पल्ला झाड़ना विभागीय नाकामी को साबित करता है। जिन जगहों पर फाल्ट सबसे ज्यादा होते हैं वहां बेहतर व्यवस्था कराने में विभाग ध्यान क्यों नहीं दे रहा है।

साधना गुप्ता, पूर्व चेयरमैन। बिजली कटौती की वजह से पूरा कारोबार ही चौपट हो गया है। मशीनों का संचालन नहीं हो पा रहा है। प्रतिदिन रात होते ही ट्रिपिग की समस्या शुरू हो जाती है। जबकि रात में तो सभी बाजार और दुकानें भी बंद हो जाती हैं।

पल्लव जैन, कारोबारी। मंगलवार की रात आठ बजे से आश्रम रोड की लाइट बंद थी। लगातार फोन करने के बावजूद विभागीय अधिकारियों द्वारा फोन रिसीव नहीं किए गए। देर रात 12 बजे के बाद बिजली चालू हो सकी है।

कमल शर्मा, आश्रम रोड। करहल रोड की भी यही स्थिति है। हर रोज बिजली कटौती हो रही है। विभाग प्रतिदिन फाल्ट की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ लेता है। आखिर इतने फाल्ट हो रहे हैं तो उस खामी को दुरुस्त कराया जाए।

अमर गुप्ता, करहल रोड। शहर के फीडरों पर ओवरलोडिग सबसे ज्यादा है। मंगलवार की रात आवास विकास कालोनी और करहल रोड पर ओवरलोडिग की वजह से लाइन में फाल्ट हुआ था। सोमवार को भी आवास विकास में एलटी लाइन में फाल्ट हुआ था। उपभोक्ता भी सहयोग नहीं कर रहे हैं। यदि बिजली की चोरी रुक जाए तो स्थिति बेहतर हो जाएगी। फिर भी यदि कहीं समस्या है तो लोग बताएं, उसे दूर कराया जाएगा।

मागेंद्र अग्रवाल, अधिशासी अभियंता।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.