प्रेमी ने की थी युवती की हत्या, गिरफ्तार

प्रेमी ने की थी युवती की हत्या, गिरफ्तार

मैनपुरी जासं। थाना एलाऊ क्षेत्र में तीन दिन पहले युवती की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पकड़े गए आरोपित ने गुनाह कबूला। पुलिस ने तमंचा बरामद कर लिया है। काल डिटेल से घटना के राज खुल गए हैं। ़़़़़़़़़़़़़़़

JagranSat, 20 Mar 2021 04:15 AM (IST)

जासं, मैनपुरी: थाना एलाऊ क्षेत्र में तीन दिन पहले युवती की गोली मारकर की गई हत्या की घटना का पुलिस ने राजफाश कर दिया। इस घटना को नामजद आरोपितों ने नहीं, बल्कि गाव के ही उसके प्रेमी ने घटना को अंजाम दिया था। उसकी युवती के साथ गहरी दोस्ती थी। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

थाना क्षेत्र के एक गाव की युवती 17 मार्च की सुबह शौच के लिए खेत पर गई थी, तभी उसकी कनपटी पर गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतका के भाई ने संदेह के आधार पर गाव के रोजगार सेवक और उसके भाई शिक्षक के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई गई थी।

एसपी अविनाश पाडेय ने बताया कि घटना की जाच शुरू हुई तो नामजद आरोपितों के खिलाफ कोई साक्ष्य नहीं मिला, इसलिए अन्य पहलुओं पर जाच शुरू हुई। घटना का राजफाश करने के लिए सीओ सिटी अभय नारायण राय के नेतृत्व में स्वाट और सíवलास सहित चार टीमें बनाई गई। सíवलास के जरिए पुलिस को अहम सुराग मिलने शुरू हो गए। युवती के मोबाइल फोन की काल डिटेल से पता चला कि गाव का निवासी अजब सिंह उससे काफी बात करता था। अजब सिंह की तलाश हुई तो वह गायब था। इससे पुलिस के शक की सुई उसकी की तरफ घूम गई। जाच में पता चला कि अजब सिंह अपनी ससुराल फर्रुखाबाद में है। गुरुवार रात इंस्पेक्टर एलाऊ सुरेश चंद्र शर्मा पूछताछ के लिए उसे थाने ले आए। पहले तो उसने पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया, लेकिन बाद में पुलिस के सवालों में उलझ गया।

पुलिस ने सख्ती बरती तो उसने घटना कबूल कर ली। अजब सिंह ने स्वीकार किया कि उसी ने नाराज होकर युवती की हत्या की है। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने घटना में प्रयुक्त बाइक और तमंचा बरामद कर लिया है। आरोपित को जेल भेजा गया है। ऐसे उतारा मौत के घाट

अजब सिंह ने बताया कि सुबह साढ़े पाच बजे उसने मैसेज कर युवती को मिलने खेत पर बुलाया और वह भी सिंचाई के बहाने बाइक से पहुंच गया। कुछ देर में युवती आ गई। उसने मंगेतर से फोन पर बात न करने को कहा, लेकिन वह मानने को तैयार न हुई। फिर उसने युवती की कनपटी पर तमंचा लगाकर धमकी दी। युवती फिर भी नहीं मानी तो गोली चला दी। मंगेतर से बात करने से नाराज था आरोपित

पकड़े गए अजब सिंह ने बताया कि करीब चार साल से उसकी युवती के साथ दोस्ती थी। फोन पर काफी देर तक बात करते थे। इसी बीच युवती का विवाह तय हो गया तो वह फोन पर अपने मंगेतर से बात करने लगी। उसका मोबाइल फोन व्यस्त रहने लगा। यह बात अजब सिंह को पसंद नहीं आ रही थी। उसने युवती को मंगेतर से बात न करने की हिदायत भी दी थी। दो बच्चों का पिता है आरोपित

अजब सिंह दो बच्चों का पिता है। उसने युवती के स्वजन के साथ अच्छे संबंध बना लिए थे। युवती के घर भी आना-जाना था। युवक के शादीशुदा होने पर युवती के स्वजन को आरोपित पर संदेह नहीं हुआ। इसी आड़ में वह लगातार युवती से मिलता-जुलता रहा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.