इस भीड़ से भला कैसे दूर रहेगा कोरोना

कोरोना को लेकर पूरे देश में अलर्ट है लेकिन मैनपुरी बेफिक्र है। जिले में एक साथ पांच लोगों में कोरोना की पुष्टि होने के बावजूद सुरक्षा और सतर्कता को लेकर कोई कदम नहीं उठाया गया है। दफ्तरों से लेकर अस्पताल और बाजारों में बेकाबू भीड़ नियमों को ताक पर रखकर चल रही है।

JagranSun, 05 Dec 2021 04:30 AM (IST)
इस भीड़ से भला कैसे दूर रहेगा कोरोना

जासं, मैनपुरी : कोरोना को लेकर पूरे देश में अलर्ट है, लेकिन मैनपुरी बेफिक्र है। जिले में एक साथ पांच लोगों में कोरोना की पुष्टि होने के बावजूद सुरक्षा और सतर्कता को लेकर कोई कदम नहीं उठाया गया है। दफ्तरों से लेकर अस्पताल और बाजारों में बेकाबू भीड़ नियमों को ताक पर रखकर चल रही है।

शहर से सटे क्षेत्र में संचालित सैनिक स्कूल में शुक्रवार को कैंपस में पांच लोग कोरोना पाजिटिव मिले थे। इनकी दोबारा पुष्टि के लिए आरटी-पीसीआर सैंपलों को आगरा की लैब में भेजा गया है। जिले में वायरस की दस्तक के बावजूद शनिवार को सब बेफिक्र दिखे। सीएमओ कार्यालय परिसर में फार्मासिस्ट के धरने में दो-चार लोग ही मास्क लगाकर बैठे मिले। इनके बीच शारीरिक दूरी का ख्याल भी नहीं रखा गया था।

जिला अस्पताल का हाल तो और ज्यादा खराब था। यहां एक टेबल पर रिकार्डिंग के जरिए मरीजों से मास्क की अपील तो की जाती है, लेकिन बिना मास्क वालों को रोकने के कोई प्रबंध नहीं हैं। इमरजेंसी से लेकर इनडोर के वार्डों तक मरीज और तीमारदार सभी बेफिक्र घूमते रहे। बाजारों का हाल तो और भी बुरा रहा। भीड़ के बीच पैर रखने की भी जगह नहीं दिख रही थी। लोग नियमों का उल्लंघन करते रहे। अधिकारी और चिकित्सक ही तोड़ रहे नियम

कोविड प्रोटोकाल का पालन जिले के अधिकारी और डाक्टर ही नहीं कर रहे हैं। शहर में ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मी बिना मास्क के लोगों के बीच रहते हैं। अस्पतालों में डाक्टर, स्टाफ नर्स सभी मास्क से दूरी बना रहे हैं। शासन के निर्देश के बावजूद जिम्मेदार कोविड प्रोटोकाल के उल्लंघन से बाज नहीं आ रहे हैं।

अधूरी तैयारियां, खोखले दावे

शासन के आदेश हैं कि रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर ज्यादा सख्ती की जाए, लेकिन शहर के रोडवेज बस स्टैंड पर कोई सतर्कता नहीं दिखती। यहां एक लैब तकनीशियन को बैठाया तो गया है, लेकिन सवारियों को वहां तक पहुंचाने के लिए जिम्मेदार परिवहन विभाग अनदेखी कर रहा है। यहां भी कोविड जांच के नाम पर औपचारिकता बरती जा रही है। एआरएम के स्तर से कोई प्रयास नहीं कराए गए हैं।

कोरोना से बचने के लिए प्रोटोकाल का पालन करना ही होगा। मास्क और शारीरिक दूरी से ही वायरस को दूर रखा जा सकता है। लोगों से अपील की गई है कि वे मास्क का इस्तेमाल करें।

डा. पीपी सिंह, सीएमओ।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.