ओटीएस में जिला फेल, सिर्फ 17 फीसद वसूली

अंतिम दिन मंगलवार शाम चार बजे तक 30886 ने लिया लाभ जिले में 182348 बकाएदार

JagranWed, 01 Dec 2021 06:46 AM (IST)
ओटीएस में जिला फेल, सिर्फ 17 फीसद वसूली

जासं, मैनपुरी: ओटीएस के लक्ष्य को प्राप्त करने में जिला असफल साबित हुआ। 30 दिन के अभियान में मात्र 17 फीसद बकाएदारों ने ही योजना में रुचि दिखाते हुए धनराशि जमा कराई है। 182348 बकाएदारों में से मात्र 30886 लोगों ने ही बकाया धनराशि जमा की।

बकाएदारों को राहत देने के लिए शासन स्तर से ओटीएस का संचालन किया जा रहा था। मंगलवार को योजना की अंतिम तिथि होने की वजह से विभाग द्वारा अतिरिक्त प्रबंध कराए गए थे। उम्मीद थी कि लोगों की भीड़ उमड़ेगी। ऐसे में काउंटरों की संख्या भी बढ़ाई गई थी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। सोमवार की शाम चार बजे तक 30886 उपभोक्ता द्वारा ही अपनी उपस्थिति दर्ज कराकर योजना के तहत धनराशि जमा कराई गई।

जिले में 182348 बकाएदारों को चिन्हित करते हुए शासन द्वारा वसूली के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया था। इन सभी पर 171 करोड़ रुपये की बकाएदारी थी। अंतिम तिथि तक विभागीय खजाने में सिर्फ 13.50 करोड़ रुपये ही जमा हो सके। मात्र 17 फीसद लोगों ने ही योजना में रुचि दिखाते हुए बकाया धनराशि जमा कराई है। ये रही जिले की स्थिति

- डिवीजन-1 में 12320 बकाएदारों में से 6600 लोगों द्वारा चार करोड़ रुपये जमा कराए गए।

- डिवीजन-2 में 89200 बकाएदारों में से 10703 ने ही योजना में रुचि ली और 2.20 करोड़ रुपये जमा कराए।

- डिवीजन-3 में 80828 बकाएदारों में से 13583 ने 5.30 करोड़ रुपये जमा कराए। बकाएदारों के खिलाफ अब डिस्कनेक्शन और मीटर उखाड़ने की कार्रवाई कराई जाएगी। सभी अधीनस्थ अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश दिए गए हैं कि वे बकाएदारों की सूची तैयार कर उनके खिलाफ कार्रवाई कराएं।

अतुल अग्रवाल, अधीक्षण अभियंता

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.