व्यापारियों को हक के लिए संगठित होकर लड़नी होगी लड़ाई

जासं मैनपुरी बुधवार को रेडीमेड कपड़ा एसोसिएशन ने शहर के घंटाघर के पास चित्रगुप्त

JagranWed, 29 Sep 2021 05:06 AM (IST)
व्यापारियों को हक के लिए संगठित होकर लड़नी होगी लड़ाई

जासं, मैनपुरी: बुधवार को रेडीमेड कपड़ा एसोसिएशन ने शहर के घंटाघर के पास चित्रगुप्त इंटर कालेज के पुराने भवन में सम्मान समारोह आयोजित किया। जिसमें उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के नवनिर्वाचित जिलाध्यक्ष धीरू राठौर और पदाधिकारियों का सम्मान किया। इस मौके पर व्यापारियों से हक की लड़ाई के लिए संगठित होकर काम करने का आह्वान किया गया।

संगठन के जिलाध्यक्ष धीरू राठौर ने व्यापारियों को संबोधित करते हुए कहा कि व्यापारी समाज ही सबसे ज्यादा टैक्स देता है, लेकिन असंगठित होने के कारण अपना हक नहीं पाता। कोरोना संक्रमण काल में व्यापारी समाज ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। निशुल्क अनाज और भोजन का वितरण किया, आक्सीजन की कमी के समय आक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराने का काम भी इसी समाज ने निश्शुल्क किया। इस मौके पर रेडीमेड कपड़ा एसोसिएशन के अध्यक्ष दीपक अरोड़ा, महामंत्री देवेंद्र चावला, कोषाध्यक्ष मोहम्मद नईम ने जिलाध्यक्ष का स्वागत किया।

कार्यक्रम में बजाजा बाजार एसोसिएशन के अध्यक्ष सुमंत जैन, कपड़ा बाजार एसोसिएशन के अध्यक्ष अक्षय जैन, नगर कोषाध्यक्ष राजेश गुप्ता, कमलेश, विनीत जैन, संजीव चौहान, राहुल वर्मा, दीपक गुप्ता, राधा मोहन पांडे, संतोष भारद्वाज, मुकुल अग्रवाल, नीटू, चमन जैन, प्रशांत जैन आदि व्यापारी मौजूद रहे। डायल-112 पुलिस टीम पर लगा मारपीट का आरोप: कुसमरा चौकी क्षेत्र के गांव जवापुर में घरेलू मकान के बंटवारे को लेकर पिता-पुत्र में हुए विवाद की सूचना पर पहुंची डायल-112 की पुलिस टीम आरोप में घिर गई है। टीम द्वारा युवक और युवती की पिटाई किए जाने के आरोप का वीडियो वायरल हुआ है, हालांकि उसमें ऐसा कुछ नजर नहीं आ रहा है।

कुसमरा पुलिस चौकी क्षेत्र के गांव जवापुर में मकान को लेकर सूरज पाल और उसके पुत्र प्रभुदयाल में मंगलवार दोपहर में विवाद हो गया। सूरजपाल ने इसकी सूचना डायल 112 नंबर पर दी। इसके बाद पुलिस पुलिस टीम गांव पहुंचीं। सूरजपाल का आरोप था कि प्रभु दयाल ने उनको घर से निकाल दिया और मारपीट की। इसके बाद पुलिस ने प्रभुदयाल को हिरासत में लिया। इसी दौरान वीडियो बनाया गया।

वहीं प्रभुदयाल की पुत्री डौली ने आरोप लगाया कि पुलिस ने उसके पिता के साथ मारपीट की, जब वह बचाने गई तो उसके साथ भी पिटाई की गई। चौकी इंचार्ज धर्मेन्द्र कुमार ने बताया कि पिता और पुत्र के बीच मकान के बंटवारे को लेकर विवाद था। मारपीट के आरोप की जानकारी नहीं है। जांच की जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.