टीका लगवाने के बाद आफिस में निपटाया काम

टीका लगवाने के बाद आफिस में निपटाया काम

मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में तैनात कायाकल्प योजना के मैनेजर डा. संतोष ओझा ने टीका लगवाने के बाद आफिस में घंटों काम निपटाया फिर खुद कार ड्राइव कर गोरखपुर पहुंचे। वहीं पोस्टमार्टम आफिस में तैनात फार्मासिस्ट आनंद पटेल ने भी टीका लगवाने के बाद रोज की तरह अपना दायित्व निभाया।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 12:01 AM (IST) Author: Jagran

महराजगंज: मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में तैनात कायाकल्प योजना के मैनेजर डा. संतोष ओझा ने टीका लगवाने के बाद आफिस में घंटों काम निपटाया फिर खुद कार ड्राइव कर गोरखपुर पहुंचे। वहीं पोस्टमार्टम आफिस में तैनात फार्मासिस्ट आनंद पटेल ने भी टीका लगवाने के बाद रोज की तरह अपना दायित्व निभाया। इसके बाद घर पहुंचकर स्वजन के साथ समय गुजारा।

डा. संतोष ओझा ने बताया कि हमें अपने वैज्ञानिकों पर भरोसा है। टीका लगवाकर इस टीके के प्रमाणिक होने का सबूत दिया हूं। टीका लगने के बाद किसी तरह की परेशानी नहीं है। आफिस में आकर काम निपटाया हूं। इसके बाद सात बजे खुद कार ड्राइव कर घर पहुंचा। रास्ते में भी किसी प्रकार की दिक्कत नहीं हुई। पहले से अच्छा महसूस हो रहा है। सभी को टीका लगवाना चाहिए।

फार्मासिस्ट आनंद पटेल ने कहा कि टीका लगवाने के बाद किसी प्रकार का असहज नहीं महसूस कर रहा हूं। घुघली, फरेंदा व बृजमनगंज क्षेत्र से आए एक-एक शव का पोस्टमार्टम भी कराया हूं। कोरोना वैक्सीन को लेकर सुबह जल्दी बाजी में पेपर नहीं पढ़ पाया था, इसलिए घर पहुंचने पर शाम को फुर्सत के क्षण में अपना प्रिय अखबार दैनिक जागरण पढ़ा हूं। सभी को कोरोना से बचाव का टीका लगवाना चाहिए।

जिले में दो और कोरोना संक्रमित

महराजगंज: जिले में शनिवार को 1064 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जबकि दो मरीज कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। जिले में अब तक कुल मरीजों की संख्या 5796 पहुंच गई है। इसमें 91 की मौत हो चुकी है। 5678 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। इस प्रकार सक्रिय मरीजों की संख्या 27 हो गई है। जिलाधिकारी डा. उज्जवल कुमार ने कहा कि कोरोना का प्रभाव भले ही कम हो गया है, लेकिन हमें सतर्क रहने की जरूरत है। कोविड 19 से बचाव के लिए जारी गाइड लाइन का सभी लोग पालन करें।

अफवाहों पर ध्यान न दें: सीडीओ

महराजगंज: मुख्य विकास अधिकारी पवन अग्रवाल ने शनिवार को जिला महिला अस्पताल में टीकाकरण कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने टीकाकरण कार्य में लगे स्वास्थ्य कर्मियों से धैर्य से टीकाकरण करने का सुझाव दिया है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण को लेकर कोई भ्रमित न हो। अफवाहों पर ध्यान न दें। टीकाकरण पूरी तरह से सुरक्षित है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.