पोषण मेले में दो बच्चे मिले कुपोषित

मुख्य सेविका सीमा दूबे ने गर्भवती स्नेहलता को बताया कि गर्भावस्था के दौरान विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। सेहत सही रहे इसके लिए पौष्टिक आहार लेते रहना चाहिए।

JagranThu, 23 Sep 2021 02:43 AM (IST)
पोषण मेले में दो बच्चे मिले कुपोषित

महराजगंज: कुपोषण छोड़ सुपोषण की ओर थीम पर प्राथमिक विद्यालय बसहिया खुर्द में पोषण मेले का आयोजन किया गया। मेले में गर्भवती की गोदभराई और बच्चे का अन्नप्राशन कराया गया एवं रेसिपी प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। प्रतियोगिता में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पूनम अव्वल रहीं, वहीं मौके पर 30 बच्चों का वजन भी लिया गया। जिसमें दो बच्चे कुपोषित मिले।

कार्यक्रम में चार माह की गर्भवती स्नेहलता को पोषण पोटली देकर गोदभराई की गई, जबकि मयंक नाम के बच्चे को खीर खिलाकर अन्नप्राशन कराया गया।

इस अवसर पर मुख्य सेविका सीमा दूबे ने गर्भवती स्नेहलता को बताया कि गर्भावस्था के दौरान विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। सेहत सही रहे इसके लिए पौष्टिक आहार लेते रहना चाहिए। मुख्य सेविका सुधा पांडेय ने बताया कि पौष्टिक आहार में दूध, पनीर, ताजी हरी सब्जी, मौसमी फल, दाल, जूस तथा अन्य प्रोटीन व विटामिन युक्त आहार लेती रहें। समय-समय पर चिकित्सक से सलाह लेते रहना चाहिए । साथ ही जरूरी टीके भी लगवाना आवश्यक है। मुख्य सेविका अनिमा वर्मा ने कुपोषित मिले बच्चों की माताओं को बच्चे के सेहत के प्रति जागरूक किया गया। इसी क्रम में पोषण मेले में हुई रेसिपी प्रतियोगिता में 11 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने प्रतिभाग किया। प्रतियोगिता में ग्राम पंचायत बसहिया खुर्द की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पूनम शुक्ला को प्रथम, बसहिया बुजुर्ग की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मातेश्वरी को द्वितीय तथा ग्राम पंचायत पिपरिया की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता उर्मिला को तीसरा स्थान मिला।

जनपद स्तर पर आज मनेगा आयुष्मान भारत दिवस

महराजगंज: आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जनआरोग्य योजना के 23 सितंबर को तीन साल पूरा होने के अवसर पर जनपद स्तर पर गुरुवार को सुबह 10 बजे से जिला संयुक्त चिकित्सालय में आयुष्मान भारत दिवस मनाया जाएगा।

यह जानकारी अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. आइए अंसारी ने दी। उन्होंने बताया कि इस दिन जनपद के प्रशासनिक अधिकारी व योजना के नोडल अधिकारी के माध्यम से परिचर्चा होगी। अधिक से अधिक पात्र लोगों को योजना से जोड़ने पर भी विचार होगा। इस दिवस पर जनप्रतिनिधियों की सहभागिता बढ़ाने पर भी जोर रहेगा। जिला कार्यक्रम समन्वयक डा. सरनदीप कौर ने बताया कि योजना के तहत बेहतर प्रदर्शन करने वाले उन दो अस्पतालों ( एक सरकारी तथा एक निजी क्षेत्र के) को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया जाएगा, जिसने 31 अगस्त 2021 तक सबसे अधिक योजना के लाभार्थियों का उपचार किया हो। वहीं जन प्रतिनिधियों के हाथों दस लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड भी दिया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.