अंधकार से प्रकाश की ओर ले जाते हैं गुरु

गुरु पूर्णिमा के अवसर पर अमरुतिया बाजार स्थित गायत्री शक्ति पीठ पर पांच कुंडीय गायत्री महायज्ञ के साथ आयोजित हुआ। इसके पूर्व 24 घंटे का गायत्री महामंत्र का जप संपन्न हुआ।

JagranSun, 25 Jul 2021 01:49 AM (IST)
अंधकार से प्रकाश की ओर ले जाते हैं गुरु

महराजगंज: गुरु पूर्णिमा जिले में श्रद्धा व विश्वास के साथ मनाई गई। इस दौरान जगह-जगह गोष्ठियां आयोजित कर हर वर्ग के लोगों ने गुरु के सम्मान का संकल्प दोहराया। इस दौरान शारीरिक दूरी का लोगों ने विशेष ध्यान रखा। वक्ताओं ने कहा कि अंधकार से प्रकाश की ओर ले जाने वाला ही गुरु है। इंटरनेट मीडिया पर भी गुरु पूर्णिमा की बधाई का दौर जोरों पर रहा।

गुरु पूर्णिमा के अवसर पर अमरुतिया बाजार स्थित गायत्री शक्ति पीठ पर पांच कुंडीय गायत्री महायज्ञ के साथ आयोजित हुआ। इसके पूर्व 24 घंटे का गायत्री महामंत्र का जप संपन्न हुआ। कार्यक्रम में उपस्थित सदर विधायक जयमंगल कन्नौजिया ने कहा कि हमारी संस्कृति में गुरु को सर्वोच्च स्थान प्रदान किया गया है। गुरु को ब्रह्मा, विष्णु, महेश के समान बताया गया है। शास्त्रों में गुरु को भगवान से भी बड़ा दर्जा मिला है। इसलिए हमेशा गुरुजनों का सम्मान करना चाहिए। इस दौरान विधायक ने मंदिरों में शीश झुका कर सर्व जनकल्याण की कामना की। नगर पालिका अध्यक्ष कृष्णगोपाल जायसवाल, शक्तिपीठ के प्रमुख ट्रस्टी विद्यासागर पटेल, उदयबास पटेल, जिलाध्यक्ष परदेसी रविदास, संजय वर्मा, नगर अध्यक्ष राघवेंद्र मिश्र, डा. परशुराम गुप्ता, जिला संघ चालक रामशंकर गुप्ता, शुभकरण यादव, राम प्रीत गुप्ता, विवेक गुप्ता, अशोक विश्वकर्मा, दिलीप शर्मा, नरेंद्र पटेल, राम नारायण गुप्ता आदि मौजूद रहे। महंत अवेद्यनाथ महाविद्यालय चौक महराजगंज में भी गुरुपूर्णमा के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन हुआ। इस अवसर पर प्राचार्य डा. बसंत नारायण सिंह, डा. मनीषा त्रिपाठी, डा.सरोज रंजन, शैलेंद्र भारती सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

लक्ष्मीपुर संवाददाता के अनुसार नौतनवा तहसील क्षेत्र में गौतम बुद्ध की ननिहाल देवदह के रूप में प्रसिद्ध बनरसिहा कला में शनिवार को आषाढ़ी पूर्णिमा के अवसर पर पूजा अर्चना की गई। आषाढ़ी पूर्णिमा के महत्व पर बौद्ध भिक्षुओं ने विस्तार से चर्चा की। बौद्ध भिक्षुओं ने देवदह के विकास की मांग किया। कार्यक्रम में मोदग्लायन ने कहा कि गौतमबुद्ध के बताए रास्ते पर चलने से समाज ही नहीं पूरे देश का विकास होगा। बौद्ध धर्म में मानव एक समान हैं। एसडीओ विद्युत राजनरायन ने कहा कि देवदह के विकास से विश्व स्तर पर पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और स्थानीय स्तर पर आर्थिक ²ष्टि से क्षेत्र की समृद्धि होगा। पूर्व मौसम वैज्ञानिक शंकर प्रसाद बौद्ध, जितेंद्र राव, अशोक जायसवाल, चंद्र प्रकाश मिश्रा, भंते सुमन कीर्ति आदि उपस्थित रहे।

सोनौली संवाददाता के अनुसार सरस्वती शिशु मंदिर में शनिवार को गुरु पूर्णिमा के अवसर पर महर्षि व्यास जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर मनाई गई। अभाविप के सोनौली नगर अध्यक्ष सन्नी गुप्ता ने समस्त गुरुजनों को सफल भारत के मजबूत नींव का शिल्पकार बताते हुए सभी का आभार व्यक्त किया और साथ ही गुरुजनों को प्रतीक चिन्ह भेंट किया गया। नगर मंत्री शुभम जायसवाल, प्रिस मद्धेशिया, छात्रा अंकिता अग्रहरि, कृपाशंकर मद्धेशिया, उपस्थित रहे। नौतनवा संवाददाता गायत्री शक्तिपीठ पर हवन पूजन व आरती के उपरांत मंदिर के पुजारी श्रीराम चौरसिया को अंग वस्त्र भेंटकर सम्मानित किया गया। जिसमें भारतीय जनता पार्टी विधानसभा नौतनवा के वरिष्ठ नेता समीर त्रिपाठी, प्रदीप सिंह, अजय अग्रहरि, हरिशंकर जायसवाल, नन्हे सिंह आदि उपस्थित रहे।

कोल्हुई संवाददाता के अनुसार गुरु पूर्णिमा पर भाजपा प्रतिनिधि मंडल ने क्षेत्र के साधु संतों को अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया गया। शिक्षा विभाग के कई शिक्षकों को भी सम्मानित किया। इस अवसर पर रामचन्द्र पाठक, रमाशंकर शुक्ल,डा. जितेंद्र सिंह, भाजपा नेता प्रदीप कुमार पांडेय, मधुर सिंह, दिनेश रौनियार,फेंकू नायक, शिवकुमार सिंह,प्रिस जायसवाल आदि लोगों ने आशीर्वाद लिया। वहीं दुर्गा मंदिर परिसर में गुरु पूर्णिमा के अवसर पर गायत्री परिवार द्वारा जप, हवन का सामूहिक आयोजन किया गया। जिसमें बलिराम गुप्ता, दीनानाथ पाठक,वेद प्रकाश चतुर्वेदी,जय प्रकाश वर्मा, छोटेलाल मद्धेशिया, उमाशंकर वर्मा, प्रेम सिंह आदि मौजूद रहे।

घुघली संवादाता के अनुसार गुरु पूर्णिमा पर्व पर ब्रह्मस्थान कुटी जोगिया एवं बैकुंठी घाटी स्थित श्री राम जानकी मंदिर में श्री रामचरितमानस पाठ एवं भंडारे का भी आयोजन किया गया। इस मौके पर जोगिया कुटी पर आयोजित भंडारे में मंदिर के शिष्यगण सम्मिलित होकर महंत बाबा बालकदास का आशीर्वाद प्राप्त कर अपने जीवन को धन्य बनाया। इसी तरह श्रीराम जानकी मंदिर बैकुंठी घाट पर महंत अयोध्या दास द्वारा आयोजित रामचरितमानस पाठ के समापन मौके पर भंडारे का आयोजन किया गया। पूर्व चेयरमैन बीरेंद्र सिंह, प्रबंधक डा. राजेश सिंह, महंत अयोध्या दास, पंडित मिथिलेश पांडेय उर्फ सिद्धि बाबा आदि उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.