तालाब खोदवाकर जल संचय की सीख दे रहे ई. विजयेन्द्र

तालाब खोदवाकर जल संचय की सीख दे रहे ई. विजयेन्द्र

जनसंख्या वृद्धि के कारण जल की मांग प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं। परन्तु हम जल की मात्रा को हरगिज बढ़ा नहीं सकते।

JagranMon, 17 May 2021 12:25 AM (IST)

महराजगंज: वैश्विक स्तर पर सतत घट रहा भूगर्भ जलस्तर मानव समाज व समस्त प्राणियों के लिए घातक साबित होने लगा हैं। जनसंख्या वृद्धि के कारण जल की मांग प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं। परन्तु हम जल की मात्रा को हरगिज बढ़ा नहीं सकते। जल संकट का आलम यह है कि गर्मियों के दिनों में पशु-पक्षी नदी, तालाबों व विभिन्न जलाशयों के सूख जाने से पानी के लिए तड़प उठते हैं। सभी को इस समस्या को खत्म करने के लिए आगे आना चाहिए। इस समस्या को देखते हुए पनियरा विकास खंड के राजमंदिर निवासी सर्वजीत दास इंटर कालेज के प्रधानाचार्य ई. विजयेन्द्र कुमार पटेल ने एक दशक पूर्व डेढ़ एकड़ भूमि में तालाब खोदवाकर जलसंचय का महत्वपूर्ण कार्य किया। पशु-पक्षी इस भीषण गर्मी में इनके तालाब में आकर प्यास बुझाते हैं। वे कहते हैं कि देश के अनेक क्षेत्रों में विशेष कर ग्रामीण क्षेत्रों में पीने तथा घरेलू उपयोग के लिए स्वच्छ जल का अभाव हैं। गिरते जलस्तर का यदि समय रहते समाधान नहीं किया गया तो आने वाले दिनों में मानव व प्राणियों को पानी के लिए तरसना पड़ सकता है। आर्थिक स्थिति हो रही मजबूत

तालाब में मछली पालन भी किया जाता है। जिससे आर्थिक स्थिति भी मजबूत हो रही है। इस तालाब की मछलियां महराजगंज, रमपुरवा,शिकारपुर, जड़ार,बभनौली के बाजारों में क्षेत्रीय मछुआरे ले जाकर बेचते हैं। नदियों की निगरानी के लिए तैनात हुई पीएसी

महराजगंज : जिले की नदियों में बाढ़ सुरक्षा व कोरोना संक्रमितों के शवों को प्रवाहित करने से रोकने के लिए बाढ़ राहत दल में डेढ़ सेक्सन पीएसी तैनात की गई है। रविवार से ही जिले की नदियों की निगहबानी का कार्य पीएसी के जवानों ने शुरू कर दिया। हालांकि जिला प्रशासन अभी इनकी तैनाती का मुख्य कारण बाढ़ राहत बता रहा है। फिलहाल अभी तक ऐसी कोई सूचना नहीं मिली है। एसपी प्रदीप गुप्ता ने बताया कि नदियों पर बाढ़ सुरक्षा के दृष्टिकोण से पीएसी जवानों की ड्यूटी लगाई गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.