महराजगंज में 730 लोगों को लगे कोरोना के टीके

महराजगंज में 730 लोगों को लगे कोरोना के टीके

जिला अस्पताल पर भी रोज की अपेक्षा इस दिन लोगों की संख्या अधिक रही। एक कक्ष में कोबिशिल्ड तो दूसरे कक्ष में कोवैक्सीन के लिए लाइन लगी थी।

JagranWed, 19 May 2021 01:19 AM (IST)

महराजगंज: कोरोना का टीका लगवाने के लिए मंगलवार को जिला अस्पताल और सीएचसी पर लोगों की भीड़ उमड़ी रही। इस दौरान देर शाम तक कुल 730 लोगों को कोरोना से बचाव का टीका लगाया गया। जिला अस्पताल सहित निर्धारित स्थलों पर सुबह टीकाकरण का कार्य सुबह नौ बजे से शुरू हुआ। सुबह के समय तो भीड़ कम रहा, लेकिन 11 बजते ही लोगों की कतार लग गई।

जिला अस्पताल पर भी रोज की अपेक्षा इस दिन लोगों की संख्या अधिक रही। एक कक्ष में कोबिशिल्ड तो दूसरे कक्ष में कोवैक्सीन के लिए लाइन लगी थी। गेट पर लोगों का रजिस्ट्रेशन कर टीकाकरण के लिए भेजा जा रहा था, जहां कक्ष में स्वास्थ्य कर्मी आधार कार्ड का मिलान कर पुष्टि करतीं। इसके बाद एएनएम द्वारा लोगों को टीका लगाया। टीका लगवाने के बाद लोगों को आधा घंटे तक आब्जर्वेशन में रखा गया। इसके बाद घर भेज दिया गया। नोडल अधिकारी डा. आइए अंसारी ने बताया कि मंगलवार को कुल 730 लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया है। सभी लोग स्वस्थ हैं। प्रारंभिक लक्षण मिलते ही कराएं जांच

महराजगंज: आइटीएम आयुर्वेदिक मेडिकल कालेज के प्रशासनिक अधिकारी डा. देवचंद कुशवाहा ने बताया कि किसी व्यक्ति को बुखार, खांसी, गले में खरास के लक्षण हैं, तो इसे वायरल फीवर मानकर हल्के में मत लें। तत्काल चिकित्सक की सलाह लें और जांच कराते हुए उपचार शुरू कर दें। उन्होंने बताया कि संक्रमण के ये सभी लक्षण 20 से 50 वर्ष वाले लोगों में अधिक मिल रहे हैं। इसमें लापरवाही ने बरतें।

सरकार की गाइड लाइन का पालन करें और टीका अवश्यक लगवाएं। हिम्मत न हारें, कोरोना को हराएं। प्रतिदिन सुबह उठकर घर में ही रहकर 30 मिनट व्यायाम जरूर करें। शरीर और मन को स्वस्थ बनाएं रखें। ठंडी चीजों से परहेज करें। चिकित्सक से परामर्श लेकर दवाओं का सेवन अवश्य करें। पीने के पानी का विशेष ध्यान रखें, क्योंकि कोरोना संक्रमण में पेट संबंधी बीमारियों भी अब पाई जा रही हैं। उन्होंने बताया कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने, बुखार, गले की खरास आदि के लिए प्रदेश सरकार, आयुष विभाग के निर्देशानुसार संस्था द्वारा आयुष क्वाथ, संशमनी वटी, संजीवनी वटी, सुदर्शन घन वटी, आयुष-64 आदि औषधियों को चिकित्सकों द्वारा वितरित की जा रहीं हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.