4740 लोगों को लगा कोरोना से बचाव का टीका

4740 लोगों को लगा कोरोना से बचाव का टीका

नोडल अधिकारी डा. आइए अंसारी ने बताया कि 45 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को टीका लगाया जा रहा है।

JagranWed, 14 Apr 2021 01:08 AM (IST)

महराजगंज: मंगलवार को जिले में 4740 लोगों को कोरोना से बचाव का टीका लगाया है। नोडल अधिकारी डा. आइए अंसारी ने बताया कि 45 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को टीका लगाया जा रहा है। इस दिन सात हजार लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित था। लेकिन जिला मुख्यालय सहित सीएचसी पर कुल 4740 लोगों को टीका लगाया गया है। सभी लोग स्वस्थ हैं। 1118 लोगों की एंटीजन तथा 1014 लोगों की आरटीपीसीआर से कोरोना की जांच कराई गई है। उप कृषि निदेशक के निधन पर शोक, दी श्रद्धांजलि

महराजगंज: उप कृषि निदेशक विनोद कुमार के निधन पर विकास भवन सभागार में जिलाधिकारी डा. उज्ज्वल कुमार व मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल ने शोक सभा आयोजित कर मृत आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन रखकर ईश्वर से प्रार्थना की।

जिलाधिकारी ने कहा कि एक-दूसरे की सुरक्षा ही सबकी सुरक्षा है। आप सभी लोग मास्क लगाएं, दो गज दूरी के नियम का पालन करें। हाथ धोने, सैनिटाइजर के प्रयोग के लिए लोगों को प्रेरित करें। कोरोना से सावधानियां बहुत ही आवश्यक है। इस अवसर पर जिला पंचायत राज अधिकारी केबी वर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी शैलेश कुमार राय, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी प्रवीण कुमार, जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी रत्नेश सिंह, एडीपीआरओ नित्यानंद, जिला सलाहकार आनंद कुमार उपाध्याय, व्यैक्तिक सहायक रामबहाल, सुनील कुमार, आदि विकास विभाग में स्थापित कार्यालयों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे। सीडीओ के वाहन चालक को पहले कोवैक्सीन व दूसरा टीका लगा दी कोविशील्ड

महराजगंज: मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल के वाहन चालक को कोरोनारोधी टीका लगाने में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही सामने आई है। इनकी चूक से उन्हें पहले कोवैक्सीन व दूसरा टीका कोविशील्ड लगा दी गई है।

मुख्य विकास अधिकारी के वाहन चालक उमेश, गनर चंदन कुशवाहा और अर्दली मदन मंगलवार को जिला महिला अस्पताल में दूसरे डोज का टीका लगवाने पहुंचे। वहां मौजूद स्वास्थ्य कर्मियों ने उमेश को कोवैक्सीन की जगह कोविशील्ड वैक्सीन लगा दी। जब इस बात की जानकारी हुई तो मामला गर्म हो गया। इसके बाद गनर और अर्दली को दूसरे डोज का टीका नहीं लगाया गया। हालांकि इस लापरवाही पर टीकाकरण के लिए आए अन्य लोगों ने भी नाराजगी जाहिर की और स्वास्थ्य कर्मियों की कार्यप्रणाली पर सवाल भी उठाया। इसके बाद उच्चाधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एके श्रीवास्तव ने बताया कि वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट नहीं है। चालक लगातार मेरे संपर्क में है। उन्हें बताया गया है कि कोई दिक्कत हो, तो तत्काल जानकारी दें। साथ ही स्वास्थ्य कर्मियों से स्पष्टीकरण तलब किया गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.