मजदूर कहता रहा, साहब मशीन ठीक करा दो...फ‍िर हो गया यह हादसा

लखनऊ, जेएनएन। कुर्सी रोड स्थित प्लाईवुड फैक्ट्री की मशीन में फंसकर मजदूर आकाश यादव (20) की दर्दनाक मौत हो गई। परिवारीजनों ने शव को फैक्ट्री के सामने रखकर प्रदर्शन किया, जिस पर फैक्ट्री मालिक ने एक लाख रुपये का लालच देकर मामला रफादफा करने का प्रयास किया, लेकिन परिवारीजनों ने एक न सुनी।

इंस्पेक्टर गुडंबा तेज प्रकाश सिंह के मुताबिक मृतक के भाई ने फैक्ट्री मालिक अनूप गुप्ता के खिलाफ लापरवाही का आरोप लगाया है, मुकदमा दर्जकर उसकी तलाश की जा रही है। फैक्ट्री बिना परमीशन और दमकल एनओसी के चल रही थी। घटना के बाद फैक्ट्री मालिक फरार हो गया। बड़ाखेमपुर बीकेटी निवासी किसान राकेश यादव के परिवार में पत्नी राकेशा बेटे जगमोहन यादव, पिंटू यादव, विकास यादव हैं। सबसे छोटा आकाश यादव (20) उर्फ टिंकू था। जगमोहन के मुताबिक आकाश गुडंबा थाना क्षेत्र के कुर्सी रोड पर पलका चौराहा स्थित अजय गुप्ता की प्लाईवुड फैक्ट्री में करीब दो सालों से काम करता था। गुरुवार रात को भी दोनों भाई फैक्ट्री में काम करने गए थे। शुक्रवार सुबह 7:30 बजे आकाश मशीन में दब गया और उसकी मौत हो गई।

चार दिन से खराब थी मशीन

पिंटू ने बताया कि फैक्ट्री की मशीन चार दिन से खराब चल रही थी। कहने के बावजूद मशीन को मिस्त्री बुलाकर ठीक नहीं कराया गया। मालिक पर जब भी दबाव बनाओ वह यह कहकर टाल देता था कि मशीन ठीक है। पिन्टू ने बताया अगर मालिक मशीन को ठीक करा देता तो उसके भाई आकाश की मौत न होती।

रिहायशी इलाके में रात में चलती थी फैक्ट्री

स्थानीय लोगों के मुताबिक रिहायशी इलाके में प्लाईवुड फैक्ट्री केवल रात में चलती थी। दिनभर बंद रहती थी। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि फैक्ट्री में सबकुछ गड़बड़ था। तभी मालिक दिन में चलाने का साहस नहीं जुटा पा रहा था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
Next Story