anijya Utsav in Lucknow: यूपी ने निर्यात में लगाई बड़ी छलांग, सिद्धार्थनाथ स‍िंह ने ग‍िनाई उपलब्‍ध‍ियां

उत्तर प्रदेश की भौगोलिक स्थिति विषम होने के बाद भी प्रदेश निर्यात करने में निरंतर आगे बढ़ रहा है। प्रदेश ने चार साल में 38 फीसद बढ़ोतरी की बड़ी छलांग लगाई है। इसमें ओडीओपी यानी एक जिला एक उत्पाद योजना मील का पत्थर साबित हुई है।

Anurag GuptaWed, 22 Sep 2021 11:24 PM (IST)
कहा, एक्सप्रेस वे पर बनाए जाएंगे एमएसएमई व एक्सपोर्ट पार्क।

लखनऊ, राज्य ब्यूरो। प्रदेश के सूक्ष्म लघु एवं मध्यम व निर्यात प्रोत्साहन मंत्री सिद्धार्थनाथ सि‍ंह ने कहा है कि केंद्र सरकार भारत को निर्यातक देश बनाने की दिशा में तेजी से कार्य कर रही है। उत्तर प्रदेश की भौगोलिक स्थिति विषम होने के बाद भी प्रदेश निर्यात करने में निरंतर आगे बढ़ रहा है। प्रदेश ने चार साल में 38 फीसद बढ़ोतरी की बड़ी छलांग लगाई है। इसमें ओडीओपी यानी एक जिला एक उत्पाद योजना मील का पत्थर साबित हुई है। बुधवार को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान के सभागार में वाणिज्य उत्सव समापन समारोह में उन्होंने सूबे के 71 निर्यातकों को राज्य निर्यात पुरस्कार से सम्मानित किया।

उन्होंने कहा कि कोरोना जैसी आपदा उद्यमियों के लिए बड़ा अवसर लेकर आई है। दुनिया में निर्यात के मामले में चीन की जगह अब भारत लेने को प्रयासरत है। इसमें उत्तर प्रदेश का अहम रोल है, जहां 2016-17 में 84,282.89 करोड़ का निर्यात हुआ था, वह 2021-22 में बढ़कर 1,21,139.94 करोड़ रुपये हो गया है। उन्होंने कहा कि सरकार का प्रयास है कि हर निर्यातक व उद्यमी को परिश्रम का पूरा फल मिले। ओडीओपी के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए 100 सेक्टर्स में काम किया जा रहा है।

मंत्री ने कहा कि एक्सप्रेस वे के किनारे एमएसएमई पार्क, एक्सपोर्ट पार्क व फ्लैटेड फैक्ट्री खोली जाएंगी। वाराणसी, फीरोजाबाद, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, सहारनपुर सहित दस जिलों में एक्सपोर्ट हब स्थापित किए गए हैं। उद्यमियों को लाभ दिलाने के लिए निर्यात नीति बनाई गई, इसमें उद्यमियों को वायुयान के किराए में सुविधा दे रहे हैं। इस योजना को विस्तार देते हुए अब देश के सभी एयरपोर्ट पर लागू किया गया है, बशर्ते निर्यात होने वाला उत्पाद उत्तर प्रदेश का हो। उन्होंने निर्यातकों से अनुरोध किया कि वे सरकार को अपना मित्र समझें, निरंतर संपर्क में रहे, संवाद करें ताकि बेहतर सुविधाएं कार्यान्वित की जा सकें। निर्यातक सम्मेलन में मिले सुझावों को बुकलेट के रूप में संकलित करने का निर्देश दिया।

उन्होंने कहा कि जिस तरह से ईज आफ डूइंग बिजनेस में उत्तर प्रदेश देश में दूसरे स्थान पर आया है वैसे ही निर्यात में पहले नंबर पर आएगा। उत्सव के समापन अवसर पर वर्ष 2019-20 और 2020-21 के लिए कुल 71 निर्यातकों को 25 अलग-अलग श्रेणियों में सम्मानित किया गया है। यहां निर्यात प्रोत्साहन के राज्यमंत्री चौधरी उदयभान सि‍ंह, अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल, निदेशक उद्योग मनीष चौहान सहित बड़ी संख्या में निर्यातक मौजूद थे।

निर्यात सारथी एप जल्द : मंत्री ने कहा कि निर्यातकों की समस्याओं के निस्तारण के लिए जल्द ही निर्यात सारथी एप लांच कराएंगे। साथ ही विभिन्न निर्यात एक्सपो में इसका प्रसारण भी होगा। अगले एक वर्ष में अनेक अंतरराष्ट्रीय प्रदशर्नियां आयोजित की जाएंगी। उनमें यूपी के ओडीओपी निर्यात उत्पादों को भी शामिल कराया जाएगा। इसमें एक अक्टूबर से दुबई एक्सपो, रूस, जर्मनी, कजाकिस्तान व वियतनाम की प्रदर्शनी भी शामिल हैं। वहीं, खाड़ी देशों के निर्यातकों के साथ वर्चुअल एक्सपो आयोजित होगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.