COVID-19 In UP: उत्तर प्रदेश अब 66 जिलों में कोरोना के पांच से कम रोगी, 14 नए संक्रमित मिले

COVID-19 In UP उत्तर प्रदेश में सोमवार को कोरोना वायरस से संक्रमित 14 नए रोगी मिले। 10 मरीज स्वस्थ हुए और कोरोना से एक भी रोगी की मौत नहीं हुई। अब 66 जिले ऐसे हैं जहां कोरोना के पांच से कम रोगी हैं।

Umesh TiwariMon, 13 Sep 2021 11:07 PM (IST)
उत्तर प्रदेश में सोमवार को कोरोना वायरस से संक्रमित 14 नए रोगी मिले।

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में सोमवार को कोरोना वायरस से संक्रमित 14 नए रोगी मिले। 10 मरीज स्वस्थ हुए और कोरोना से एक भी रोगी की मौत नहीं हुई। अब 66 जिले ऐसे हैं, जहां कोरोना के पांच से कम रोगी हैं। इसमें से 33 जिलों में कोरोना का एक भी मरीज नहीं है। अब सक्रिय केस 175 हैं। बीते 24 घंटे में 2.33 लाख लोगों की कोरोना जांच की गई।

अपर मुख्य सचिव (सूचना) नवनीत सहगल ने बताया कि 65 जिलों में कोरोना का एक भी नया रोगी नहीं मिला। सिर्फ 10 जिलों में ही कोरोना के नए रोगी सामने आए हैं। इसमें लखनऊ में तीन, देवरिया व महाराजगंज में दो-दो और संत कबीर नगर, ललितपुर, मऊ, जौनपुर, बरेली, गोरखपुर व गौतमबुद्ध नगर में एक-एक रोगी मिला है। प्रदेश में इस समय सबसे ज्यादा लखनऊ व प्रयागराज में 16-16 रोगी हैं।

गौतमबुद्ध नगर में 15 और गोरखपुर में 11 मरीज हैं। अब तक कुल 17.09 लाख लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं और इसमें से 16.86 लाख मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। पाजिटिविटि रेट 0.01 और रिकवरी रेट 98.7 फीसद है। अब तक कुल 22,883 लोगों की संक्रमण से मौत हुई है।

यूपी में अब तक सर्वाधिक 7.51 करोड़ लोगों की हुई जांच : देश में अब तक सर्वाधिक 7.51 करोड़ लोगों की कोरोना जांच यूपी में कराई गई है। दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र में 5.60 करोड़ और तीसरे नंबर पर 4.50 करोड़ लोगों की कोरोना जांच कर्नाटक में की गई है।

30 जिलों में जल्द खुलेगी कोरोना की आरटीपीसीआर जांच लैब : यूपी में कोरोना की आरटीपीसीआर जांच के लिए जल्द 30 और जिलों में लैब शुरू होगी। प्रत्येक लैब को उपकरण खरीदने के लिए 66 लाख रुपये दिए गए हैं। इस तरह सभी लैब के लिए कुल 19.80 करोड़ रुपये की धनराशि दी गई है। यह सभी बायो सेफ्टी लेवल (बीएसएल) टू लैब होंगी। अभी 45 जिलों में कोरोना की आरटीपीसीआर जांच के लिए लैब हैं। इन लैब के खुलने के साथ ही हर जिले में आरटीपीसीआर जांच की एक-एक लैब होगी।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त सचिव प्राणेश चंद्र शुक्ल के मुताबिक उपकरण खरीदने के लिए धनराशि जारी कर दी गई है। जिन 30 जिलों में यह लैब खोली जा रही हैं उनमें अमरोहा, बाराबंकी, चित्रकूट, फतेहपुर, हाथरस, लखीमपुर खीरी, मैनपुरी, संत कबीर नगर, गाजीपुर, संभल, बागपत, भदोही, एटा, हमीरपुर, कानपुर देहात, ललितपुर, मुजफ्फर नगर, श्रावस्ती, हापुड़, शामली, बलरामपुर, चंदौली, फर्रुखाबाद, हरदोई, कौशांबी, महाराजगंज, पीलीभीत, उन्नाव, रामपुर एवं सुलतानपुर शामिल हैं। अभी 45 जिलों में संचालित कोरोना की आरटीपीसीआर जांच लैब में करीब तीन लाख से अधिक सैंपल जांचे जा सकते हैं। इन नई लैब के खुलने से इसकी क्षमता और बढ़ेगी। कोरोना जांच के लिए सैंपल आसपास के दूसरे जिलों में नहीं भेजने होंगे। जिले की लैब में ही आसानी से जांच होने के कारण रिपोर्ट के लिए भी इंतजार नहीं करना होगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.