दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

यूपी के सभी नगरीय निकायों में बनेंगे COVID-19 हेल्पडेस्क, कंटेनमेंट जोन में सैनिटाइजेशन पर फोकस

नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने उत्तर प्रदेश के सभी 734 नगरीय निकायों में कोविड-हेल्पडेस्क बनाने के निर्देश दिए हैं।

नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन के अनुसार कोरोना संक्रमण को देखते हुए कंटेनमेंट जोन में कूड़ा निस्तारण व सैनिटाइजेशन पर विशेष फोकस किया जा रहा है। साथ ही प्रत्येक वार्ड में व्यापक पैमाने पर सैनिटाइजेशन के निर्देश दिए गए हैं।

Umesh TiwariFri, 07 May 2021 12:10 AM (IST)

लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने उत्तर प्रदेश के सभी 734 नगरीय निकायों में कोविड-हेल्पडेस्क बनाने के निर्देश दिए हैं। इन निकायों में 17 नगर निगम, 200 नगर पालिका परिषद व 517 नगर पंचायत हैं। इसे डेस्क पर नगरीय निकायों से जुड़ी समस्याओं के निस्तारण के साथ ही यदि मेडिकल से जुड़ी कोई मदद मांगी जाती है तो उसे भी संबंधित विभाग को भेज दिया जाएगा। कोरोना संक्रमण को देखते हुए कंटेनमेंट जोन में कूड़ा निस्तारण व सैनिटाइजेशन पर विशेष फोकस किया जा रहा है। साथ ही प्रत्येक वार्ड में व्यापक पैमाने पर सैनिटाइजेशन के निर्देश दिए गए हैं।

नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने 'दैनिक जागरण' से विशेष बातचीत में बताया कि प्रत्येक वार्ड में पार्षद/सभासद की अध्यक्षता में गठित निगरानी समिति को थर्मल स्कैनर व पल्स ऑक्सीमीटर दिए जा रहे हैं। इस समिति में सिविल डिफेंस, रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन, आशा बहुएं, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, उस वार्ड में रहने वाले नगरीय निकायों के अधिकारी-कर्मचारी सदस्य बनाए गए हैं। निगरानी समिति वार्ड में यदि कोई बीमार पड़ता है तो उसका थर्मल स्कैनर से बुखार नापकर व पल्स ऑक्सीमीटर से जांच करने के बाद स्वास्थ्य विभाग को सूचित करेगी। समिति अपने-अपने क्षेत्र में आने वाले प्रवासी मजदूरों पर भी नजर रखेगी। इन्हें 14 दिन क्वारंटीन करवाया जाएगा।

सैनिटाइजेशन के लिए विशेष रणनीति : नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने बताया कि सभी नगरीय निकायों को सैनिटाइजेशन के लिए विशेष रणनीति अपनाने के निर्देश दिए गए हैं। पूरे क्षेत्र को तीन हिस्सों में बांटकर सैनिटाइजेशन किया जाएगा। सबसे पहले कंटेनमेंट जोन में सैनिटाइजेशन कराया जाएगा। कंटेनमेंट जोन से कूड़ा निस्तारण पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा गया है। यहां सफाई कर्मचारियों को पीपीई किट देकर कूड़ा उठवाया जाएगा। साथ ही सभी सफाई कर्मचारियों को ग्लव्स व मास्क देने के निर्देश दिए गए हैं। फ्रंटलाइन वर्करों का वेतन न रुके, इस पर भी विशेष ध्यान देने के लिए कहा गया है।

लाउडस्पीकर से किया जाए जागरूक : नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने कहा कि नगरीय निकायों में लगे पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम के जरिए कोविड-19 के प्रति आम लोगों को जागरूक किया जाए। कूड़ा उठाने वाली गाड़ियों से भी कोरोना से बचाव के तरीके बताए जाएं।

ताकि गर्मी में न हो पेयजल किल्लत : गर्मियों में पेयजल की कोई कमी न हो इसके लिए नगर विकास मंत्री ने अधिकारियों को अभी से व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सप्ताह भर के भीतर खराब नलकूप और हैंडपंप ठीक करने के लिए कहा है। वहीं, बारिश से पहले नाले की सफाई करने के निर्देश दिए हैं। इससे बारिश में जल-भराव की समस्या से बचा जा सकता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.