UP TET 2021: परीक्षा न‍िरस्‍त होने से लखनऊ में परीक्षार्थ‍ियों का हंगामा, केंद्रों पर तैनात क‍िया गया पुल‍िस बल

प्रदेश स्तर में 2554 परीक्षा केंद्रों पर 1291628 परीक्षार्थी शामिल होंगे। वहीं दूसरी पाली में उच्च प्राथमिक स्तर की शिक्षक पात्रता परीक्षा में 1747 परीक्षा केंद्रों पर 873533 परीक्षार्थी शामिल होंगे। सभी परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा की सभी गतिविधियों की निगरानी के लिए लाइव सीसीटीवी सर्विलांस की व्यवस्था है।

Anurag GuptaSun, 28 Nov 2021 09:23 AM (IST)
उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा 2021 (यूपीटीइटी) न‍िरस्‍त।

लखनऊ, जागरण संवाददाता। उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा 2021 (यूपीटीइटी) शुरू होने से चंद म‍िनट पहले पेपर लीक होने की सूचना के बाद न‍िरस्‍त कर दी गई। रव‍िवार को परीक्षा दो पालियों में आयोजित होनी थी। पहली पाली सुबह दस से दोपहर 12:30 बजे। वहीं दूसरी पाली 2:30 से पांच बजे तक होनी थी। लखनऊ में शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए 99 केंद्रों पर करीब 81 हज़ार परीक्षार्थी शामिल होने के ल‍िए सुबह से ही पहुंच गए थी। परीक्षा केंद्रों में राजकीय जुबली इंटर कॉलेज, केकेसी, अमीरुद्दौला समेत लगभग सभी राजकीय व एडेड कॉलेज शामिल थे। लखनऊ में परीक्षा केंद्र से परीक्षार्थ‍ियों के बाहर निकलने पर बवाल की आशंका जताई जा रही है। हर केंद्र पर पुलिस बल बुलाया जा रहा है। वहीं राजकीय हुसैना बाद इंटर कालेज, अग्रसेन इंटर कालेज चौक और राजकीय बालिका इंटर कालेज में परीक्षार्थियों का जबरदस्त हंगामा शुरू हो गया है। 

अयोध्या में भी परीक्षा बची में रोकी गई। डीएम नीतीश कुमार ने सभी केंद्रों पर सूचना भेजी, ज‍िसके बाद परीक्षा स्‍थग‍ित कर दी गई। पेपर लीक होने के चलते परीक्षा रद्द की गई है।  

बीच में निरस्त की गई अध्यापक पात्रता परीक्षा : गोंडा में रविवार को ऊहाफोह के बीच 28 केंद्रों पर अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) की पहली पाली की परीक्षा शुरू होने के बाद निरस्त कर दी गई है। डीआइओएस राकेश कुमार ने इसकी पुष्टि की है। इसे देखते हुए केंद्रों पर पुलिस की सक्रियता बढ़ा दी गई है। सुबह आठ बजे से ही केंद्रों पर अभ्यर्थी जुटने लगे। एक-एक अभ्यर्थियों की जांच के बाद उन्हें केंद्र में प्रवेश दिया गया। प्रथम पाली की परीक्षा सुबह दस बजे प्रारंभ हो गई। पहली पाली में प्राथमिक स्तर की पात्रता परीक्षा में 12 हजार अभ्यर्थी शामिल हाे रहे थे। 28 कालेजों को परीक्षा केंद्र बनाया गया था। यहां सभी केंद्रों पर दो पर्यवेक्षक, एक स्टेटिक मजिस्ट्रेट व व्यवस्थापक की तैनाती की गई थी। इसके अलावा चार जोनल व 11 सेक्टर मजिस्ट्रेट लगाए गए थे। सुबह दस बजे परीक्षा शुरू होने के बाद करीब 10.40 बजे परीक्षा निरस्त कर दी गई। डीआइओएस राकेश कुमार ने इसकी पुष्टि की है।

बाराबंकी में पेपर लीक की सूचना के बाद जिले में शिक्षक पात्रता परीक्षा को निरस्त कर दिया गया है। हालांकि परीक्षा केंद्रों पर हजारों परीक्षार्थी सुबह ही परीक्षा देने पहली पाली की पहुंच गए थे। परीक्षार्थियों से प्रश्न पत्र परीक्षा केंद्रों पर जमा करा लिया गया है। जिले में दो पाली में करीब 23000 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होने थे। प्रथम पाली सुबह 10 बजे से शुरू हो गई थी परीक्षा केंद्रों पर सुबह ही अधिकांश परीक्षार्थी दूरदराज से पहुंच गए थे। परीक्षा निरस्त की सूचना के बाद परीक्षार्थियों से प्रश्न पत्र ले लिए गए। जिला विद्यालय निरीक्षक राजेश कुमार वर्मा ने बताया 30 केंद्रों पर संचालित शिक्षक पात्रता परीक्षा को आदेश के बाद निरस्त कर दिया गया है। जिले में प्राथमिक स्तर की परीक्षा में 14112 व उच्च प्राथमिक स्तर पर 8878 परीक्षार्थियों को परीक्षा देनी थी शहर के राजकीय इंटर कॉलेज राजकीय, बालिका इंटर कॉलेज बरौली जाटा, जीआईसी इंटर कॉलेज सहित कुल 30 परीक्षा केंद्रों पर शिक्षक पात्रता की परीक्षा संचालित होनी थी। दोनों पाली की परीक्षाओं को निरस्त कर दिया गया है।

वहीं प्रदेश स्तर में 2554 परीक्षा केंद्रों पर 1291628 परीक्षार्थी इस परीक्षा में शाम‍िल होने वाले थे। वहीं दूसरी पाली में उच्च प्राथमिक स्तर की शिक्षक पात्रता परीक्षा में 1747 परीक्षा केंद्रों पर 873533 परीक्षार्थी शामिल होने वाले थे। नकल विहीन परीक्षा कराए जाने को लेकर शासन ने व‍िशेष व्‍यवस्‍था की थी, लेक‍ि‍न पेपर लीक होने की सूचना के बाद इसे न‍िरस्‍त कर द‍िया गया। सभी परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा की सभी गतिविधियों की निगरानी के लिए लाइव सीसीटीवी सर्विलांस की व्यवस्था की गई थी। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.