UP Panchayat Chunav 2021: पंचायत चुनाव के पहले चरण में 18 जिलों में मतदान 15 को , हाई अलर्ट पर सुरक्षा तथा स्वास्थ्यकर्मी

कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को मतदान का मौका मिलेगा।

UP Panchayat Chunav First Phase Polling प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जिला पंचायत पंचायत सदस्य क्षेत्र पंचायत सदस्य ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य के पद के लिए होने वाले चुनाव चार चरण में होंगे। पहले चरण का मतदान 15 अप्रैल को प्रात सात बजे से होगा।

Dharmendra PandeyWed, 14 Apr 2021 05:08 PM (IST)

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में गांव की सरकार के गठन के लिए उलट गिनती शुरू हो गई है। गुरुवार 15 अप्रैल को 18 जिलों में त्रिस्तरीय चुनाव के लिए मतदान प्रात: सात बजे से शुरु हो जाएगा। इसमें सबसे पहले कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को मतदान का मौका मिलेगा। यह लोग पीपीई किट पहनकर वोट डालेंगे। इस बार 11 घंटा तक मतदान होगा।

प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जिला पंचायत पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य के पद के लिए होने वाले चुनाव चार चरण में होंगे। पहले चरण का मतदान 15 अप्रैल को प्रात: सात बजे से होगा। पहले चरण में 18 जिलों में मतदान होगा। गांव की सरकार के गठन के लिए होने वाले इस बार के पंचायत चुनाव में राज्य निर्वाचन आयोग के साथ पंचायती राज विभाग और सुरक्षा बलों के साथ स्वास्थ्य विभाग की भी कड़ी परीक्षा होनी है। पहली बार स्वास्थ्य विभाग फ्रंट लाइन में है।

पहले चरण में अयोध्या, आगरा, कानपुर, गाजियाबाद, गोरखपुर, जौनपुर, झांसी, प्रयागराज, बरेली, भदोही, महोबा, रामपुर, रायबरेली, श्रावस्ती, संत कबीर नगर, सहारनपुर, हरदोई और हाथरस जिलों में मतदान होगा। पहले चरण में जिला पंचायत सदस्य के 779 पदों के लिए 11,442 प्रत्याशी, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 19,313 पदों के लिए 81,747 उम्मीदवार, ग्राम प्रधान के 14,789 पदों के लिए 1,14,142 प्रत्याशी और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्यों के 1,86,583 पदों के लिए 1,26,613 उम्मीदवार मैदान में हैं।

कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के गति पकडऩे के बीच में भी मतदान कड़े कोविड प्रोटोकॉल के बीच होगा। दौरान मतदाताओं को मास्क लगाना और शारीरिक दूरी बनाए रखना अनिवार्य होगा। आयोग ने हर मतदान केंद्र के बाहर छह-छह फीट की दूरी पर घेरे बनाने का आदेश जारी किया है। दो मई को मतगणना के दौरान भी कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया जाएगा। जरूरत पडऩे पर पीपीई किट की भी व्यवस्था की जाएगी।

प्रदेश के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि पहले चरण में 18 जिलों में पंचायत चुनाव होना प्रस्तावित है। इसकी पूरी व्यवस्था कर ली गई है। इन जिलों के कुल 19,774 मतदान केंद्रों के 51,036 मतदेय स्थलों पर मतदान प्रस्तावित है। इनमें भी हमारी विशेष निगाह झांसी, हरदोई, कानपुर, रायबरेली, अयोध्या, गाजियाबाद, सहारनपुर और भदोही पर है।

एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार का कहना है कि चुनौती ड्यूटी पर मुस्तैद होने वाले पुलिसकर्मियों को मास्क, फेस शील्ड, सेनेटाइजर, दस्ताने व अन्य सुरक्षा उपकरण अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए गए हैं। फोर्स के आवंटन का कार्य अंतिम चरण में है। मतदान केंद्रों पर शारीरिक दूरी का अनुपालन कराने के लिए कड़े निर्देश दिए गए हैं। मास्क न लगाने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की रफ्तार बढ़ाने के निर्देश भी दिए गए हैं। सी-प्लान एप के जरिए सूचनाओं का आदान-प्रदान बढ़ाने तथा लोगों को कोरोना के खतरों के प्रति जागरूक करने को कहा गया है। एडीजी ने विभिन्न शाखाओं में तैनात पुलिसकर्मियों को भी चुनाव ड्यूटी में लगाने के निर्देश दिए हैं।

इस समय पुलिस के सामने खुद की सुरक्षा के साथ मतदान केंद्रों से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन कराना सबसे बड़ी चुनौती है। चुनावों को सकुशल और भयमुक्त संपन्न कराने के लिए सात मार्च से अभियान चलाए जा रहे हैं। जिसके अंतर्गत हमने अब तक कुल 2,429 अस्त्र बरामद किए गए हैं। इसके साथ ही 7,85,191 लीटर अवैध शराब की बरामदगी करते हुए 18,888 व्यक्तियों की गिरफ्तारी की गई है। हमारा प्रयास है कि चुनाव शांति से निपटें और हमको ऐसा भरोसा भी है। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस करीब एक माह से अपराधियों से लेकर शरारती तत्वों पर शिकंजा कसने में जुटी थी। अब पुलिस, पीएसी, होमगार्ड व पीआरडी जवानों को मतदान के दिन ड्यूटी के लिए लगाने का सिलसिला शुरू हो गया है। डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी पहले ही कोरोना व पंचायत चुनाव को लेकर हर स्तर पर अतिरिक्त सतर्कता बरते जाने के कड़े निर्देश दे चुके हैं।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.