UP Panchayat Chunav 2021: दूसरे चरण में 20 जिलों से दो लाख 33 हजार 616 उम्मीदवारों का नामांकन

बड़ी संख्या में प्रत्याशियों ने अपने-अपने नामांकन पत्र को दाखिल किया है।

UP Panchayat Chunav 2021 दूसरे चरण के लिए जिला पंचायत वार्ड के 787 पदों के लिए 8024 प्रत्याशी 19653 क्षेत्र पंचायत वार्ड सदस्य के लिए 56874 प्रत्याशी जबकि प्रधान के 14897 पदों के लिए 99404 प्रत्याशी मैदान में हैं।

Dharmendra PandeySat, 10 Apr 2021 06:29 PM (IST)

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में गांव की सरकार पर सभी नेताओं के साथ राजनीतिक दलों का भी फोकस है। इसके साथ ही राज्य निर्वाचन आयोग और पंचायती राज विभाग ने भी कमर कस ली है। 15 अप्रैल को पहले चरण में 18 जिलों में मतदान होगा। इसके बाद 19 को दूसरे चरण के मतदान में 20 जिलों के लोग अपने अधिकार का प्रयोग करेंगे। दूसरे चरण के चुनाव के लिए भी बड़ी संख्या में प्रत्याशियों ने अपने-अपने नामांकन पत्र को दाखिल किया है।

दूसरे चरण के लिए जिला पंचायत वार्ड के 787 पदों के लिए 8024 प्रत्याशी, 19653 क्षेत्र पंचायत वार्ड सदस्य के लिए 56874 प्रत्याशी जबकि प्रधान के 14897 पदों के लिए 99404 प्रत्याशी मैदान में हैं। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दूसरे चरण का नामंकन शुक्रवार को पूरा हो गया हो गया है। अब जिनको अपना नामांकन पत्र वापस लेना है, वह लोग रविवार को एसडीएम कार्यालयों में प्रार्थना पत्र देंगे।

दूसरे चरण के लिए 20 जिलों में 19 अप्रैल को मतदान होगा। इसके लिए दो लाख के ज्यादा उम्मीदवार मैदान में हैं। जिन उम्मीदवारों ने नामांकन किया है, उनके नामांकन पत्रों की जांच आज होगी। उम्मीदवार 11 अप्रैल तक अपना नामांकन वापस ले सकेंगे। इसके बाद सोमवार को मैदान में बने रहने वाले प्रत्याशियों को चुनाव चिन्ह मिलेगा।

दूसरे चरण में 19 अप्रैल को मुजफ्फरनगर, बागपत, गौतम बुद्ध नगर, बिजनौर, अमरोहा, बदायूं, एटा, मैनपुरी, कन्नौज, इटावा, ललितपुर, चित्रकूट, प्रतापगढ़, लखनऊ, लखीमपुर खीरी, सुल्तानपुर, गोंडा, महाराजगंज, वाराणसी और आजमगढ़ जिलों में मतदान होगा।

उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव चार चरणों में 15, 19, 26 और 29 अप्रैल को होंगे। इसके बाद दो मई को मतों की गिनती होगी और परिणाम घोषित होगा। सभी चरणों के नामांकन तय तारीखों पर सुबह 8 से शाम 5 बजे तक होंगे। मतदान सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक होगा। मतगणना एक साथ 2 मई को सुबह 8 बजे से शुरू होगी और खत्म होने तक चलेगी।

प्रदेश में इस बार के चुनाव में 12.39 करोड़ वोटर हिस्सा लेंगे, इनमें 53 प्रतिशत पुरुष और 47 प्रतिशत महिलाएं हैं। गोंडा की नौ, सीतापुर की तीन और बहराइच की एक ग्राम पंचायत में कार्यकाल पूरा न होने कारण यहां बाद में चुनाव होगा।

चुनाव कार्यक्रम इस प्रकार है- पहला चरण- नामांकन के साथ ही पर्चों की जांच व नाम वापसी तथा चिह्न आवंटन का काम हो गया है। मतदान: 15 अप्रैल। जिलों की संख्या (18) : सहारनपुर, गाजियाबाद, रामपुर, बरेली, हाथरस, आगरा, कानपुर नगर, झांसी, महोबा, प्रयागराज, रायबरेली, हरदोई, अयोध्या, श्रावस्ती, संतकबीर नगर, गोरखपुर, जौनपुर, भदोही।

दूसरा चरण- नामांकन: 7-8 अप्रैल, पर्चों की जांच: 9-10 अप्रैल, नाम वापसी, चिह्न आवंटन: 11 अप्रैल। मतदान: 19 अप्रैल। जिलों की संख्या( 20): मुजफ्फरनगर, बागपत, गौतमबुद्धनगर, बिजनौर, अमरोहा, बदायूं, एटा, मैनपुरी, कन्नौज, इटावा, ललितपुर, चित्रकूट, प्रतापगढ़, लखनऊ, लखीमपुर खीरी, सुलतानपुर, गोंडा, महराजगंज, वाराणसी आजमगढ़।

तीसरा चरण- नामांकन: 13-15 अप्रैल। पर्चों की जांच: 16-17 अप्रैल। नाम वापसी, चिह्न आवंटन: 18 अप्रैल। मतदान: 26 अप्रैल। जिलों की संख्या (20) : शामली, मेरठ, मुरादाबाद, पीलीभीत, कासगंज, फिरोजाबाद, औरैया, कानपुर देहात, जालौन, हमीरपुर, फतेहपुर, उन्नाव, अमेठी, बाराबंकी, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, देवरिया, चंदौली, मिर्जापुर, बलिया।

चौथा चरण-नामांकन :17-18 अप्रैल, पर्चों की जांच: 19-20 अप्रैल, नाम वापसी, चिह्न आवंटन: 21 अप्रैल। मतदान-29 अप्रैल। जिलों की संख्या(17): बुलंदशहर, हापुड़, संभल, शाहजहांपुर, अलीगढ़, मथुरा, फर्रूखाबाद, बांदा, कौशांबी, सीतापुर, अंबेडकरनगर, बहराइच, बस्ती, कुशीनगर, गाजीपुर, सोनभद्र व मऊ।

आंकड़ों की जुबानी

58176 ग्राम पंचायतों में होंगे चुनाव।

7,32,563 ग्राम पंचायत वॉर्ड शामिल होंगे।

75,855 क्षेत्र पंचायत सदस्य चुने जाएंगे।

3051 जिला पंचायत सदस्य होंगे निर्वाचित।

80,762 मतदान केंद्र होंगे।

2,03,050 मतदेय स्थल होंगे। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.