UP Panchayat Chunav 2021: यूपी में पंचायत उपचुनाव में 69 फीसद मतदान, 11 मई को मतगणना

उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत उपचुनाव के लिए रविवार को मतदान हुआ।

UP Panchayat Chunav 2021 उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत उपचुनाव के लिए रविवार को मतदान हुआ। प्रदेश के 43 जिलों में 187 पदों के लिए हुए उपचुनाव में 69.1 प्रतिशत वोट डाले गए। वोटों की गिनती मंंगलवार को प्रात आठ बजे से होगी।

Umesh TiwariSun, 09 May 2021 11:06 PM (IST)

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत उपचुनाव के लिए रविवार को मतदान हुआ। प्रदेश के 43 जिलों में 187 पदों के लिए हुए उपचुनाव में 69.1 प्रतिशत वोट डाले गए। वोटों की गिनती मंंगलवार को प्रात: आठ बजे से होगी। जिन पदों के लिए उपचुनाव हुए उसमें प्रधान के 179 तथा क्षेत्र पंचायत सदस्य के आठ स्थान शामिल है। इन उम्मीदवारों की मौत 10 से 24 अप्रैल के बीच हुई और उसकी वजह से चुनाव रद हुआ था। इनमें से कई लोगों की मौत कोरोना संक्रमण की वजह से हुई।

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव में नामांकन के बाद उम्मीदवारों का निधन होने के कारण उन स्थानों पर उपचुनाव कराए गए हैं। 11 मई को मतगणना संबंधित ब्लाक कार्यालयों में संपन्न होगी। उपचुनाव परिणाम आने के बाद ही नवनिर्वाचित सभी ग्राम प्रधानों को एक साथ शपथ ग्रहण कराई जाएगी।

राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार कुशीनगर जिले 11, एटा, गोरखपुर व ललितपुर में एक-एक, भदोही में तीन, बाराबंकी में सात, फीरोजाबाद में दो, कोशाम्बी में चार, मुजफ्फरनगर, वाराणसी में एक-एक, बहराइच में छह, औरय्या में तीन, जालौन में दो, मीरजापुर में चार, बांदा में तीन, उन्नाव में आठ, बलिया में छह, सीतापुर में एक, अमेठी में तीन, हमीरपुर में एक, सम्भल में दो, सिद्धार्थनगर में एक, कानपुर देहात में दो, मऊ में दो, अंबेडकरनगर में एक, कासगंज में दो, सोनभद्र में पांच, बुलंदशहर में चार, फर्रुखाबाद में दो, मुरादाबाद में तीन और अलीगढ़ में दो रिक्त पदों पर मतदान करवाया गया है।

नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों की शपथ 15 मई तक : पंचायत चुनाव की मतगणना पूरी होने के बाद नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों के शपथ ग्रहण की तैयारी शुरू हो गई है। 15 मई तक शपथ ग्रहण कराने के बाद 29 मई तक जिला व क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष का चुनाव निपटाने का प्रस्ताव है। इससे पहले नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों व ग्राम पंचायत सदस्यों के शपथ ग्रहण और पहली बैठक कराने का प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। 12 से 15 मई तक शपथ ग्रहण कराने की योजना है। 15 मई को प्रदेश में एक साथ नवगठित ग्राम सभा की पहली बैठक कराने का प्रस्ताव है। बैठक के दिन से ही ग्राम पंचायतों के कार्यकाल की शुरुआत मानी जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.