UP MLC Election Result 2021: उच्च सदन में बढ़ी BJP की ताकत, पलड़ा अभी भी SP का ही भारी

विधान परिषद में अब भाजपा सदस्य 25 से बढ़कर 32 होंगे।

UP MLC Election Result 2021 विधान परिषद द्विवार्षिक चुनाव में नाम वापसी अवधि पूरा होने पर गुरुवार को निर्विरोध निर्वाचित सदस्यों को निर्वाचन अधिकारी ब्रजभूषण दुबे ने प्रमाणपत्र सौंपें। 12 सदस्यों के चुनाव में दस सीट जीतने के बाद सदन में भारतीय जनता पार्टी की ताकत बढ़ी है

Publish Date:Thu, 21 Jan 2021 06:01 PM (IST) Author: Dharmendra Pandey

लखनऊ, जेएनएन। UP MLC Election Result 2021:भारतीय जनता पार्टी के दस प्रत्याशियों के निर्विरोध निर्वाचन के बाद उच्च सदन में पार्टी की ताकत बढ़ रही है। डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा सहित भारतीय जनता पार्टी के भले ही दस प्रत्याशियों गुरुवार को निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया, लेकिन विधान परिषद में अभी भी समाजवादी पार्टी का पलड़ा भारी है।

उत्तर प्रदेश विधान परिषद द्विवार्षिक चुनाव में नाम वापसी अवधि पूरा होने पर गुरुवार को अपराह्न साढ़े तीन बजे निर्विरोध निर्वाचित सदस्यों को निर्वाचन अधिकारी ब्रजभूषण दुबे ने प्रमाणपत्र सौंपें। 12 सदस्यों के चुनाव में दस सीट जीतने के बाद सदन में भारतीय जनता पार्टी की ताकत बढ़ी है परंतु पलड़ा अभी भी समाजवादी पार्टी का ही भारी रहेगा।

विधान परिषद में सौ सदस्य हैं। विधान परिषद में आगामी 30 जनवरी के बाद समाजवादी पार्टी की सदस्य संख्या 55 से घटकर 51 रह जाएगी। जिन छह सदस्यों का कार्यकाल पूरा हो रहा है। उसमें से सिर्फ दल नेता अहमद हसन फिर सदन में दिखेंगे। पार्टी प्रवक्ता व पूर्व मंत्री राजेंद्र चौधरी का कार्यकाल गत 18 मई 2018 को पूरा हो गया था। उन्हेंं भी सदन में जाने का मौका मिला है।

विधान परिषद में अब भाजपा सदस्य 25 से बढ़कर 32 होंगे। इनमें नए दस सदस्यों में तीन डॉ. दिनेश शर्मा, स्वतंत्रदेव सिंह और लक्ष्मण आचार्य को फिर से मौका मिला है जबकि गुजरात कैडर के सेवानिवृत्त आइएएस अरविंद कुमार शर्मा के साथ पार्टी के प्रदेश महामंत्री गोविंद नारायण शुक्ला, अश्विनी त्यागी, कुंवर मानवेंद्र सिंह, सलिल विश्नोई, धर्मवीर प्रजापति, सुरेंद्र चौधरी नए सदस्य है। डा. दिनेश शर्मा के अलावा अन्य सभी निर्वाचित सदस्य अपना प्रमाण पत्र लेने विधानभवन के टंडन सभागार पहुंचे थे।

नव निर्वाचित सदस्य: डॉ. दिनेश शर्मा, स्वतंत्रदेव सिंह, लक्ष्मण प्रसाद आचार्य, कुंवर मानवेंद्र सिंह, अरविंद कुमार शर्मा, गोविंद नारायण शुक्ला, सलिल विश्नोई, अश्विनी त्यागी, धर्मवीर प्रजापति, सुरेंद्र चौधरी, अहमद हसन व राजेंद्र चौधरी।

फिर से बने सदस्य: डा. दिनेश शर्मा, अहमद हसन, स्वतंत्रदेव सिंह व लक्ष्मण प्रसाद आचार्य(भाजपा)।

नहीं मिला मौका: आशु मलिक, रमेश यादव, रामजतन राजभर, वीरेंद्र सिंह व साहब सिंह सैनी (सपा) धर्मवीर अशोक, नसीमुद्दीन सिद्दीकी व प्रदीप कुमार जाटव (बसपा)।

राजनैतिक दल - स्थिति- 30 के बाद

समाजवादी पार्टी     55      51

भारतीय जनता पार्टी 25     32

बहुजन समाज पार्टी  8        6

कांग्रेस                  2        दो

अपना दल सोनेलाल एक    एक

शिक्षक दल           एक    एक

निर्दलीय समूह        दो       दो

निर्दलीय                तीन     तीन

रिक्त                    तीन      दो। 

यह भी पढ़ें: UP MLC Election 2021: UP विधान परिषद चुनाव में BJP के दस तथा SP के दोनों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित, मिले निर्वाचन प्रमाण पत्र

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.