UP MLC Election 2021: अरविंद कुमार शर्मा ने लिया पार्टी का सिंबल, BJP के सभी दस प्रत्याशी कल दाखिल करेंगे नामांकन

अरविंद कुमार शर्मा ने राज्य भाजपा मुख्यालय पर आज प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर के हाथों पार्टी का सिंबल प्राप्त किया

UP MLC Election 2021 12 सीट पर 28 जनवरी को होने चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी के सभी दस प्रत्याशी सोमवार को विधान भवन में अपना-अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। इस प्रक्रिया के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ तथा डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद रहेंगे।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 04:14 PM (IST) Author: Dharmendra Pandey

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश विधान परिषद की 12 सीट पर 28 जनवरी को होने चुनाव के लिए भाजपा के दस प्रत्याशी सोमवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। भाजपा प्रत्याशी पीएम नरेंद्र मोदी के बेहद करीबी रिटायर्ड आइएएस अफसर अरविंद कुमार शर्मा ने रविवार को भाजपा कार्यालय जाकर अपना सिंबल प्राप्त किया।

भारतीय जनता पार्टी के सभी दस प्रत्याशी सोमवार को विधान भवन में नामांकन प्रक्रिया के अंतिम दिन अपना-अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। इस प्रक्रिया के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ तथा डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद रहेंगे। भाजपा प्रत्याशी अरविंद कुमार शर्मा ने राज्य भाजपा मुख्यालय पर आज प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर के हाथों पार्टी का सिंबल औपचारिक रूप से प्राप्त किया। शर्मा ने बताया कि 18 जनवरी को विधान परिषद के भाजपा प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन पत्र दाखिल करूंगा। इससे पहले एके शर्मा ने शनिवार को राजभवन जाकर गर्वनर आनंदीबेन पटेल से शुभेच्छा भेंट की। इस दौरान उन्होंने राज्यपाल से विधान परिषद चुनाव के लिए शुभकामना और आशीर्वाद प्राप्त।

भारतीय जनता पार्टी ने शुक्रवार को उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, विधान परिषद सदस्य लक्ष्मण आचार्य के साथ अरविंद कुमार शर्मा को विधान परिषद चुनाव के लिए प्रत्याशी घोषित किया था। शनिवार को भारतीय जनता पार्टी ने कुंवर मानवेंद्र सिंह, अश्विनी त्यागी, गोविंद नारायण शुक्ला, सलिल विश्नोई, डा.धर्मवीर प्रजापति व सुरेंद्र चौधरी को प्रत्याशी घोषित किया। भाजपा के दसों प्रत्याशी की जीत तय है। भाजपा ने 11वां प्रत्याशी नहीं उतारा है, जिससे अब सभी 12 यानी भाजपा के दस तथा समाजवादी पार्टी के दो प्रत्याशियों का निविर्रोध निर्वाचन तय है। भाजपा ने प्रत्याशियों की दूसरी सूची में पुराने कार्यकर्ताओं को तरजीह देने के साथ क्षेत्रीय व सामाजिक संतुलन का ध्यान भी रखा गया है।

पार्टी के दस उम्मीदवारों में दो पिछड़ा वर्ग, दो ब्राह्मण, दो भूमिहार, दो अनुसूचित वर्ग और एक-एक वैश्य व क्षत्रिय समाज से हैं। झांसी निवासी कुंवर मानवेंद्र सिंह पार्टी के पुराने कार्यकर्ता रहे हैं। वह विधान परिषद के प्रोटेम स्पीकर रह चुके हैं और वर्तमान में बुंदेलखंड विकास बोर्ड के अध्यक्ष हैं। अमेठी निवासी गोविंद नारायण शुक्ला भारतीय जनता युवा मोर्चा के पदों पर रहने के अलावा सुलतानपुर व अमेठी के भाजपा जिलाध्यक्ष भी रह चुके हैं। दूसरी बार प्रदेश महामंत्री बने शुक्ला मुख्यालय प्रभारी का जिम्मा भी संभाले हैं। वैश्य समाज से ताल्लुक रखने वाले कानपुर के निवासी सलिल विश्नोई विधानसभा में भी भाजपा का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। प्रदेश उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल रहे विश्नोई संगठन में विभिन्न पदों पर रहे हैं।

मेरठ निवासी अश्विनी त्यागी ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कार्यकर्ता के रूप में लंबे समय तक कार्य करने के बाद भाजयुमो व भाजपा में भी विभिन्न पदों की जिम्मेदारी संभाली है। पश्चिमी क्षेत्र के अध्यक्ष रह चुके त्यागी वर्तमान में प्रदेश महामंत्री व बृज क्षेत्र के प्रभारी हैं। आगरा निवासी डा.धर्मवीर प्रजापति भी संगठन के विभिन्न पदों पर रहे हैं। संगठन में प्रदेश मंत्री रहे धर्मवीर माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष हैं। अनुसूचित जाति वर्ग से आने वाले प्रयागराज के सुरेंद्र चौधरी भी पुराने कार्यकर्ता रहे हैं। भाजपा क्षेत्रीय कमेटी में पदाधिकारी सुरेंद्र को गत विधानसभा चुनाव में सोरांव क्षेत्र से टिकट मिला था। गठबंधन में सीट अपना दल के कोटे में चले जाने के कारण चुनाव नहीं सके। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.