कैबिनेट मंत्री जितिन प्रसाद को प्राविधिक शिक्षा विभाग का जिम्मा, जानें- यूपी के नए राज्य मंत्रियों में किसे क्या मिला विभाग

Yogi Cabinet New Ministers Portfolios Division योगी सरकार के दूसरे बहुप्रतीक्षित मंत्रिमंडल विस्तार में सात नए चेहरों को शामिल करने के बाद सोमवार देर शाम इनके विभागों का बंटवारा हो गया। कैबिनेट मंत्री जितिन प्रसाद को प्राविधिक शिक्षा विभाग का दायित्व प्रदान किया गया है।

Umesh TiwariMon, 27 Sep 2021 09:23 PM (IST)
योगी सरकार के सात नए चेहरों को शामिल करने के बाद सोमवार देर शाम इनके विभागों का बंटवारा हो गया।

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के दूसरे बहुप्रतीक्षित मंत्रिमंडल विस्तार के बाद दूसरे दिन सोमवार को सात नए मंत्रियों को जिम्मेदारियां भी सौंप दी गईं। इन सात में इकलौते कैबिनेट मंत्री जितिन प्रसाद को प्राविधिक शिक्षा मंत्री बनाया गया है। इनके अलावा छह राज्य मंत्रियों को बांटे गए विभागों की जानकारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुद ट्वीट कर साझा की। साथ ही सभी को उज्ज्वल कार्यकाल की शुभकामनाएं भी दीं।

कई महीनों के इंतजार के बाद रविवार को योगी मंत्रिमंडल का दूसरा विस्तार हुआ। इसमें कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद को विधान परिषद सदस्य मनोनीत कर कैबिनेट मंत्री की शपथ दिलाई गई, जबकि जातीय-क्षेत्रीय संतुलन बनाते हुए छह राज्य मंत्री बनाए गए। इसके बाद से नए मंत्रियों को विभाग बांटने को लेकर मंथन चल रहा था। मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर रविवार देर रात तक बैठक चलती रही। सोमवार को भी इस पर विचार विमर्श के बाद रात को योगी ने ट्वीट कर जानकारी दी कि मंत्रिमंडल के नए सदस्यों को विभाग बांट दिए गए हैं।

कैबिनेट मंत्री जितिन प्रसाद को प्राविधिक शिक्षा मंत्री बनाया गया है। योगी कैबिनेट में पहले यह विभाग कमल रानी वरुण के पास था, जिनका कोरोना के चलते निधन हो गया। उसके बाद से यह विभाग मुख्यमंत्री के पास ही था। पल्टू राम को सैनिक कल्याण, होमगार्ड, प्रांतीय रक्षक दल एवं नागरिक सुरक्षा राज्यमंत्री बनाया गया है। इन विभागों के कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान थे। उनके निधन के बाद सीएम ने यह विभाग अपने पास ही रखे थे, जबकि राज्यमंत्री कोई नहीं था।

वहीं, सहकारिता विभाग में कैबिनेट मंत्री मुकुट बिहारी के साथ राज्यमंत्री के रूप में डा.संगीता बलवंत को जिम्मेदारी दी गई है। अभी तक राज्यमंत्री कोई नहीं था। धर्मवीर प्रजापति को औद्योगिक विकास विभाग का राज्यमंत्री बनाया गया है। पहले यह जिम्मेदारी सुरेश राणा निभा रहे थे, जिन्हें पहले विस्तार में प्रोन्नत कर गन्ना विकास एवं चीनी मिल विभाग का कैबिनेट मंत्री बना दिया गया था। छत्रपाल सिंह गंगवार को राजस्व विभाग मिला है। कैबिनेट मंत्री के रूप यह विभाग सीएम ने अपने पास ही रखा है। संजीव कुमार को समाज कल्याण, अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण विभाग सौंपा गया है। इन विभागों के राज्यमंत्री का जिम्मा पहले से जीएस धर्मेश निभा रहे हैं। अब दो-दो राज्यमंत्री होंगे।

दिनेश खटीक को जल शक्ति एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग का राज्यमंत्री बनाया गया है, जबकि बलदेव औलख के पास राज्यमंत्री के रूप में जल शक्ति पहले से है। इससे पहले विजय कश्यप के पास राजस्व और बाढ़ नियंत्रण विभाग थे। उनके निधन के बाद खाली इन विभागों में छत्रपाल को राजस्व और दिनेश खटीक को बाढ़ नियंत्रण दे दिया गया है। कोशिश यही की गई है कि पहले से विभाग संभाल रहे राज्यमंत्रियों के अधिकारों में कटौती न कर खाली विभागों में ही नए मंत्रियों का समायोजन किया जाए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर नए मंत्रियों को शुभकामनाएं हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल में रविवार को शामिल हुए सभी नए सदस्यों को विभागों का दायित्व प्राप्त हो गया है। मुझे विश्वास है कि आप सभी के कुशल, अनुभवी एवं कर्मठ नेतृत्व में संबंधित विभाग विकास की नई ऊंचाइयों को स्पर्श करेंगे। आप सभी के उज्ज्वल कार्यकाल हेतु अनंत शुभकामनाएं।

अब ये है योगी मंत्रिमंडल का स्वरूप

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ : गृह, आवास एवं शहरी नियोजन, राजस्व, खाद्य एवं रसद, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन, अर्थ एवं संख्या, भूतत्व एवं खनिकर्म, कर निबंधन, कारागार, सामान्य प्रशासन, सचिवालय प्रशासन, गोपन, सतर्कता, नियुक्ति, कार्मिक, सूचना, निर्वाचन, संस्थागत वित्त, नियोजन, राज्य संपत्ति, नगर भूमि, उत्तर प्रदेश पुनर्गठन समन्वय, प्रशासनिक सुधार, कार्यक्रम कार्यान्वयन, राष्ट्रीय एकीकरण, अवस्थापना, भाषा, वाह्य सहायतित परियोजना, अभाव, सहायता एवं पुनर्वास, लोक सेवा प्रबंधन, किराया नियंत्रण, उपभोक्ता संरक्षण, बांट माप विभाग, प्रोटोकाल, प्राविधिक शिक्षा, सैनिक कल्याण, होमगार्ड, प्रांतीय रक्षक दल, नागरिक सुरक्षा। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य : लोक निर्माण, खाद्य प्रसंस्करण, मनोरंजन कर, सार्वजनिक उद्यम उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा : माध्यमिक शिक्षा, उच्च शिक्षा, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, इलेक्ट्रानिक्स, सूचना प्रौद्योगिकी

कैबिनेट मंत्री

सूर्यप्रताप शाही : कृषि, कृषि शिक्षा, कृषि अनुसंधान सुरेश कुमार खन्ना : वित्त, संसदीय कार्य, चिकित्सा शिक्षा स्वामी प्रसाद मौर्य : श्रम, सेवायोजन, समन्वय सतीश महाना : औद्योगिक विकास दारा सिंह चौहान : वन, पर्यावरण, जंतु उद्यान रमापति शास्त्री : समाज कल्याण, अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण जय प्रताप सिंह : चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, परिवार कल्याण, मातृ एवं शिशु कल्याण ब्रजेश पाठक : विधायी, न्याय, ग्रामीण अभियंत्रण सेवा लक्ष्मी नारायण चौधरी : दुग्ध विकास, पशुधन, मत्स्य श्रीकांत शर्मा : ऊर्जा, अतिरिक्त ऊर्जा स्त्रोत राजेंद्र प्रताप सिंह मोती : ग्राम्य विकास, समग्र ग्राम विकास सिद्धार्थ नाथ सिंह : खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम उद्योग, हथकरघा एवं वस्त्र उद्योग, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम, निर्यात प्रोत्साहन, एनआरआइ, निवेश प्रोत्साहन मुकुट बिहारी वर्मा : सहकारिता आशुतोष टंडन : नगर विकास, शहरी समग्र विकास, नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन नंदगोपाल गुप्ता नंदी : नागरिक उड्डयन, राजनीतिक पेंशन, अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ एवं हज डा. महेंद्र सिंह : जल शक्ति, बाढ़ नियंत्रण सुरेश राणा- गन्ना विकास, चीनी मिलें भूपेंद्र सिंह चौधरी : पंचायती राज अनिल राजभर : पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तिकरण राम नरेश अग्निहोत्री : आबकारी, मद्यनिषेध जितिन प्रसाद : प्राविधिक शिक्षा

राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)

उपेंद्र तिवारी : खेल, युवा कल्याण, पंचायती राज डा. धर्म सिंह सैनी : आयुष, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन स्वाति सिंह : महिला कल्याण, बाल विकास एवं पुष्टाहार कपिल देव अग्रवाल : व्यावसायिक शिक्षा, कौशल विकास सतीश चंद्र द्विवेदी : बेसिक शिक्षा अशोक कटारिया : परिवहन, संसदीय कार्य श्रीराम चौहान : उद्यान, कृषि विपणन, कृषि विदेश व्यापार, कृषि निर्यात डा. नीलकंठ तिवारी : पर्यटन, संस्कृति, धर्मार्थ कार्य, प्रोटोकाल रविंद्र जायसवाल : स्टांप तथा न्यायालय शुल्क, पंजीयन

राज्य मंत्री

गुलाब देवी : माध्यमिक शिक्षा जयप्रकाश निषाद : पशुधन, मत्स्य एवं दुग्ध विकास जयकुमार सिंह जैकी : कारागार, लोक सेवा प्रबंधन अतुल गर्ग : चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, परिवार कल्याण, मातृ एवं शिशु कल्याण रणवेंद्र प्रताप सिंंह धुन्नी : खाद्य एवं रसद, नागरिक आपूर्ति मोहसिन रजा : अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ हज गिरीश चंद्र यादव : आवास एवं शहरी नियोजन बलदेव औलख : जल शक्ति मनोहर लाल मन्नू कोरी : श्रम, सेवायोजन संदीप सिंह : वित्त, प्राविधिक शिक्षा, चिकित्सा शिक्षा सुरेश पासी : गन्ना विकास, चीनी मिलें अनिल शर्मा : वन, पर्यावरण, जंतु उद्यान महेश चंद्र गुप्ता : नगर विकास, शहरी समग्र विकास, नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन आनंद स्वरूप शुक्ला : संसदीय कार्य, ग्राम्य विकास, समग्र ग्राम विकास डा. गिरिराज सिंह धर्मेश : समाज कल्याण, अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण लाखन सिंह राजपूत : कृषि, कृषि शिक्षा, कृषि अनुसंधान नीलिमा कटियार : उच्च शिक्षा, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी उदयभान सिंह : खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम उद्योग, वस्त्र उद्योग, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम, निर्यात प्रोत्साहन चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय : लोक निर्माण रमाशंकर सिंह पटेल : ऊर्जा, अतिरिक्त ऊर्जा स्त्रोत अजीत सिंह पाल : इलेक्ट्रानिक्स, सूचना प्रौद्योगिकी छत्रपाल सिंह गंगवार : राजस्व पल्टू राम : सैनिक कल्याण, होमगार्ड, प्रांतीय रक्षक दल एवं नागरिक सुरक्षा डा.संगीता बलवंत : सहकारिता संजीव कुमार : समाज कल्याण, अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण दिनेश खटीक : जल शक्ति एवं बाढ़ नियंत्रण धर्मवीर प्रजापति : औद्योगिक विकास

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
You have used all of your free pageviews.
Please subscribe to access more content.
Dismiss
Please register to access this content.
To continue viewing the content you love, please sign in or create a new account
Dismiss
You must subscribe to access this content.
To continue viewing the content you love, please choose one of our subscriptions today.