सीतापुर में दोस्तों के साथ नहर में नहा रहे दो युवक डूबे, गोताखोर कर रहे तलाश

सीतापुर में शारदा सहायक खीरी ब्रांच नहर में रविवार को नहाते समय दो युवक डूब गए। गोताखोरों द्वारा युवकों की तलाश की जा रही है। दोनों युवक तालगांव थाना क्षेत्र के जमौरा गांव के निवासी बताए जा रहे हैं।

Anurag GuptaSun, 13 Jun 2021 06:57 PM (IST)
शारदा सहायक खीरी ब्रांच नहर में रविवार को नहाते समय दो युवक डूब गए

सीतापुर में दोस्तों के साथ नहर में नहा रहे दो युवक डूबे, गोताखोर कर रहे तलाश

Two youths drown in canal with friend in Sitapur divers search

Sitapur incident, drowned in the canal, sharda shayak khiri branch, सीतापुर की घटना, नहर में हादसा, युवक डूबे, शारदा सहायक खीरी ब्रांच

सीतापुर में शारदा सहायक खीरी ब्रांच नहर में रविवार को नहाते समय दो युवक डूब गए। गोताखोरों द्वारा युवकों की तलाश की जा रही है। दोनों युवक तालगांव थाना क्षेत्र के जमौरा गांव के निवासी बताए जा रहे हैं।

लखनऊ, जेएनएन। सीतापुर में शारदा सहायक खीरी ब्रांच नहर में रविवार दोपहर डेढ़ बजे कई युवक नहा रहे थे। इस दौरान दो लोग गहरे पानी में चले गए और वे डूब गए। घटना तालगांव थाना क्षेत्र के जमौरा गांव के पास की है। बताया जा रहा है कि युवक बिसवां से अपने साथियों के साथ बाइकों से आए थे। गोताखोर नहर में डूबे युवकों की तलाश में लगे हैं। कई घंटे तलाश के बाद भी दोनों युवकों का पता नहीं चल पाया है। मौके पर लहरपुर सीओ यादवेंद्र यादव और कोतवाली प्रभारी निरीक्षक करुणेश सिंह भी मौजूद हैं।

नहर के पानी में डूबे युवकों में बिसवां कस्बे के संजय नगर के पुनीत पांडेय और शुभम सिंह हैं। जगदंबा प्रसाद के बेटे पुनीत की आयु 25 वर्ष और स्वर्गीय जोगिंदर सिंह के बेटे शुभम सिंह की आयु 20 वर्ष बताई जा रही हैै। पुनीत व शुभम अपने दस दोस्तों के साथ नहर में नहाने के लिए आए थे। इनमें हिमांशु, नितिन, रवि कुमार वर्मा, सुमित, विशाल हैं। शेष तीन दोस्त पुनीत और शुभम को नहर के पानी में डूबता देख भयभीत होकर अपनी बाइक से भाग गए थे। शोरगुल सुनकर मौके पर कुछ ग्रामीण पहुंच गए और स्थिति काबू नहीं कर पाने पर उन लोगों ने पुलिस को खबर की। मौके पर पहुंचे कोतवाली प्रभारी करुणेश सिंह ने लहरपुर से कुछ तैराकों को बुलाया। जिस पर छह तैराक नहर के पानी में डूबे पुनीत व शुभम की तलाश करने में जुटे हैं।

तीन बहनों में इकलौता था शुभम सिंह

तालगांव कोतवाली प्रभारी करुणेश सिंह के मुताबिक, शुभम सिंह अपनी तीन बहनों में इकलौता भाई था। कुछ समय पहले उसके पिता जोगिंदर सिंह की भी मौत हो गई थी। भाई के नहर में डूबने की खबर पाकर मां और बहनों का रो-रोकर बुरा हाल था। इसी तरह पुनीत पांडेय अपने तीन भाइयों में दूसरे नंबर का था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.