चलती ट्रेन से यात्री को फेंकने के मामले में TTE सस्पेंड, भाई ने दर्ज कराया मारपीट का मुकदमा

लखनऊ: जीआरपी पहले ही भेज चुकी है टीटीई को जेल, दूसरा टीटीई हो गया था फरार।

लखनऊ सिकंदराबाद गोरखपुर स्पेशल की बोगी डी-3 में गोविंद का था आरक्षण। जीआरपी पहले ही भेज चुकी है टीटीई को जेल दूसरा टीटीई हो गया था फरार। आरोप लगाया है कि टीटीई ने यात्री को नहीं धकेला बल्कि ट्रेन रुकने पर वह सिर्फ देखने गया था।

Divyansh RastogiSun, 16 May 2021 08:39 PM (IST)

लखनऊ, जेएनएन। राजधानी के बादशाहनगर रेलवे स्टेशन पर यात्री को ट्रेन से लात मारकर नीचे गिराने वाला आरोपी टीटीई जय नारायण यादव को रेलवे प्रशासन ने रविवार को निलंबित कर दिया गया। वहीं, जीआरपी ने मामले की जांच शुरू कर दी है। उधर, आरोपी टीटीई के भाई जय सिंह ने भी चारबाग जीआरपी को यात्री के चचेरे भाई पर मारपीट के आरोप में मामला दर्ज कराने के लिए तहरीर दी है। 

दरअसल, ट्रेन संख्या 02590 सिकंदराबाद-गोरखपुर स्पेशल में ट्रेन में टिकट बनाने को लेकर यात्री और टीटीई में विवाद हो गया था। गोरखपुर चौरी-चौरा निवासी गोविंद देवरिया के रहने वाले अपने साले वसंत के साथ विगत 13 मई को सिकंदराबाद से गोरखपुर के लिए चले थे। वह बोगी डी-3 में थे. बोगी में वसंत का चचेरा भाई तारकेश्वर भी यात्रा कर रहा था। शनिवार को जब ट्रेन बादशाह नगर रेलवे स्टेशन पहुंची तो उसमें संत कबीर नगर निवासी टीटीई जय नारायण यादव और उनका एक साथी टीटीई भी टिकट चेकिंग कर रहे थे। टीटीई की वसंत के टिकट को लेकर झड़प हो गई। इस बीच ट्रेन बादशाहनगर स्टेशन से चल पड़ी थी। आरोप है कि टीटीई जय नारायण यादव ने वसंत को लात मार दी। जिससे वह असंतुलित होकर ट्रेन से गिर गया और उसकी मौत हो गई। इसके बाद गुस्साए यात्रियों ने टीटीई की जमकर पिटाई कर दी। वहीं, उसका साथी टीटीई मौके से भाग निकला। यात्रियो ने मामले की जानकारी 112 नंबर पर दी। पुलिस ने आरोपी टीटीई का प्राथमिक उपचार कराया। वहीं, जीआरपी ने मृतक के जीजा गोविंद की ओर से जीआरपी थाना चारबाग में मामला दर्ज कराया गया। जीआरपी ने आरोपी टीटीई को जेल भेज दिया। जबकि रविवार को उसे निलंबित भी कर दिया गया। इसी क्रम में जीआरपी ने मामले की जांच भी शुरू कर दी। चारबाग जीआरपी प्रभारी निरीक्षक अंजनी कुमार मिश्र ने बताया कि विवेचना लखनऊ सिटी स्टेशन प्रभारी पप्पू सिंह को दी गई है। मामले की जांच शुरू कर दी गई है। जल्द रिपोर्ट तैयार हो जाएगी।

टीटीई के भाई ने दी मारपीट की तहरीर: आरोपी टीटीई जयनारायण यादव के भाई जय सिंह ने चारबाग जीआरपी निरीक्षक अंजनी कुमार मिश्रा को मृतक यात्री के चचेरे भाई तारकेश्वर के खिलाफ तहरीर दी है। तहरीर में कहा गया है कि टीटीई जय नारायण को सूचना मिली कि ट्रेन की डी 3 बोगी में किसी व्यक्ति द्वारा धन वसूली की जा रही है। जब वह बोगी में पहुंचे तो एक व्यक्ति के ट्रेन से गिरने की सूचना मिली। वहां मौजूद मृतक के चचेरे भाई तारकेश्वर ने टीटीई से गाली-गलौज करते हुए मारपीट की और सरकारी कार्य में बाधा डाली। इससे टीटीई की नाक, मुंह पर चोटें आईं। इतना ही नहीं इसी दौरान टिकट चालान की धनराशि का बैग और मोबाइल भी गायब हो गए। उधर, पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने मामले में अपना पक्ष रखते हुए बताया कि बसंत (मृतक) बगैर टिकट यात्रा कर रहा था। ऐसा लगता है कि आपसी विवाद के बाद घटना हुई है। दूसरी ओर पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के कमर्शियल विभाग की सोशल विंग ने मृतक के परिजनों की मदद के लिए हाथ बढ़ाया है। 

प्लेटफॉर्म डायमेंशन की भी होगी जांच: बादशाहनगर रेलवे स्टेशन पर बने प्लेटफॉर्म के डायमेंशन की भी जांच होगी। पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के आला अधिकारियों ने बताया कि पहले तो प्लेटफॉर्म पर जब ट्रेन होती है तो ट्रेन और प्लेटफॉर्म के बीच इतनी जगह नहीं होती, जिससे यात्री की मौत हो सके। बावजूद इसके प्लेटफॉर्म के डायमेंशन की जांच कार्रवाई जाएगी।  इसके लिए इंजीनियरिंग विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। वह अपनी रिपोर्ट देंगे, अगर प्लेटफॉर्म के डायमेंशन में ऊंच नीच मिलती है तो सम्बंधित अधिकारी पर भी कार्रवाई की जाएगी। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.