जेठ ने बनाया अश्लील वीडियो और पति ने पीटकर गिराया गर्भ, फिर घर से निकाल बोला तीन तलाक

लखनऊ की खदरा निवासी एक महिला ने पति पर तीन तलाक देने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने पति और जेठ समेत छह लोगों पर मड़ियांव कोतवाली में एफआइआर दर्ज कराई है। आरोप है कि दहेज की मांग पूरा न करने पर आरोपित महिला को प्रताड़ित कर रहे थे।

Dharmendra MishraSat, 04 Dec 2021 08:25 PM (IST)
लखनऊ में दहेज की मांग पूरी न होने पर महिला को दे दिया तीन तलाक। पति समेत छह पर मुकदमा।

लखनऊ, जागरण संवाददाता।  तीन तलाक के खिलाफ भले ही सरकार ने सख्त कानून बना दिया हो, लेकिन इस तरह के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। लखनऊ की खदरा निवासी एक महिला ने पति पर तीन तलाक देने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने पति और जेठ समेत छह लोगों पर मड़ियांव कोतवाली में एफआइआर दर्ज कराई है। आरोप है कि दहेज की मांग पूरा न करने पर आरोपित महिला को प्रताड़ित कर रहे थे और घर से बाहर निकाल दिया।

पीड़िता के मुताबिक जून 2020 में मड़ियांव निवासी जसीम से उनका निकाह हुआ था। आरोप है कि ससुराल में कम दहेज लाने को लेकर ताना सुनाया जाता था। कई बार उसने पति से इस बारे में कहा तो उसने भी ससुराल वालों का ही पक्ष लिया। इससे महिला लगातार मानसिक रूप से प्रताड़ित हो रही थी, लेकिन आरोपित उस पर रहम की जगह क्रूरता दिखा रहे थे।

पिटाई से गिर गया गर्भः महिला के गर्भवती हो जाने पर पति ने गर्भपात कराने के लिए कहा। इंकार करने पर पति ने उसकी इतनी बेदर्दी से पिटाई किया कि गर्भ गिर गया। इससे महिला की जान पर आफत बन आई। आरोप है कि जब पीड़िता ने थाने में शिकायत करने पहुंची तो पुलिस ने मामूली धाराओं में एफआइआर दर्ज कर उसे वापस भेज दिया। इसके बाद से ससुराल वालों की प्रताड़ना और बढ़ गई।

जेठ ने बनाया नहाते हुए वीडियोः आरोप है कि जेठ ने महिला का नहाते हुए वीडियो बना लिया। पीड़िता सबकुछ सहती रही। इसी बीच 20 नवंबर को पति ने पीड़िता से घर जाकर और दहेज लेकर आने के लिए कहा। इंकार करने पर आरोपित ने महिला को तीन तलाक दे दिया और घर से निकाल दिया। मायके वालों ने सुलह समझौते का प्रयास किया, लेकिन आराेपित नहीं माने। इसके बाद पीड़िता ने रिपोर्ट दर्ज कराकर कार्रवाई की मांग की।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.