तीन मासूमों समेत चार की हत्या के तीन आरोपी गिरफ्तार, बहराइच पहुंचे डीआईजी ने किया राजफाश

बहराइच में घटना के खुलासे को लेकर पुलिस की चार टीमों का पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह खुद नेतृत्व कर रही थीं। देवीपाटन मंडल के पुलिस उप महानिरीक्षक डा. राकेश सिंह पूरे मामले में नजर बनाए हुए थे। डीआइजी ने बताया कि महिला एवं तीनों बच्चे मुंबई के रहने वाले थे।

Anurag GuptaSat, 18 Sep 2021 05:50 PM (IST)
आला कत्ल बरामद, मुंबई की रहने वाली थी मृतका व बच्चे।

बहराइच, संवाद सूत्र। तीन बच्चों की गला काटकर व महिला का सिर कलमकर की गई निर्मम हत्या का पुलिस ने राजफाश कर दिया। मामले में ततेहरा निवासी तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपितों के निशानदेही पर पुलिस ने आला कत्ल बरामद कर लिया है। आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर उन्हें न्यायालय भेज दिया गया।

11 सितंबर को फखरपुर के गजाधरपुर ग्राम पंचायत के बसंतापुर संपर्क मार्ग पर सड़क किनारे गन्ने के खेत में आठ वर्ष के लड़के व 10 वर्ष की लड़की का गला रेतकर शव फेंक दिया गया था। घटना के 24 घंटे नहीं बीते थे कि 12 सितंबर को फिर लखनऊ-बहराइच हाईवे से 100 मीटर की दूरी पर ग्राम पंचायत माधवपुर निवासी रामगोपाल के धान के खेत से चार वर्षीय बालिका व बालकराम के गन्ने के खेत में 35 वर्षीय महिला का सिर काटकर फेंका गया शव बरामद हुआ था।

घटना के खुलासे को लेकर पुलिस की चार टीमों का गठन कर पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह खुद नेतृत्व कर रही थीं। देवीपाटन मंडल के पुलिस उप महानिरीक्षक डा. राकेश सिंह पूरे मामले में नजर बनाए हुए थे। डीआइजी ने बताया कि महिला एवं तीनों बच्चे मुंबई शहर के रहने वाले थे। गत नौ सितंबर को उन्हें फखरपुर के ततेहरा निवासी सलमान, दानिश व ननकू मुंबई से पुष्पक एक्सप्रेस के एसी कोच एस-6 व एस-7 से लखनऊ लेकर आए थे। सभी एक रात होटल में रुके।

दूसरे दिन उन्हें सुनियोजित तरीके से फखरपुर इलाके में लाया गया और एक-एक कर चारों को मौत के घाट उतार कर शवों को इधर-उधर फेंक दिया गया। जघन्य वारदात को अंजाम देने के बाद सभी वापस मुंबई चले गए। डीआइजी ने बताया कि घटनास्थल पर मिले एक पर्चे व सर्विलांस के सहयोग से पुलिस टीमों को मुंबई भेजकर तीनों हत्यारोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया। सभी ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है।

उन्होंने इस सफलतम राजफाश के लिए एसपी सुजाता सिंह के कुशल नेतृत्व समेत टीम के सदस्यों एएसपी कुंवर ज्ञानंजय सिंह, सीओ कमलेश सिंह, एसओ राजेश कुमार, कोतवाल नानपारा संजय सिंह, सर्विलांस एवं साइबर सेल प्रभारी निखिल श्रीवास्तव, एसओजी प्रभारी मुकेश सिंह, सौरभ सिंह, चंद्रमाेहन सिंह सहित पूरी की सराहना की।

महाराष्ट्र के मुंब्रा निवासी के रूप में हुई शिनाख्त : उप महानिरीक्षक ने बताया कि मृतकों की शिनाख्त 35 वर्षीय मैरी काशी कत्रायन, 11 वर्षीय राजाती, सात वर्षीय जोसेफ, चार वर्षीय सौंदर्या निवासी गण मुंब्रादेवी, आर्केट, दिवाठष्ट थाना मुंब्रा जिला थाने राज्य महाराष्ट्र के रूप में की गई है।

अफसरों ने की इनाम की बौछार : चार नृशंस हत्याओं का राजफाश करने वाली पुलिस टीम पर अफसरों ने इनाम की बाैछार कर दी है। मामले में उत्तर प्रदेश शासन ने एक लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की तो डीआइजी की तरफ से पुलिस टीम को 50 हजार व एसपी की तरफ से 25 हजार का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.