सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव बोले- अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमि खरीद की हो निष्पक्ष जांच

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में भूमि खरीद मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। इसमें करोड़ों रुपये की हेराफेरी का मामला बताया जा रहा है। जांच प्रभावित न हो इसलिए ट्रस्ट के सभी सदस्यों को इस्तीफा देना चाहिए।

Umesh TiwariWed, 16 Jun 2021 09:18 AM (IST)
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमि खरीद की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में भूमि खरीद मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। इसमें करोड़ों रुपये की हेराफेरी का मामला बताया जा रहा है। जांच प्रभावित न हो इसलिए ट्रस्ट के सभी सदस्यों को इस्तीफा देना चाहिए। अखिलेश यादव ने कहा कि अयोध्या के धर्मपुर गांव में किसानों की भूमि एयरपोर्ट के लिए अधिगृहीत की जा रही है। किसानों को समुचित दर से मुआवजा मिलना चाहिए।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि चार साल में जनता को भाजपा से धोखा ही मिला है। सरकार की गलत नीतियों और सत्ता के दुरुपयोग से समाज का हर वर्ग परेशान है। कोरोना संकटकाल में भाजपा सरकार की भूमिका शर्मनाक रही है। महंगाई ने सारे पुराने रिकार्ड तोड़ दिए हैं। घरेलू अर्थव्यवस्था पूरी तरह चौपट है। पेट्रोल-डीजल के दामों में जबरदस्त बढ़त से खाद्य सामग्री, परिवहन सभी महंगे हो गए हैं। नोटबंदी व जीएसटी ने व्यापारियों का धंधा चौपट कर दिया है।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि सच तो यह है कि भाजपा ने एक भी अपना वादा पूरा नहीं किया। नौजवानों से रोजगार देने के नाम पर छल हुआ। भर्ती के विज्ञापन बहुत छपे, लेकिन भर्ती कहीं नहीं हुई। पूर्वांचल एक्सप्रेस चार वर्ष में भी नहीं बना। प्रदेश में एक यूनिट बिजली का उत्पादन नहीं हुआ। उल्टे उसे महंगा कर दिया गया।

अखिलेश यादव ने प्रदेश के मतदाताओं को पंचायत चुनावों में समाजवादी पार्टी को बहुमत से जिताने के लिए धन्यवाद दिया है। उन्होंने कहा कोरोना संकट और प्रशासनिक दबाव के बावजूद बड़ी तादाद में समाजवादी पार्टी को जीत दिलाकर लोगों ने लोकतंत्र को बचाने का भी काम किया है। समाज में भेदभाव और विपक्ष के प्रति बदले की भावना से कार्रवाई होने से भाजपा सरकार जनता की निगाहों में अपनी साख खो चुकी है। 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए अब बस गिने चुने दिन ही रह गए हैं, भाजपा की विदाई और समाजवादी सरकार बनने में। 350 से ज्यादा विधायकों की ताकत के साथ समाजवादी पार्टी की सरकार बहुमत में आएगी।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में महंगाई ने सारे पुराने रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। 12.94 प्रतिशत के सर्वोच्च स्तर पर बढ़ी महंगाई से घरेलू अर्थव्यवस्था पूरी तरह चौपट है। पेट्रोल-डीजल के दामों में जबरदस्त बढ़त से खाद्य सामग्री, परिवहन सभी महंगे हो गए हैं। नोटबंदी, जीएसटी ने व्यापारियों का धंधा चौपट कर दिया। मंडियों की व्यवस्था चौपट होने से किसान बदहाल है। किसानों पर तीन काले कानून थोप दिए गए इसलिए किसान आक्रोशित और आंदोलित हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.