एमपी से आकर यूपी में बच्‍चों से कराते थे मोबाइल चोरी, बाराबंकी से छह गिरफ्तार, 43 फोन बरामद

बाराबंकी, गोंडा, बहराइच, बस्ती, अयोध्या, सुलतानपुर आदि जनपदों में करते थे चोरी।

एसपी यमुना प्रसाद ने बताया कि 12 अप्रैल को पूरे पंडित मजरे पडारावां के राजेंद्र कुमार और बसंतपुर के मायाराम के मोबाइल सेमरावां बाजार में जेब से चोरी हो गए थे। दोनों के मुकदमा दर्ज कर एसओ कोठी को टास्क दी गई थी।

Anurag GuptaWed, 14 Apr 2021 04:34 PM (IST)

बाराबंकी, जेएनएन। मध्य प्रदेश और ललितपुर जिले से आकर मोबाइल चोरी करने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह का कोठी पुलिस ने राजफाश किया है। गिरोह के छह सदस्यों को पकड़कर पुलिस ने चोरी के 43 मोबाइल सहित वारदात में प्रयोग की जाने वाली चार बाइक भी बरामद की है। एसपी यमुना प्रसाद ने बताया कि 12 अप्रैल को पूरे पंडित मजरे पडारावां के राजेंद्र कुमार और बसंतपुर के मायाराम के मोबाइल सेमरावां बाजार में जेब से चोरी हो गए थे। दोनों के मुकदमा दर्ज कर एसओ कोठी को टास्क दी गई थी। चोरी गए इन्हीं दोनों मोबाइल को सर्विलांस की मदद से एसओ रितेश पांडेय ने बुधवार सुबह कैसरगंज में इस गिरोह छह सदस्यों को धर दबोचा।

पकड़े गए आरोपितों में ललितपुर के मेहरोनी ग्राम सिंघेपुर का देवेंद्र उर्फ देबिन, इशत पाल, नसीब और मध्य प्रदेश के दतिया जिले के देहता में रहने वाला इंकू, टंटू व पथरिया का धनवीर शामिल हैं। इनके पास से पुलिस ने कुल 43 मोबाइल बरामद किए हैं, जिनमें सर्वाधिक ओप्पो, वीवो और सैमसंग व रेडमी आदि कमंनी के मोबाइल शामिल हैं। इनमें राजेंद्र व मायाराम के मोबाइल भी बरामद हो गए हैं।

ऐसे करते थे वारदात : पूछताछ में आरोपितों ने बताया गया कि उनका गिरोह ललितपुर और दतिया मध्यप्रदेश से बाराबंकी, गोंडा, बहराइच, बस्ती, अयोध्या, सुलतानपुर आदि जिले के मुख्यालय के बाहर अपना डेरा लगाते थे। गिरोह की महिलाएं आस-पास के गांव/कस्बों में आर्टीफिशियल ज्वैलरी बेचती थी और हम अपने बच्चों को बाजारों एवं कस्बों में बाइक से ले जाकर छोड़ देते है। यह बच्चे दुकान व व्यक्तियों के जेब से मोबाइल चोरी कर लेते थे। काफी संख्या में मोबाइल एकत्र होने पर यह लोग वापस जाकर वहीं सस्ते दामों पर मोबाइल बेच देते थे। एसपी ने टीम की सराहना की है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.