रायबरेली में दुकानदार की लाठी-डंडे से पीटकर हत्या, पंचायत घर के पास खेत में मिला खून से लथपथ शव

पुलिस रात में उसके साथ खाने-पीने वालों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। उक्त गांव निवासी संतलाल उर्फ बेचेलाल की लइया-चना की दुकान थी। वह सोमवार की रात गांव में ही अपने साथियों के साथ था। बाहर ही खाने-पीने की व्यवस्था थी।

Anurag GuptaTue, 07 Dec 2021 12:59 PM (IST)
रात में साथ खाने-पीने वालों को पुलिस ने उठाया, पूछताछ जारी।

रायबरेली, संवादसूत्र। हरचंदपुर के चकसुंडा गांव में मंगलवार की सुबह दुकानदार का खून से लथपथ शव पंचायत भवन के निकट खेत में पड़ा मिला। लाठी-डंडे से पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी गई। पुलिस रात में उसके साथ खाने-पीने वालों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। उक्त गांव निवासी संतलाल उर्फ बेचेलाल की लइया-चना की दुकान थी। वह सोमवार की रात गांव में ही अपने साथियों के साथ था। बाहर ही खाने-पीने की व्यवस्था थी। देर रात तक जब वह घर नहीं लौटा तो परिवार के लोगों ने उसकी खोजबीन शुरू कर दी।

मंगलवर की सुबह गांव के बाहर पंचायत भवन के पास उसका खून से लथपथ शव पड़ा मिला। सिर पर चोट के निशान थे। आशंका जताई गई कि लाठी-डंडे से पीटकर उसकी हत्या कर दी गई। सूचना पर पुलिस जांच करने पहुंची। हत्या की बात जब अफसरों को पता चली तो घटनास्थल पर फोरेंंसिक टीम भेजी गई, जिसने साक्ष्य संकलित किए। एसपी श्लोक कुमार भी तहकीकात करने पहुंचे। गांव वालों ने बताया कि संतलाल रात में गांव के ही तीन-चार लोगों के साथ निकला था। हो सकता है कि उन्हीं लोगों ने वारदात कारित की हो।

पुलिस ने आनन-फानन चार संदिग्धों को हिरासत में ले लिया और पूछताछ शुरू कर दी। हालांकि, अभी तक हत्या की वजह स्पष्ट नहीं हो सकी है। वारदात को लेकर गांव के लोग तरह-तरह की बातें करते मिले। संतलाल अपने घर का इकलौता था। संपत्ति के लालच में हत्या किए जाने की भी चर्चा रही।

'चकसुंडा गांव में हत्या के प्रकरण में चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जाएगी। जल्द ही वारदात का राजफाश किया जाएगा।'  - श्लोक कुमार, पुलिस अधीक्षक

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.