केजीएमयू में सीनियर्स ने जूनियर स्‍टूडेंट्स को लगाया गले, एमबीबीएस-बीडीएस 2019 बैच को दी गई फेयरवेल पार्टी

केजीएमयू में माहौल बदला बदला सा दिखा। सीनियर व जूनियर छात्र एक-दूसरे के आमने-सामने थे लेकिन इस बार जूनियर्स में सीनियर्स स्‍टूडेंट्स को लेकर खौफ नहीं बल्कि प्‍यार का भाव था। सीनियर छात्र-छात्राओं ने जूनियर छात्रों को गले लगाया। क्योंकि खास अवसर फेयरवेल पार्टी का था।

Rafiya NazSun, 26 Sep 2021 09:32 AM (IST)
केजीएमयू में एमबीबीएस-बीडीएस 2019 के छात्रों ने 2020 के छात्रों को दी फेयरवेल पार्टी।

लखनऊ, जागरण संवाददाता। अक्‍सर सीनियर से डरने वाले जूनियर मेडिकोज आज एक दूसरे से खुलकर मिल रहे थे। केजीएमयू में बदला बदला माहौल दिख रहा था। सीनियर व जूनियर छात्र एक-दूसरे के आमने-सामने थे। सीनियर छात्र-छात्राओं ने जूनियर छात्रों को गले लगाया, क्योंकि ये खास अवसर फेयरवेल पार्टी का जो था। इस मौके पर सीनियर जूनियर का खौफ भूलकर एक दूसरे को गले लगाया और जमकर डांस किया। वहीं टीचर्स ने भी स्‍टूडेंट्स के साथ मिलकर इंज्‍वाय किया।

कलाम सेंटर में एमबीबीएस-बीडीएस 2019 के छात्रों ने 2020 के छात्रों को फेयरवेल पार्टी दी गई। इसके साथ ही परिसर में रैङ्क्षगग का खौफ जूनियर छात्र-छात्राओं के मन से निकल गया। फेयरवेल पार्टी में छात्र-छात्राएं गाने की धुन पर थिरके। कुलपति डॉ. बिपिन पुरी ने कहा कि सीनियर छात्रों से जूनियर को बिल्कुल नहीं घबराना चाहिए। सीनियर से हमेशा जूनियर्स को सीखने को मिलता हैं। उनसे जानकारी हासिल करें। उनके मार्गदर्शन से मेहनत की प्रेरणा मिलती है। वहीं सीनियर्स को भी जूनियर्स का सहयोग करना चाहिए। उनकी बढ़कर मदद करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि केजीएमयू का अपना एक गौरवशाली इतिहास है। यहां से पढ़ाई करने वाले डॉक्टर देश-दुनिया में फेले हुए हैं। वे अपनी कबलियत के बूते केजीएमयू का नाम रोशन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केजीएमयू एक ब्रांड नेम है। जो स्‍टूडेंट्स यहां से पढ़कर निकल रहे हैं आगे उनकी पहचान इसी नाम से होगी। कार्यक्रम में जॉर्जियन एलुमनाई एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. एएम कार, प्रति कुलपति डॉ. विनीत शर्मा, डॉ. आरके दीक्षित, चीफ प्रॉक्टर डॉ. क्षितिज श्रीवास्तव, डॉ. राजा रूपानी, डॉ. आरके दीवान व अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।

छात्र-छात्राएं सम्मानित: मिस्टर फ्रेशर का खिताब आलोक वशिष्ठ को मिला। मिस फ्रेशर चेतना ङ्क्षसह बनी। बेस्ट टियारा अवार्ड से मेहजूविनो नखरों को नवाजा गया। बेस्ट टोपी अवार्ड बॉबी पटेल के नाम रहा। बेस्ट फोटोग्राफर आयुष प्रसाद, बेस्ट वीडियोग्राफर रचना ङ्क्षसह, बेस्ट मीमर विजयेंद्र शर्मा रहे।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.