Roadways workers protest: लखनऊ में एसी जनरथ बस चालक न‍िलंब‍ित, रोडवेज कर्मियों ने की हड़ताल

Roadways workers protest निलंबन की जानकारी होते ही डिपो के चालक-परिचालक समेत अन्य कर्मचारी विरोध प्रदर्शन करने लगे। इससे शुक्रवार सुबह से जनरथ बसों का संचालन ठप हो गया। कई रूटों पर बसों का संचालन शाम तक ठप रहा। 40 बसें नहीं निकलीं।

Anurag GuptaFri, 10 Sep 2021 06:24 PM (IST)
Roadways workers protest: नियमित बस ड्राइवर को निलंबित करते हुए जांच रिपोर्ट सौंपी।

लखनऊ, जागरण संवाददाता। वातानुकूलित जनरथ बस में आग लगने के मामले की जांच रिपोर्ट शुक्रवार को आ गई है। रिपोर्ट में अवध बस डिपो के नियमित चालक छंगाराम को दोषी पाया गया है। दोष मिलने पर सेवा प्रबंधक को चालक ने निलंबित कर दिया है। इससे कर्मचारी भड़क उठे। निलंबन की जानकारी होते ही डिपो के चालक-परिचालक समेत अन्य कर्मचारी विरोध प्रदर्शन करने लगे। इससे शुक्रवार सुबह से जनरथ बसों का संचालन ठप हो गया। कई रूटों पर बसों का संचालन शाम तक ठप रहा। 40 बसें नहीं निकलीं। इससे रोडवेज को करीब 10 लाख रुपये का नुकसान हुआ है। शाम पांच बजे कर्मचारी और अधिकारियों के बीच वार्ता में मुख्यालय से जांच कराए जाने के आश्वासन के बाद बसों का संचालन शुरू हो सका। धरना प्रदर्शन कर रहे कर्मियों का आरोप है कि बस में आग लगने के जिम्मेदार कर्मचारी नहीं अधिकारी हैं। बसों का फिटनेस समय से नहीं किया गया। इसी वजह से बस में आग लगी है। कर्मचारियों ने सेवा प्रबंधक से एआरएम को निलंबित करने की मांग की है।

हड़ताल से प्रभावित रहे आधा दर्जन रूट, बसें की रद : निलंबन की सूचना मिलते ही कर्मचारी एकत्र होने लगे। शुक्रवार सुबह दस बजे के बाद बसें डिपो से नहीं निकलीं। इससे गोरखपुर, वाराणसी, प्रयागराज, दिल्ली, देहरादून, आगरा रूट की बसें मार्गों पर नहीं निकल पाईं। बसों को रद्द कर ऑनलाइन सीटों की बुकिंग कराने वाले यात्रियों को मैसेज भेजकर किराये का रिफंड एक सप्ताह में वापस भेजने की बात उन्हें बताई गईं।

तत्काल टिकट वाले यात्री रहे परेशान : कैसरबाग और आलमबाग टर्मिनल से तत्काल में टिकट लेकर जनरथ बस से सफर करने वाले यात्री परेशान हुए। टिकट लेने के बाद बसें नहीं आईं । परेशान यात्री काउंटर पर बसों की जानकारी करते नजर आए। पूछताछ काउंटर से बसों के रद किए जाने की जानकारी यात्रियों को दी गई।

इंजन चालू कर लगा दिया था ड्राइवर ने हैंड ब्रेक : सेवा प्रबंधक विक्रम जीत सिंह ने बताया कि जांच में ड्राइवर बस का इंजन चालू करके हैंड ब्रेक लगाकर गायब हो गया। इससे सेल्फ गरम होता चला गया। इससे कुछ देर बाद तार गले और करंट फैला। इससे वायरिंग में शार्ट सर्किट के बाद बस में आग लग गई। सोमवार को मामला क्षेत्रीय प्रबंधक के समक्ष लाया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.