UP Assembly Election 2022: युवाओं और किसानों पर केंद्रित होगा रालोद का घोषणा पत्र, इंटरनेट मीडिया पर भी ली जाएगी रायशुमारी

विधानसभा चुनाव की रणनीति बनाने में जुटे राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) ने गुरुवार को अपनी मुहिम तेज करते हुए घोषणा पत्र तैयार करने के लिए गठित लोक संकल्प समिति की पहली बैठक की। इसमें तय हुआ कि रालोद का घोषणा पत्र युवाओं और किसानों पर केंद्रित होगा।

Vikas MishraFri, 06 Aug 2021 10:07 AM (IST)
नई दिल्ली में हुई इस बैठक में समाज के विभिन्न वर्गों से जुड़े बुद्धिजीवियों से भी रायशुमारी की गई।

लखनऊ, राज्य ब्यूरो। विधानसभा चुनाव की रणनीति बनाने में जुटे राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) ने गुरुवार को अपनी मुहिम तेज करते हुए घोषणा पत्र तैयार करने के लिए गठित लोक संकल्प समिति की पहली बैठक की। इसमें तय हुआ कि रालोद का घोषणा पत्र युवाओं और किसानों पर केंद्रित होगा। जनता के मुद्दे तय करने के लिए अगले एक माह में लोक संकल्प संवाद कार्यक्रम विभिन्न जिलों में आयोजित किए जाएंगे। 

नई दिल्ली में हुई इस बैठक में समाज के विभिन्न वर्गों से जुड़े बुद्धिजीवियों से भी रायशुमारी की गई। रालोद आगामी विधानसभा चुनाव हाईटेक तरीके से लड़ेगा। लोक संकल्प समिति जनता के सुझाव टि्वटर, फेसबुक, वाट्सएप और ई-मेल के जरिये भी लेगी। इन सुझावों से ही लोक संकल्प-2022 आकार लेगा। इसके बाद रालोद अपना चुनावी एजेंडा तैयार करेगा। लोक संकल्प समिति का उद्देश्य युवाओं को रोजगार, कृषि क्षेत्र में सुधार व किसान-मजदूर का कल्याण, सभी के लिए स्वास्थ्य और शिक्षा की बेहतर व्यवस्था, सामाजिक न्याय, महिला सुरक्षा और धर्मनिरपेक्षता के मुद्दों को उठाकर सभी वर्गों की लड़ाई लड़ना है। 

इस मौके पर रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने कहा कि युवा और किसान लोक संकल्प 2022 के केंद्र ङ्क्षबदु होंगे। लोक संकल्प समिति अपनी विकासवादी सोच को लेकर जनता के बीच जाकर रायशुमारी करेगी। समिति के अध्यक्ष डा.यशवीर सिंह ने बताया कि सात अगस्त को गाजीपुर बार्डर पर किसानों के बीच जाकर रायशुमारी की जाएगी। समिति के सह अध्यक्ष व पूर्व विधायक प्रो. अजय कुमार ने कहा कि लोक संकल्प संवाद कार्यक्रम उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में आयोजित होंगे। सूत्रों के मुताबिक, रालोद अध्यक्ष आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को छोड़ अन्य किसी भी पार्टी से गठबंधन की बात कह चुके हैं। इस संबंध में जयंत चौधरी की सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से भी मुलाकात हो चुकी है। हालांकि, रालोद ने अभी आधिकारिक रूप से अपना पत्ता नहीं खोला है। उधर, कांग्रेस भी जयंत को अपने साथ लाने के प्रयास में है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.