Youth died of electrocution: गोंडा में बिजली ठीक करने पोल पर चढ़ा प्राइवेट कर्मी करंट से झुलसा, मौत

पोल पर चढ़कर लाइन जोड़ते समय करंट लगने से एक प्राइवेट कर्मी झुलस गया। आनन-फानन उसे जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। विद्यानगर फीडर के फरेंदा चौराहे पर लाइन खराब होने की सूचना मिली।

Vikas MishraSun, 19 Sep 2021 03:37 PM (IST)
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार करंट लगते ही गुड्डू पोल से नीचे आ गिरा और गंभीर रूप से घायल हो गया।

गोंडा, संवाद सूत्र। पोल पर चढ़कर लाइन जोड़ते समय करंट लगने से एक प्राइवेट कर्मी झुलस गया। आनन-फानन उसे जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। विद्यानगर फीडर के फरेंदा चौराहे पर लाइन खराब होने की सूचना मिली। बताया जा रहा है कि लाइनमैन परमात्मा ने पावर हाउस से शटडाउन लिया। सहयोगी प्राइवेट कर्मी गुड्डू यादव निवासी ग्राम बंदरहा दुमचीपुर मनकापुर पोल पर चढ़कर लाइन दुरुस्त कर रहा था, तभी अचानक करंट आ गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार करंट लगते ही गुड्डू पोल से नीचे आ गिरा। वहां मौजूद लोगों ने उसे चिकित्सालय पहुंचाया। यहां डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। लोगों का कहना है कि वह अक्सर ही लाइन खराब होने पर शिकायत के बाद लाइनमैन के साथ आता था। अवर अभियंता बृजेंद्र यादव ने बताया कि मृतक व्यक्ति का विभाग से कोई सरोकार नहीं है। शटडाउन लेने व बिजली आपूर्ति चालू करने को लेकर जांच की जा रही है। 

पहले भी हो चुका है हादसाः गत दिवस कटरा बाजार में उपकेंद्र का वैक्यूम फट जाने से एक कर्मचारी घायल हो गया था। इससे पहले कर्नलगंज में भी शटडाउन के दौरान अचानक लाइन चालू कर देने से कर्मचारी घायल हो चुके हैं। एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी। इस सबके बाद भी इस पर प्रभावी नियंत्रण नहीं हो पा रहा है। मनमाने

ढंग से शटडाउन ले लिया जाता है। हालांकि, इस दौरान बिजली विभाग के जेई और एसडीओ को विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है, मगर दुर्भाग्यवश ऐसा नहीं हो पा रहा है। इसलिए ऐसी घटनाओं में इजाफा हो रही है। 

बोले जिम्मेदारः जिस भी कर्मचारी को रखा गया है वह अपनी जिम्मेदारी स्वयं निभाए। मनकापुर के मामले में लाइनमैन के दूसरे से काम लेने की बात सामने आ रही है। इसको लेकर अवर अभियंता को जांच का निर्देश दिया गया है। रिपोर्ट मिलने पर श्रमिक आपूर्ति कर रही फर्म को ऐसे कर्मी को हटाने का निर्देश दिया जाएगा। -रमेश चंद्रा, अधीक्षण अभियंता बिजली

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.