लखनऊ में दबंगों ने गर्भवती के पेट पर मारी लात, वीडियो वायरल होने के बाद जागी पुलिस

लखनऊ में बीते शनिवार की शाम सरोजनीनगर के बदालीखेड़ा में दबंग पिता-पुत्र समेत पांच से छह लोगों ने मजदूर शत्रुघन के घर पर हमला बोल दिया। हमले में शत्रुघन की पत्नी और छोटी बेटी को दौड़ाकर पीटा। गर्भवती बड़ी बेटी के पेट में लात मार दी।

Vikas MishraSun, 20 Jun 2021 05:16 PM (IST)
लखनऊ में दबंग पिता-पुत्र समेत पांच से छह लोगों ने मजदूर शत्रुघन के घर पर हमला किया।

लखनऊ, जेएनएन। राजधानी लखनऊ में महिला सशक्तिकरण की धज्जियां उड़ रही हैं। बीते शनिवार की शाम सरोजनीनगर के बदालीखेड़ा में पड़ोस में रहने वाले दबंग पिता-पुत्र समेत पांच से छह लोगों ने मजदूर शत्रुघन के घर पर मामूली बात पर हमला बोल दिया। हमले के दौरान शत्रुघन की पत्नी और छोटी बेटी को दौड़ाकर पीटा। गर्भवती बड़ी बेटी के पेट में लात मार दी और सिर पर लोहे के राड से प्रहार किया। पीड़ित परिवार फरियाद लेकर थाने पहुंचा तो पुलिस ने टरका दिया।

रविवार को जब इंटरनेट मीडिया पर हमलावरों की पिटाई का वीडियो वायरल हुआ। मामले की जानकारी होने पर पुलिस कमिश्नर ने संज्ञान लिया और तत्काल कार्यवाही के निर्देश दिए। इसके बाद हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। बदालीखेड़ा निवासी शत्रुघन राय के मुताबिक उनका बेटा मयंक राय भोपाल में रहता है। बीते कई दिनों से पड़ोस में रहने वाला राजा अपने मोबाइल पर एक रिकार्डिंग सुना रहा था। जिसमें एक लड़की किसी लड़के से बात कर रही है। राजा के मुताबिक लड़की उनके बेटे मयंक से बात कर रही है।

राजा, मयंक पर गलत आरोप लगाकर उसे बदनाम करने की कोशिश कर रहा था। शत्रुघन ने बताया कि उन्होंने अपने बेटे से बात की तो बेटे ने कहा कि वह किसी लड़की से बात नहीं करता है। सारे आरोप निराधार हैं। इस पर शनिवार शाम शिकायत लेकर राजा के पिता अर्जुन के पास पहुंचा। शिकायत की तो अर्जुन आग बबूला हो गए और गाली-गलौज करने लगे। विरोध पर अर्जुन का बेटा राजा, विष्णु, प्रभु और बोखी निकला। यह सब लोग पीटने लगे। शोर सुनकर पत्नी लक्ष्मी राय, गर्भवती बेटी शांति, छोटी बेटी रोशनी और भाई बचाव में दौड़ा तो अर्जुन और उनके बेटों ने लाठी-डंडों से हमला बोल दिया।

हमले के दौरान राजा और विष्णु ने गर्भवती बहन शांति के पेट पर लात मार दी। लोहे के राड से उसके सिर पर प्रहार किया। हमले से मां और बहनें अचेत हो गई। शोर सुनकर आस पड़ोस के लोग दौड़े उन्होंने बीच बचाव किया तो हमलवार शांत हुए और चले गए। शत्रुघन ने बताया कि वह तहरीर लेकर थाने पहुंचे तो पुलिस ने टरका दिया। मुकदमा नहीं दर्ज किया। क्योंकि अर्जुन का क्षेत्र में काफी प्रभाव है। रविवार सुबह मंगल भोपाल से आया वह थाने तहरीर लेकर पहुंचा। फिर भी पुलिस ने सुनवाई नहीं की।

इसके बाद हमलावरों की पिटाई की वीडियो इंटनरेट मीडिया और ट्विटर पर वायरल कर न्याय की मांग की। इसके बाद पुलिस कमिश्नर के आदेश पर हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। इंस्पेक्टर सरोजनीनगर महेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि मैं छुट्टी पर था आज ही ज्वाइन किया हूं। पीड़ित पक्ष जैसे ही सुबह मिला उसकी तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर दो हमलावरों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। जबिक अन्य की तलाश की जा रही है। दोनों पक्ष रिश्तेदार हैं और कोलकाता के रहने वाले हैं। काफी समय से उनके बीच विवाद चल रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.